रतनलाल जोशी स्मृति शताब्दी समारोह में मूल्यपरक पत्रकारिता की वकालत

राजगढ़ (म.प्र.) : वरिष्ठ पत्रकार महेश श्रीवास्तव ने कहा कि पत्रकारिता क्षेत्र में आने वालों को यह समझना होगा कि वे इस क्षेत्र में क्यों आना चाहते हैं. यदि पत्रकार बनकर रौब झाड़ऩे अथवा बड़े लोगों से सम्पर्क बनाकर स्वार्थ प्राप्ति की ही धारणा है तो इस उद्देश्य के साथ इस पेशे में आने  से बचना चाहिये. आज की पत्रकारिता खतरनाक है. जो व्यक्ति अपने स्वार्थों को तिलांजलि देकर कांटे भरे रास्तों में अंधेरे में चलने की हिम्मत रखता है, समाज को कुछ देने की लालसा रखता है, उसे ही आगे आना चाहिये. पत्रकारिता के माध्यम से हम सकारात्मक कार्य करते हुए अपने जीवन को धन्य बना सकते है. 

जिला प्रेस क्लब के तत्वावधान में राजगढ़ जिला मुख्यालय पर होटल संस्कृति में आयोजित रतनलाल जोशी जन्म शताब्दी समारोह को संबोधित करते हुए श्रीवास्तव ने कहा कि पत्रकार को समाज की नब्ज पर हाथ रखकर पत्रकारिता करना चाहिये. इसके लिये उसे अपनी संस्कृति, सभ्यता, आध्यात्म का अध्ययन करते हुए यह महसूस करना चाहिये कि हमें इस अचेतन मन से कुछ बेहतर करने की प्रेरणा अगर मिल रही है तो हमारा कदम समाज हित में किस तरह से सामने आयेगा. साथ ही हमे समाज जिस भाषा में बोलता और समझता है उसी भाषा में लिखना चाहिये. 

उन्होंने  जिले के सुदूर अंचलों में काम करने वाले संवाददाताओं, पत्रकारों की वस्तुस्थिति को एक शेर के माध्यम से प्रस्तुत किया. उन्होंने कहा कि किसी शायर ने लिखा है कि – उसकी दुनिया है अंधेरे से घिरी हुई उतनी ही, दूर से जितनी चमकदार नजर आती है. पत्रकारों को मूल्य पर आधारित पत्रकारिता करने के लिये अपनी कीमत भी बनाकर चलना पड़ेगी. हमारा लक्ष्य पत्रकारिता धर्म की कैसे जीत हो यह होना चाहिये. यह तभी संभव होगा जब हम अपनी हर कीमत और मूल्य चुकाने को तैयार होंगे.  श्रीवास्तव ने जिला प्रेस क्लब के इस आयोजन की सराहना की.

भगवतशरण माथुर ने कहा कि वर्तमान दौर में मूल्य आधारित पत्रकारिता ही नहीं अन्य क्षेत्रो में भी बात करना बैमानी लगती है. क्योंकि यह दौर मूल्यों की गिरावट की प्रतिस्पर्धा का दौर है. इसमें सभी दोषी है. मूल्यों पर चलने के लिये हिम्मत, ताकत, आत्मविश्वास रखते हुए कार्य करने की जरुरत है. देश का वातावरण जिस प्रकार से कलुषित और संघर्षमय हो रहा है उसमें मूल्यों को जीवित रखना बड़ा कार्य है. यद्यपि जीवन में संतुष्टि मूल्य आधारित कार्यो से ही मिलेगी. आपातकाल के बाद से शुरु हुआ अवमूल्यन का दौर आज भी जारी है. मूल्यों को बचाने का कार्य सभी का है. सभी को जो जिस क्षेत्र में अपना कार्य कर रहा है उसे इनकी चिंता करना चाहिये.

