चैनल वन प्रबंधन ने सेलरी मांगने पर अपने मीडियाकर्मी की जमकर पिटाई की

चैनल वन नामक न्यूज चैनल से सूचना है कि यहां कार्यरत मीडियाकर्मी आयुष तिवारी ने जब दो महीने की रुकी हुई सेलरी की मांग की तो प्रबंधन ने बुरी तरह पिटाई करवा दी. Channel One का संचालन पिता-पुत्र जहीर अहमद और काशिफ अहमद करते हैं. इन दोनों पर पहले भी कई तरह के गंभीर आरोप लग चुके हैं. जानकारी के अनुसार करीब 2 महीनों से रुकी सेलरी की मांग करने पर चैनल प्रबंधन ने अचानक आयुष तिवारी को सभी दस्तावेज़ किसी नए कर्मचारी को सौंपने के लिए कह दिया. 

आयुष ने ऐसा करने से मना कर दिया. आयुष ने कहा कि पहले सैलरी का हिसाब पूरा करो और 6 महीनों से रुके ऑफ़र लेटर को दो, उसके बाद दस्तावेज़ सुपुर्द कर दूँगा. इस मुद्दे को लेकर कई घंटों तक बहस चली. आयुष को झूठे आरोपों में फ़साने तक की धमकी दी गई. आयुष ने बाहर जाना चाहा तो गार्ड ने उसे रोक दिया और कहा आपको बाहर नहीं जाने दिया जाएगा, मालिक ने मना किया है.

आरोप है कि बाद में चैनल प्रबंधन के लोगों ने आयुष की पिटाई की. आयुष को तीसरे माले पर ले जाया गया. आयुष के मुताबिक़ बिल्डिंग में लगे cctv कैमरे में धक्का मुक्की और ज़बरन ऊपर ले जाते हुए तस्वीरें क़ैद हैं. तीसरे माले पर ले जाकर आयुष को कपड़े उतारने को कहा गया. उसे पूरी तरह निर्वस्त्र कर दिया गया. आरोपों के मुताबिक काशिफ़, उसके पिता और भाई ने आयुष के हाथ पैर बाँधकर डंडा फँसा कर उसे उलटा लटका दिया व नीचे पानी से भरे टब में सर डाल दिया.

आयुष ने बाद में अपने एक मित्र को फ़ोन कर पुलिस को सूचित करने के लिए कहा. उसके मित्र ने 100 नम्बर पर फ़ोन कर दिया. इसके बाद आयुष के पास एक पुलिस अधिकारी का फ़ोन आया और उन्होंने आयुष से 5 मिनट का समय माँगा. साथ ही कहा कि पुलिस के वाहन पहुँचने पर आपको सुरक्षित निकाल लिया जाएगा. इस बीच आयुष का फ़ोन छीन लिया जाता है. तब पुलिस से आयुष का सम्पर्क नहीं हो सका और नोएडा पुलिस के सिपाही वापस चले गए.

काफ़ी देर बाद जब आयुष के बड़े भाई और पिता को मामले की जानकारी आयुष के मित्र से मिली तब उन्होंने आयुष के मित्र से काशिफ़ का फ़ोन नम्बर लिया. काशिफ़ ने उन्हें अभिषेक का नंबर दिया. अभिषेक को फ़ोन करने पर उसने तक़रीबन 3 घंटे तक आयुष के घरवालों को गुमराह किया. उसने आयुष पर चोरी का आरोप लगाते हुए अब सब कुछ ठीक होने की बात कही. बाद में किसी तरह आयुष चैनल वन प्रबंधन के चंगुल से रात एक बजे मुक्त हुआ. आरोप है कि ज़हीर अहमद ने आयुष को चुप रहने की धमकी दी और कहा कि ज्यादा बोलोगे तो तुम ही जेल जाओगे. 



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “चैनल वन प्रबंधन ने सेलरी मांगने पर अपने मीडियाकर्मी की जमकर पिटाई की

  • Prabhat Singh says:

    Channel One news channel jaldi se jaldi band hona chahiye. news aur journalism ke naam par sare illegal kaam is channel me hote hai. Mamle ki jaanch ke liye judicial help turant karayi jaye.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code