जिन्हें ‘फ्री’ का मतलब ‘मुफ्त’ समझ में आता है वो कभी ‘फ्री सेक्स’ का मतलब नहीं समझ सकते

जिन्हें ‘फ्री’ का मतलब मुफ्त समझ में आता है वो कभी ‘फ्री सेक्स’ का मतलब नहीं समझ सकते. जो लोग ‘एक के साथ एक फ्री’ साबुन, कंघी, टॉफी ही आजतक सुनते आये हैं उनके लिए “फ्री सेक्स” का सुनना बावरे गाँव में ऊंट जैसा है. इसलिए हे कूपमंडूकों अपने गड्ढ़े से बाहर निकलो. शर्म मत करो..पूछ लो, जान लो और तब विचार करो. अफ़सोस कुछ मेंडक गड्ढ़े से निकलना ही नहीं चाहते तो बहसियाते हैं. -प्रियंका सिंह के एफबी वॉल से.

फ्री सेक्स के मामले में घटिया मन सुमंत भट्टाचार्य गूगल पर आश्रित हैं। अभी तक मैंने इन्हें अनफ्रेंड या ब्लॉक नहीं किया। कभी मन करता है तो सोचता हूँ कि कुछ मूर्ख पागलों का होना भी जरूरी है। इसमें गलती हमारी भी है। गूगल पर फ्री सेक्स का मतलब वही है जो सुमंत समझ रहे हैं। रामायण में ये खलनायक थे। राम को वनवास सुमंत के कारण ही मिला था। काश ये थोड़ा पढ़ लिख लेते। वैसे आदमी कितना ही पढ़ लिख ले अपने मूल स्वभाव से बाज नहीं आता। इन पर लिखना भी इन्हें महत्व देना है फिर भी पत्रकार रहे हैं, क्या करूँ? -शशि भूषण द्विवेदी के एफबी वॉल से.

इस देश में अभी भी ये डिसकस करना पड़ रहा है कि फ्री सेक्‍स का क्‍या मतलब होता है। मतलब एकदम बेसिक बात। सर जी, बहुत नाक कटेगी दुनिया में। डबल पीएचडी का दावा है और एबीसीडी भी नहीं आती। -मनीषा पांडेय के एफबी वॉल से.

इसे भी पढ़ें….

xxx

xxx

xxx



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code