सांसद रोडमल नागर ने कहा कि अपने सकारात्मक कार्यो से ही जीवन मूल्यों को बचाया जा सकता है. उन्होंने कहा कि जो जिस क्षेत्र में है उसे अपने दायित्वों का निर्वहन प्रतिदिन ईमानदारी से करते हुए रात्रि को सोते समय कुछ पल के लिये यह विचार जरुर करना चाहिये कि उसके द्वारा किसी का आज अहित तो नहीं किया गया है.  नागर ने कहा कि यह सोचना केवल पत्रकारों को

नहीं बल्कि अधिकारी, जनप्रतिनिधि अथवा किसी भी क्षेत्र का व्यक्ति हो सभी को इस दिशा में सोचने की जरुरत है. हमसे कुछ गलत लिखने, बोलने, आदेश देने में कहीं त्रुटि तो नहीं हुई जिससे किसी का दिल दुखा हो. यदि हम यह विचार कर अपने कार्य को करते है तो इसी युक्ति से मूल्यों को पुर्नजीवित किया जा सकता है.

जिला प्रेस क्लब अध्यक्ष गोविन्द बड़ोने ने कहा कि स्व. रतनलाल जोशी को वर्तमान और आने वाली पीढ़ी याद रखे, उनके योगदान का गुणगान करे इस उद्देश्य से प्रेस क्लब ने उनके जन्म शताब्दी वर्ष के अवसर पर यह आयोजन रखने का निर्णय लिया था. यह हम सभी पत्रकारों की और से उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि है.

स्व. रतनलाल जोशी की सुपुत्री शांति शर्मा ने कहा कि पिताश्री के जीवन मूल्य हमारी धरोहर है. जिनकी रक्षा करना हम सभी का कत्र्तव्य है. यह आयोजन उन्हीं की धरोहर को संजोना और संवारने का एक उदाहरण है. इसे सराहनीय कार्य बताते हुए  शर्मा ने जिला प्रेस क्लब को साधुवाद दिया. उन्होंने अपने भाषण में पिता रतनलाल जोशी के जीवन वृत्त को सामने रखते हुए कई ऐसे संस्मरण सुनाये जिनमें उनके व्यक्तित्व की झलक दिखाई देती है. ग्राम ठंढ से लेकर राजगढ़, इलाहबाद, खिलचीपुर, मुंबई, दिल्ली में रहते हुए उनके द्वारा शिक्षा, साहित्य, पत्रकारिता, आजादी के आंदोलन के विभिन्न प्रसंगों को मार्मिकता के साथ प्रस्तुत किया.

समारोह में जिला भाजपाध्यक्ष रघुनंदन शर्मा, जिला इंकाध्यक्ष रामचन्द्र दांगी, विधायक श्री अमर सिंह यादव, नारायण सिंह पंवार, हजारीलाल दांगी, पूर्व राज्यमंत्री बद्रीलाल यादव, जिपं  खुजनेर नपं अध्यक्ष पंकज शर्मा, खिलचीपुर नपं अध्यक्ष डा. दीपक नागर, एडव्होकेट एच.सी.व्यास, जनसम्पर्क के अपर संचालक देवेन्द्र जोशी, जिला जनसम्पर्क अधिकारी अशोक द्विवेदी सहित जिले भर के पत्रकारगण मौजूद थे.

कार्यक्रम में जिले के सभी पत्रकारों ने प्रेस क्लब के तत्वावधान में आयोजित स्व. रतनलाल जोशी जन्म शताब्दी वर्ष समारोह में मौजूद अतिथियों का पुष्पगुच्छ, स्मृति चिन्ह आदि के माध्यम से आत्मीय स्वागत किया. जिला प्रेस क्लब अध्यक्ष गोविन्द बड़ोने ने स्वागत भाषण दिया. जबकि कार्यक्रम का संचालन सत्येन्द्र भारिल्ल ओर आभार भानु ठाकुर ने माना. स्वागत करने वालों में प्रमुख तौर पर प्रेम वर्मा, कमल खस, तनवीर वारसी, ओम व्यास, गोपाल अग्रवाल, पंकज अग्रवाल, राजीव शेखर शर्मा, अभिलाष जोशी, उत्तम शर्मा, गजराज मीणा, संतोष पुष्पद, श्रीनाथ दांगी, राजेश विश्वकर्मा, राकेश भार्गव, राजेश गढ़वाल, प्रकाश विजयवर्गीय, संदीप कटारिया, मुकेश नामदेव,  दिनेश जमींदार,  पुरुषोत्तम वैष्णव, शिव वैद्य, ओम गुप्ता, ओम राठौर, मनीष राठौर आदि कई पत्रकारों ने स्वागत किया.



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप ज्वाइन करें-  https://chat.whatsapp.com/JYYJjZdtLQbDSzhajsOCsG

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code