हरिवंश की भूमिका शर्मनाक!

अमिताभ श्रीवास्तव-

राज्यसभा में जिस तरह रविवार को किसानों से जुड़े विधेयक पारित करवाए गए उसमें उप सभापति हरिवंश की भूमिका शर्मनाक है।

टीआरएस, बीजेडी और एआईएडीएमके भी इन विधेयकों के प्रावधानों के पक्ष में नहीं थे और चाहते थे कि इनको सेलेक्ट कमेटी को भेजा जाए। लेकिन ध्वनिमत से इन्हें पारित करा दिया गया।

सचमुच काला दिन ही था‌।

सरकार के तमाम मंत्री न्यूज़ चैनलों पर आकर बड़े-बड़े दावे कर रहे थे, लेकिन चैनलों के तेज़तर्रार एंकरों ने उनसे कोई जवाबतलब नहीं किया। सारी काबिलियत रिया चक्रवर्ती और अनुराग कश्यप पर चीखने-चिल्लाने और तमाशा करने तक सीमित रह गई है।

  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *