‘भक्तों’ ने दैनिक भास्कर और राहुल कंवल के खिलाफ खोला मोर्चा, ट्विटर पर ट्रेंड कराया

भक्तों को बहुत तेज गुस्सा आता है. गुस्सा आता है तो भक्त लोग एकदम संगठित होकर धावा बोल देते हैं. बिना आगा पीछा सोचे देखे. वैसे सोचने की जरूरत भी क्या है, दिल्ली से लेकर लखनऊ तक में सत्ता तो भक्तों की ही है.

सो, इसी कड़ी में सुसंगठित भक्तों ने राहुल कंवल और दैनिक भास्कर को निशाने पर ले लिया है. ‘बायकाट दैनिक भास्कर’ और ‘राहुल कंवल एक्सपोज्ड’ टाइप के हैशटैग चलाकर इसे ट्रेंड कराने में कामयाब हो गए हैं.

भक्त आखिर क्यों नाराज हैं दैनिक भास्कर और राहुल कंवल से, आइए देखें समझें-

https://twitter.com/Rudra_Aksh27/status/1216552221816446977
https://twitter.com/tapassardar96/status/1216593737469415424
https://twitter.com/gbgandhi88/status/1216587410538143744
https://twitter.com/SushilSancheti9/status/1216591082294669312

Ajit Singh : विशेष सूचना : कृपया पोस्ट को अंत तक पढ़ें, अपने लिए नही देश ले लिए आप से कुछ मांग रहा हूँ ।

11 तारीख शनिवार को ग्वालियर में CAA के समर्थन में रैली हुई, हज़ारों लाखो की संख्या में लोग जुटे, किसी पार्टी का तले नही बल्कि राष्ट्रवाद के भारत ध्वज तले, भगवा ध्वज तले, मंच पर कोई नेता नही था, आम जन थे ।
मैंने रैली के 4 लाइव किये जिसमें से 3 अभी भी मेरे पेज और ID पर मौजूद हैं, जो तकरीबन 14 मिनट और 10 मिनट के हैं, जल्दी जल्दी आगे बढ़ते लोग दिखेंगे, आप 14 मिनट में कितना चल लेते हैं?? 500 मीटर या उस से ज़्यादा??

रैली 4 किलोमीटर लंबी थी, लेकिन दैनिक भास्कर को सिर्फ 500 मीटर लंबी ही दिखी, बिस्कुट और स्पेशल पेय पदार्थ ज़िंदाबाद, खुद भास्कर ने जो तस्वीर छापी उसमें किलोमीटर लम्बी रैली दिख रही है, उसी फोटो में स्वामी विवेकानंद की फोटो दिखाई दे रही है, मेरे लाइव को दोबारा देखिए सबसे आगे भारत माता का फोटो था फिर बाबा साहब भीमराव रामजी का फ़ोटो था और आखिरी में स्वामी विवेकानंद का फोटो था, दैनिक भास्कर ने बड़ी ही चतुराई से रैली ला आखिरी हिस्सा लिया, लेकिन वो भी किलोमीटर लम्बा था, पूरी रैली 4 किलोमीटर लंबी थी, वो भी सड़क भर कर ।

मैं दैनिक भास्कर ग्रुप को चुनौती देता हूँ वो रैली को 500 मीटर का साबित करे मैं भास्कर को 500 करोड़ का इनाम दूँगा, झूठ और फरेब की नींव पर खड़े भास्कर के बिकाऊ पालतुओं को शर्म आनी चाहिए, भास्कर समूह में दम है तो चुनौती स्वीकार करें वर्ना गलत और दुर्भावना पूर्ण रिपोर्टिंग के लिए देश से माफी मांगे, ऐसा भास्कर ने पहली बार नही किया है, बल्कि लगातार सालो से हिन्दू त्यौहारों पर, हिन्दू संतों पर गलत रिपोर्टिंग करता आ रहा है, समय आ गया है भास्कर को राष्ट्रवादी ताकत दिखाने का ।

भास्कर बहुत बड़ा समूह है, उसे लगता है हम उसका कुछ नही बिगाड़ सकते, सही भी है, लेकिन हम दैनिक भास्कर लेना बंद कर के देशविरोधी ताकतों को जवाब तो दे ही सकते हैं ।

इसी कड़ी में आज दोपहर ठीक 2:00 ट्विटर पर हैशटैग BoycottDainikBhaskar को ट्रेंड करवाना है, क्योकि ट्विटर पावरफुल है और फेसबुक पर कोई ध्यान नही देता, समय का विशेष ध्यान रखें दोपहर ठीक 2 बजे ।

ये मेरा हैशटैग नही है बल्कि आप सबका है, देश का हैशटैग है, इसलिए आप सभी से निवेदन है आपसी मतभेद भुला कर इस हैशटैग को दोपहर 2 बजे ट्रेंड करवाएं, एक व्यक्ति एक बार मे 50-50 ट्वीट करे इस हैशटैग के साथ, आपकी सुविधा के लिए कुछ बने बनाये ट्वीट भी नीचे पेस्ट कर रहा हूँ, एक एक ट्वीट को एक बार में ट्वीट करें और इस मुहिम को अंजाम तक पहुचाएं ।

Twitter Trend Alert
Date : 13/01/2020
Time 2:00PM
BoycottDainikBhaskar

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *