नईदुनिया इंदौर में रूमनी घोष को फिर मिला सिटी का जिम्मा, आक्रामक रवैये से कई रिपोर्टर परेशान

नईदुनिया इंदौर में बतौर न्यूज एडीटर (सिटी) रूमनी घोष ने वापसी की है. वे रोज रिपोर्टर्स की मार्निंग मीटिंग और शाम को डेस्क कर्मियों की मीटिंग ले रही हैं और अपना पूरा दबदबा दिखा रही हैं. तीन साल पहले दैनिक भास्कर से हटाई गईं रुमनी को श्रवण गर्ग नईदुनिया में ले आए. दिलीप ठाकुर के स्थान पर सिटी चीफ बनाई गईं रूमनी को दो साल बाद पद से हटाकर भोपाल भेज दिया गया. वहां दो महीने के बाद प्रबंधन ने उन्हें वापस बुला लिया.

उन्हें इंदौर में मालवा निमाड़ का काम देखने को कहा गया. बाद में उन्हें इस काम से भी अलग कर दिया गया. श्रवण गर्ग की नईदुनिया से विदाई के बाद रूमनी को एक बार फिर सिटी की वर्किंग में शामिल किया गया है. दूसरी बार सिटी में आने का मौका मिलने के बाद रूमनी काफी एक्टिव हो गई हैं. वे पहले दिन से ही आक्रमक रुख अपनाए हुए हैं. वहीं कुछ रिपोर्टर इन दिनों रूमनी के आक्रामक व्यवहार से काफी परेशान हैं. ये लोग नईदुनिया छोडने का मन बना चुके हैं.



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “नईदुनिया इंदौर में रूमनी घोष को फिर मिला सिटी का जिम्मा, आक्रामक रवैये से कई रिपोर्टर परेशान

  • she is a brilliant reporter and team leader. her behavior is very helpful so this news is wrong and manipulated by someone dishonest worker.

    Reply
  • रूमनी घोष का व्यवहार कितना घटिया है यह उनके साथ काम करने वाले या कर चुके लोग ही बता सकते है। वे बहुत घटिया भाषा मे बात करती है और झुठ भी बोलती है।

    Reply
  • pradeep jain says:

    she is not a team leader. She is a shouter and asks her reporters to bring a story which does not exists. Very sad that an enthusiastic reporter turned into a hollow city chief. Who is responsible? I think system is responsible for it which turned and shaped her carrier this way. She lacks the depth which is required for this post. Spending much time in the office can never earn plus points.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code