आई-नेक्स्ट देहरादून के संपादक कुलदीप पंवार ने इस्तीफा दिया

Kuldeep Panwar : अंतिम सलाम…. डेढ़ साल पहले जब मैं आई-नेक्स्ट देहरादून में संपादक बनकर आया था तो मेरे लिए परिवर्तन का बहुत बड़ा फल था। सबसे बड़ी खुशी अपने फेवरिट प्लेस पर इतनी बड़ी जिम्मेदारी मिलने की थी। मैंने पूरे पैशन और मेहनत के साथ इस जिम्मेदारी को निभाने की कोशिश भी की। कई बार फेल हुआ तो कई बार बहुत सफलता भी मिली, लेकिन घर से दूर अकेलेपन के बीच बार-बार अपने चमन, अपने मेरठ वापस लौटने की ललक दबा नहीं सका।

इस बार जब पीहू ने हाथ पकड़कर पूछा कि “पापा आप हमारे पास क्यों नहीं रहते” तो कोई जवाब नहीं था मेरे पास। लेकिन तब ही सोच लिया था कि अब फाइनल डिसीजन लेना ही होगा और आखिरकार एक महीने की जद्दोजहद के बाद आज मैं आजाद हो गया। अब कुछ दिन अपने बब्बू के संग जमकर खेलेंगे और उसके बाद होगा आगे का फैसला। अलविदा कहने से पहले बस इतना कि “दून तुम बड़े याद आओगे”.

पत्रकार कुलदीप पंवार के फेसबुक वॉल से.

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code