सबसे सफल मोदी का सोशल मीडिया मैनेजमेंट : शोध रिपोर्ट

वॉशिंगटन/ नयी दिल्ली : भारत में सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले नेताओं में सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लिया जाता है. अपने लगभग सभी कार्यक्रम की जानकारी नरेंद्र मोदी अपने ट्विटर हैंडल पर देते हैं इतना ही नहीं वे इसपर फोटो भी शेयर करते हैं.

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के बाद ट्विटर पर सर्वाधिक लोकप्रिय नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सार्वजनिक छवि को तकनीक से भली – भांति परिचित नेता के रुप में आकार देने के लिए सोशल मीडिया का सफलतापूर्वक इस्तेमाल किया है. अमेरिकी शोधार्थी जोयोजीत पाल ने सोशल मीडिया वेबसाइटों पर प्रधानमंत्री द्वारा डाले गए पोस्टों का गहन अध्ययन एवं अनुसंधान करने के बाद कहा कि मोदी ने सोशल मीडिया का इस्तेमाल मुद्दों के बजाए निजी छवि बनाने के लिए अधिक किया.

यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगंस स्कूल ऑफ इनफॅर्मेशन के सहायक प्रोफेसर पाल ने कहा, ‘‘ मोदी ने भारत में युवा पीढी की आकांक्षाओं के साथ खुद को जोडते हुए तकनीक से भली भांति परिचित नेता के रुप में अपनी सार्वजनिक छवि बनाने के लिए सोशल मीडिया का सफलतापूर्वक इस्तेमाल किया है. ’’ पाल का यह दस्तावेज टेलीविजन एंड न्यू मीडिया जर्नल के ताजा संस्करण में प्रकाशित किया गया है.

मोदी के ट्विटर पर 1.23 करोड फॉलोवर्स हैं. वह ट्विटर जगत में ओबामा के बाद विश्व के दूसरे सबसे लोकप्रिय नेता हैं. पाल ने कहा कि चुनाव प्रचार मुहिम के दौरान मोदी का अकाउंट उनकी राजनीतिक सोच के बारे में अधिक संकेत देता था. उन्होंने राष्ट्रीय समारोहों और उत्सवों का जिक्र किया और सेलिब्रिटी से कहा कि वे समाज के हित से जुडे कार्यों के लिए आगे आएं.

शोधार्थी के अनुसार, चुनाव करीब आते आते मोदी ने फिल्मी सितारों, क्रिकेटरों, आध्यमिक हस्तियों सहित कई ऐसे चर्चित लोगों को ट्वीट किया जिनको ज्यादातर लोग फॉलो करते हैं. इन लोगों से मोदी ने युवा मतदाताओं को पंजीकरण के लिए प्रेरित करने का आग्रह किया. पाल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी नवीनतम तकनीक को अपनाने में भी आगे रहे है.

उन्होंने कहा, ‘‘ उदाहरण के तौर पर मोदी ने ट्विटर पर वीडियो फीचर आते ही उसका लाभ उठाया. प्रधानमंत्री के तौर पर अपने कार्यकाल में मोदी के ट्वीट में बदलाव आया है. वह पहले से कम राजनीतिक बयान पोस्ट करते हैं और अनौपचारिक संदेश जैसे कि शुभकामनाएं, शोक आदि अधिक पोस्ट करते हैं.’’ पाल ने कहा, ‘‘ मोदी ट्विटर का इस्तेमाल मुद्दों के बजाए एक निजी संकेत के तौर पर करते हैं. उदाहरण के तौर पर वह ‘कार्यकर्ता’ के बीच ‘माई बाप शैली’ में जाते हैं. यह ओबामा से अलग तरीका है. ओबामा किसी एजेंडे को आधार बनाकर ट्वीट करते हैं.’’

मोदी की लोकप्रियता से यदि भारतीय नेताओं की तुलना की जाए, तो उनके सबसे निकट सांसद शशि थरुर हैं. थरुर के 30 लाख फॉलोवर हैं. मोदी का एक फेसबुक पेज है जिस पर दो करोड 80 लाख लाइक हैं. उन्होंने ‘चाय पे चर्चा’ मुहिम भी शुरु की है जिसके तहत वह चाय पीते समय ऑनलाइन वीडियो के माध्यम से नागरिकों के साथ राष्ट्रीय मुद्दों पर चैट (बातचीत) करते हैं.



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code