पत्रकार शशिकांत सिंह को धमकाने वाले भोजपुरी एक्टर निरहुआ के खिलाफ एफआईआर दर्ज

मुंबई : पत्रकार शशिकांत सिंह को घर में घुसकर काट डालने और गाली देने के एक माह पुराने मामले में वसई कोर्ट के दिशा-निर्देश पर और पालघर पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर आज तुलिंज पुलिस ने भोजपुरी अभिनेता दिनेशलाल यादव निरहुआ के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया। तुलिंज पुलिस ने इस मामले में पहले एनसी दर्ज किया था, मगर बाद में वसई कोर्ट ने इस मामले को गंभीरता से लिया और तुलिंज पुलिस को पूरे मामले की जांच का निर्देश देकर रिपोर्ट देने के लिए कहा।

इस जांच के बाद पालघर जनपद के पुलिस अधीक्षक के आदेश पर तुलिंज पुलिस ने भोजपुरी अभिनेता दिनेशलाल यादव निरहुआ के खिलाफ आज एफआईआर दर्ज कर लिया। इस मामले की जांच तुलिंज पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक बेन डेनियल के मार्गदर्शन में सहायक पुलिस निरीक्षक दीपक गिरकर कर रहे हैं।

वरिष्ठ पत्रकार शशिकांत सिंह

इस बारे में मिली जानकारी के मुताबिक, भोजपुरी अभिनेता दिनेशलाल यादव निरहुआ ने 18 जून, 2018 को पत्रकार शशिकांत सिंह को उनके मोबाइल फोन पर गालियां देते हुए उन्हें मुम्बई आते ही घर में घुसकर काट डालने की धमकी दी थी। यह पूरा मामला उनकी भोजपुरी फ़िल्म बॉर्डर और सलमान खान की फ़िल्म रेस 3 के बिजनेस को लेकर जुड़ा था। निरहुआ कैम्प का कहना था कि उनकी फिल्म बॉर्डर बिहार में रेस 3 पर भारी पड़ी है, जिसके बाद शशिकांत सिंह ने फेसबुक पर दोनों फिल्मों का बिजनेस डाल दिया था।

इससे निरहुआ नाराज हो गया और 18 जून को फोन कर शशिकांत सिंह को गाली देते हुए उन्हें घर में घुसकर काट डालने की धमकी दी थी। इस घटना की देश भर के पत्रकार और सामाजिक संगठनों ने जमकर निंदा की थी… ‘चैंबर्स आफ फिल्म जर्नलिस्ट’ (सीएफजे) के अध्यक्ष इंद्र मोहन पन्नू, सचिव धर्मेन्द्र प्रताप सिंह के साथ कार्यकारिणी सदस्य विरेन्द्र मिश्र ‘वीरू’ और पराग छापेकर सहित ‘नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट’ (एनयूजे- महाराष्ट्र) की तत्कालीन महासचिव शीतल करदेकर (वर्तमान में अध्यक्ष) ने शशिकांत सिंह के साथ कदम से कदम मिलाए रखा।

बहरहाल, यह मामला सबसे पहले तुलिंज पुलिस तक पहुंचा तो पुलिस ने निरहुआ के खिलाफ एनसी दर्ज की थी। इसके बाद वसई कोर्ट ने जब इस मामले में जांच का निर्देश दिया, तत्पश्चात जांच हुई तो पालघर पुलिस अधीक्षक के आदेश पर तुलिंज पुलिस ने आज निरहुआ के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। इस मामले की जांच तुलिंज पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक बेन डेनियल के मार्गदर्शन में सहायक पुलिस निरीक्षक दीपक गिरकर कर रहे हैं।



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप ज्वाइन करें-  https://chat.whatsapp.com/JYYJjZdtLQbDSzhajsOCsG

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code