‘लोकमत’ ने 15 साल से काम कर रहे कालिदास साव की छीनी नौकरी

नई दिल्‍ली। लोकमत में पिछले 15 साल से कार्यरत कालिदास साव की सेवाओं का फल लोकमत ने उन्‍हें एक झटके में नौकरी से बाहर कर दे दिया है. कालिदास की-बोर्ड ऑपरेटर के रूप में कंपनी को अपनी सेवाएं इमानदारी से दे रहे थे। उन्‍हें महंगाई के जमाने में भी आज मात्र 11 हजार रुपये ही मिल रहे थे।

इसी में अपने परिवार का गुजारा कर रहे थे। कालिदास अपने ऊपर हो रहे अन्‍याय के खिलाफ अदालत की शरण में गए थे, जिसके बाद उन्‍हें नौकरी से बाहर निकाल दिया गया। कालिदास इस अन्‍याय के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ने के लिए प्रतिबद्ध हैं और इस लड़ाई में समय-समय पर आप सभी के मार्गदर्शन और सहयोग की उपेक्षा करते हैं। कालिदास का लिखा पत्र यहां पढ़े-

'शाश्वत' संगीत!

'शाश्वत' संगीत!

Posted by Bhadas4media on Thursday, September 5, 2019
  • भड़ास की पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए आपसे सहयोग अपेक्षित है- SUPPORT

 

 

  • भड़ास तक खबरें-सूचनाएं इस मेल के जरिए पहुंचाएं- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *