हिंदू धर्म को बदनाम करने का आरोप लगा मिर्जापुर-2 के खिलाफ कोर्ट में केस दायर किया

न्यायालय श्रीमान सीजीएम महोदय लखनऊ

शमशेर यादव जगराना राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कृष्ण सेना उत्तर प्रदेश भारत निवासी कल्ली पश्चिम थाना पीजीआई जनपद लखनऊ

प्रार्थी / वादी

बनाम
निर्माता-निर्देशक मिर्जापुर सीजन 2 वेब सीरिज
फरहान अख्तर प्रोडक्शन हाउस एक्सेल इंटरटेनमेंट मुंबई
रितेश सिधवानी
गुरमीत सिंह निर्देशक मिर्जापुर सीजन दो
पंकज त्रिपाठी काल्पनिक नाम कालीन भैया
राजेश तैलंग काल्पनिक नाम रमाकांत पंडित
अली फजल
श्वेता त्रिपाठी शर्मा
रसिका दुग्गल
ईशा तलवार (काल्पनिक नाम माधुरी पुत्री सूर्यप्रताप यादव)
मिहिर देसाई
अन्य
समस्त कलाकार मिर्जापुर सीजन दो वेब सीरीज

मुख्य प्रबंधक निदेशक अमेजॉन प्राइम वीडियो
विपक्षीगण/ प्रतिवादी गण

वाद संख्या – .
अन्तर्गत धारा –156(3) सी०आर०पी० सी०
थाना – हजरतगंज, लखनऊ

प्रार्थना पत्र अंतर्गत धारा 156 (3) दंड प्रक्रिया संहिता
महोदय

प्रार्थी वादी माननीय उच्च न्यायलय लखनऊ में अधिवक्ता सहित एक सामाजिक कार्यकर्ता है जो छात्र, किसान,महिला,गरीबी अशिक्षा, भुखमरी सहित तमाम सामजिक बुराइयों के खिलाफ क़ानूनी दायरे में आवाज उठाता रहता है जिसका निम्न वत कथन व निवेदन है:-

यह कि उपरोक्त विपक्षी गण ने प्रोडक्शन हाउस एक्सेल इंटरटेनमेंट मुंबई के बैनर तले उसके निर्माता निर्देशक मुख्य कार्यकारी व्यवस्थापक वह अभिनेता अभिनेत्रियों द्वारा मिर्जापुर सीजन 2 वेब सीरीज के माध्यम से अपराधिक कृत्य करते हुए हिन्दू धर्मं , भारतीय संस्कृति को बदनाम कर हिन्दू धर्मावलम्बियों व मिर्जापुर सहित उत्तर प्रदेश बिहार के लोंगों का गतल छवि पेश कर आपराधिक कृत्य किया गया है|

यह की फरहान अख्तर, रितेश सिधवानी गुरमीत सिंह पंकज त्रिपाठी, राजेश तैलंग ,अली फजल, श्वेता त्रिपाठी शर्मा, रसिका दुग्गल, मिहिर देसाई सहित तमाम अपराधिक लोगों द्वारा सामाजिक परिवार की आदर्श संरचना पिता पुत्र बहू के संबंधों में नापाक रिश्ते / नाजायज संबंधों को गलत तरीके से पैसा कमाने के उद्धेश्य से खुलेआम प्रयोग दिखाकर नितांत अपराधिक कृत्य किया गया है|

यह कि उक्त वेब सीरीज में नई नवेली दुल्हन पर ससुर द्वारा गंदी नियत दिखाया गया है तथा बहू से ससुर का अंतरंग संबंध दिखाते हुए यह साबित करने का प्रयास किया गया है कि मिर्जापुर सहित उत्तर प्रदेश बिहार में अक्सर बहुओं से ससुर का अवैध संबंध रहता है जो कि गलत तथा नितान्त आपराधिक कृत्य किया गया है|

यह कि उक्त वेब सीरीज में वेब सीरीज में दिखाया गया है कि उत्तर प्रदेश बिहार के लड़के हंसी मजाक में भी सामान्यतया एक दूसरे को मां बहन की गंदी गंदी गालियां देते रहते हैं|

यह के मिर्जापुर 2 वेब सीरीज में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की विधवा बेटी से गुंडा बदमाश से प्रेम प्रसंग दिखाकर जाति व धर्मों में लड़ाई कराने का कुचक्र कराया गया है जो नितांत गंभीर अपराधिक कृत्य है|

यह की उक्त वेब सीरीज में ब्राह्मण ससुर द्वारा अपने बहू के ऊपर गंदी नियत वह अंतरंग संबंध को प्रदर्शित कर सनातन धर्म के संवाहक शिक्षा व संस्कार की पृष्ठभूमि रचने वाले ब्राह्मण समुदाय के मान सम्मान को धूल धुशरित करते हुए सामाजिक मान्यता को समाप्त किए जाने का षड़यंत्र रचा गया है जो नितांत एक गंभीर अपराधिक कृत्य है|

यह की मिर्जापुर सीजन 2 में बढ़ा चढ़ा कर मिर्जापुर क्षेत्र सहित उत्तर प्रदेश बिहार के भोजपुरी भाषी क्षेत्र को अत्यंत अपराधिक क्षेत्र के रूप में प्रदर्शित कर यहां बाहरी कारपोरेट व्यवसाई टूरिस्ट के अंदर भय पैदा करने का साशय कपटपूर्वक षड़यंत्र किया गया है जिसको लेकर मिर्जापुर के सांसद श्रीमती अनुप्रिया पटेल सहित तमाम सभ्रांत लोगों ने आपत्ति व रोष दर्ज करायी है|

यह की गद्दी के लिए कालीन भैया और मुन्ना पंडित में बहुत वीभत्स भिड़ंत भद्दी भद्दी गालियों समेत दिखाया गया है तथा गुड्डू पंडित और शरद शुक्ला में बदले की आग को लेकर जिस तरह से मिर्जापुर सहित उत्तर प्रदेश बिहार के भोजपुरी भाषी क्षेत्र में गुंडाराज, आतंकवाद और दहशत का माहौल दिखाया गया है जिससे सुदूर क्षेत्रों में नितांत भयावह स्थिति पैदा करने का प्रयास किया गया है जिससे मिर्जापुर सहित उत्तर प्रदेश बिहार के भोजपुरी भाषी क्षेत्र तथा ब्राह्मण परिवारों से देश – प्रदेश में लोग गलत छवि प्रदर्शित किए जाने से नौकरी सहित आवास आदि देने से मना कर रहे हैं|

यह की मिर्जापुर सीजन 2 इस कदर अपराधिक कृत्य से भरा हुआ है कि धब्बा उपन्यास के लेखक उपन्यासकार सुरेंद्र मोहन पाठक की छवि धूमिल किए जाने को स्वीकार करते हुए निर्देशक द्वारा उपन्यास कार सुरेंद्र मोहन पाठक से सार्वजनिक रूप से माफी मांग कर उक्त संबंधित दृश्य को हटाने का काम किया है परन्तु अन्य आपतिजनक दृश्य व संवाद को न हटाकर आपराधिक कृत्य किया गया है|

यह की उक्त वेब सीरीज में किसी विदेशी ताकत मुस्लिम आक्रांता आतंकवादी संगठन द्वारा पैसा लगाने की आशंका है क्योंकि उक्त वेब सीरीज में पूर्ण रूप से हिंदू धर्म हिंदू धर्म परिवार हिंदू धर्म की विधवाओं को विद्रूप रूप से पेश कर महिला सम्मान को अपमानित करते हुए धार्मिक मान्यता, बदनाम करने का आपराधिक षड़यंत्र किया गया है जो एक गंभीर अपराध है|

यह की उक्त वेब सीरीज में किसी आतंकवादी संगठन /आक्रांता, धन निवेश करने वाले की मंशा, भारतीय परिवार, शिक्षा संस्कार, हिन्दू धर्म को बदनाम करने के लिए हवाला के माध्यम से धन निवेश किया गया है तथा उक्त वेब सीरीज में हिंदू धर्म की विधवाओं के गेट अप में वेश्याओं को पेश किया गया है जो तुरंत कपड़े फेंक कर अश्लील नृत्य करने लगती हैं | जो की निर्माता, निर्देशक, निवेशक सहित अन्य लोंगों द्वारा हिन्दू धर्मं सहित विधवाओं, महिलाओं के मान – सम्मान गौरव के साथ खिलवाड़ कर गलत तरीके से उसे प्रदर्शित कर धन कमाया जा रहा है जो नितांत गलत वह एक अपराधिक कृत्य है|

यह की उक्त वेब सीरीज प्रार्थी बी ब्लॉक दारुल सफा विधायक निवास थाना हजरतगंज क्षेत्र में देखा, जिसे देखकर प्रार्थी की धार्मिक, पारिवारिक, सामाजिक, देशप्रेम की आस्था व स्थानीय आस्था आहत हुई जिसका क्षेत्राधिकार न्यायालय श्रीमान के अंतर्गत आता है|

यह कि उक्त अपराधिक कृत्य की विपक्षी गणों के विरुद्ध प्रार्थी हजरतगंज थाना में दिनांक 25/10/2020 को व्यक्तिगत प्रार्थना पत्र दिया परंतु कोई प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई जिसके बाद प्रार्थी पुलिस कमिश्नर लखनऊ को प्रार्थना पत्र दिया परंतु अभी तक प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई उक्त प्रार्थना पत्र की प्रतिलिपि इस प्रार्थना पत्र के साथ संलग्न है|

अत: न्यायालय श्रीमान से प्रार्थना है कि उक्त तथ्यों कारणों परिस्थितियों को देखते हुए वेब सीरीज मिर्जापुर सीजन 2 के निर्माता, निर्देशक, प्रोड्यूसर व संबंधित अभिनेता अभिनेत्रियों के विरुद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज किए जाने का आदेश पारित करने की कृपा करें|

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *