पूर्व केंद्रीय गृह सचिव की जांच कैबिनेट सचिवालय विजिलेंस सेल को

आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर ने पूर्व केंद्रीय गृह सचिव अनिल गोस्वामी द्वारा सारधा घोटाले के आरोपी पूर्व मंत्री मतंग सिंह की गिरफ्तारी कथित रूप से रुकवाने के लिए सीबीआई पर दवाब बनाने की भूमिका के सम्बन्ध जांच करने हेतु केन्द्रीय सतर्कता आयोग में शिकायत भेजी थी। उस पर संज्ञान लेते हुए आयोग ने इसे कैबिनेट सचिवालय के सतर्कता और शिकायत सेल को जाँच के लिए सौंप दिया है.

सतर्कता सेल ने ठाकुर से पत्र प्राप्ति के 2 सप्ताह भीतर अवगत कराने को कहा है कि यह शिकायत उन्होंने ही की है. ठाकुर ने इस सम्बन्ध में अपनी पुष्टि भेज दी है. ज्ञातव्य है कि इससे पूर्व सतर्कता आयोग ने भी ठाकुर से पत्र भेजने की पुष्टि मांगी थी, जिसके बाद यह मामला कैबिनेट सचिवालय के सुपुर्द किया गया. 

समाचार अंग्रेजी में पढ़े – 

IPS officer Amitabh Thakur had sent a complaint to Central Vigilance Commission against the alleged improper role played by ex Home Secretary Anil Goswami in putting unwarranted pressure on the CBI during the arrest process of Saradha accused Matang Sinh, which has been referred to the Vigilance and Complaint cell of Cabinet Secretariat by the Commission for enquiry.

Through its letter dated 11 May 2015, the Vigilance Cell has asked Sri Thakur to confirm within 2 days whether the complaint was made by him or not.

Sri Thakur today sent the confirmation letter. Previously the Commission had also sought such confirmation from Sri Thakur after which the matter has been referred to the Cabinet Secretariat.

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *