एसपी बिजनौर ने पहले तो विकलांग को थप्पड़ मारा, फिर रात के अंधेरे में हाथ जोड़कर माफी मांगी

बिजनौर :  जिले के एसपी गुंडा-माफिया तत्वों और राजनेताओं से तो डरते हैं, विकलांगों को बहादुरी दिखाते हैं, जो खुद ही मुकद्दर के मारे हुए हैं। एसपी ने वर्दी के जुनून में एक विकलांग को थप्पड़ तो जड़ दिया मगर जब पेंशन और राशन कार्ड मांगने पहुंच सभी विकलांग आमरण अनशन पर बैठक गए तो देर रात डीएम के साथ वहां पहुंचकर रात के अंधेरे में हाथ जोड़कर माफी मांग ली। 

अपनी पेंशन और राशनकार्ड बनाये जाने की मांग को लेकर डीएम कार्यालय पर आये एक विकलांग को उस समय एसपी हरिनारायण सिंह ने पीट दिया, जब डीएम अपने आवास जाने के लिए ऑफिस से निकल रहे थे। इसके बाद तो उन्हें खुश करने के लिए पुलिस वाले भी उस विकलांग को पीटने लगे। ऐस करते हुए न अफसरों को शर्म आई, न उनके चाटुकारों को। वहां मौजूद विकलांगों को सबने फुटबाल की तरह फेकना शुरू कर दिया। 

इससे गुस्साए विकलांगों ने जिला अधिकारी कार्यालय पर धरना शुरू कर दिया। सभी विकलांग आमरण अनशन पर बैठ गए हैं । देर रात के अँधेरे में जिले के एसपी और डीएम दोनों ने सैकड़ों विकलांगों से जब हाथ जोड़कर माफ़ी मांगी, तब जाकर मामला शांत हुआ । 

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *