सहारा के खिलाफ यूट्यूब चैनल चलाने पर पहुंच गई पुलिस!

देवेंद्र कुमार सैनी की ग़ज़ब कहानी है. इन्होंने सहारा में लाखों रुपए निवेश किया. मेच्योरिटी की अवधि के बाद पैसे मांगे तो इन्हें टाला जाता रहा. थक हारकर इन्होंने सहारा की करतूत के खुलासे के लिए एक यूट्यूब चैनल बना दिया. चैनल पर सहारा से पीड़ित लोगों की कहानी डालते रहे. देखते ही देखते इनका यूट्यूब चैनल मशहूर होने लगा और सहारा की पोल खुलने लगी.

सहारा वालों ने लखनऊ में देवेंद्र के खिलाफ एफआईआर करा दिया. पुलिस इनके घर भेज दिया पकड़ने के लिए. बाद में इन्हें हाईकोर्ट से जमानत मिली, इस शर्त पर कि यूट्यूब के सारे वीडियो डिलीट कर दो.

देवेंद्र ने सारे वीडियो डिलीट कर दिए.

अब वे अपनी कहानी मीडिया वालों को सुनाते फिर रहे हैं पर कोई उन्हें भाव नहीं दे रहा है.

भड़ास के पास भी उन्होंने एक मेल भेजा है.

फिलहाल उनकी कहानी भड़ास पर अपलोड की जा रही है. आगे भी वो जो कुछ बताएंगे-भेजेंगे, उसे प्रकाशित किया जाएगा.

देखें मेल-

श्रीमान नमस्ते
मेरा नाम देवेंद्र कुमार सैनी है. मैंने 2014 से 20 16 तक लाखों रुपए सहारा निवेश योजना में जमा कराये. खाते पूरे हुये तो मैंने पैसा मांगा. लेकिन सहारा ने नहीं दिये. हर तीन महीने में मैनेजर बदलता रहा. अंत में मैंने परेशान होकर देवेंद्र सैनी नाम से यूट्यूब चैनल बना लिया. इनकी धोखाधड़ियों को उजागर करने लगा तो इन्होंने मुझ पर थाना अलीगंज (लखनऊ) में एफआईआर करा दिया. इन्हें गिरफ्तार करने के सलिए अलवर (राजस्थान) में पुलिस को भेज दिया. अंतत: इन्हें लखनऊ हाईकोर्ट की खंडपीठ से से बेल लेनी पड़ी. बेल सारे यूट्यूब वीडियो डिलीट करने पर मिली. क्या इस अन्याय में मेरी कोई मदद कर सकता है?

आपका
देवेंद्र
dkhindinews@gmail.com
मोबाइल 9828378988

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

One comment on “सहारा के खिलाफ यूट्यूब चैनल चलाने पर पहुंच गई पुलिस!”

  • यशवंत says:

    क्या सरकार कोरोना मरीज है या भड़ास मीडिया

    अखबार/संपादक/पत्रकार/सरकार/प्रशासन किसके पक्ष में है भड़ास मीडिया।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code