थानेदार ने पत्रकार को भेजा नोटिस तो देखिए पत्रकार ने क्या दिया जवाब!

यूपी में पुलिस विभाग योगी राज में पत्रकारों पर बुरी तरह हमलावर है. पुलिस वाले कतई नहीं चाहते कि उनके खिलाफ कोई खबर छापी जाए. चोरी हो डकैती हो मर्डर हो खनन हो… कुछ भी गलत हो रहा हो लेकिन पुलिस के लोग चाहते हैं कि इसकी खबरें या तो न छपें या फिर छपें भी तो उनसे पूछ कर, उन्हें दिखा कर.

भड़ास के पास आए दिन ऐसी शिकायतें आती रहती हैं जिसमें पुलिस वाले पत्रकारों का खबर छापने के कारण उत्पीड़न करते हैं, धमकाते रहते हैं. यूपी के एक जिले के कप्तान तो ‘कुंभकर्णी निद्रा’ शब्द हेडिंग में देखकर इसे अभद्र भाषा करार दिया और सीधे पोर्टल के संपादक को फोन कर बुरी तरह धमकाने लगे. उनका आडियो भड़ास के पास है.

फिलहाल जो खबर यहां हम प्रकाशित कर रहे हैं उसमें चित्रकूट जिले के एक थानेदार जयशंकर सिंह ने अवैध खनन को लेकर प्रकाशित समाचार से नाराज होकर पत्रकार को नोटिस भेजा और गलत खबर छापने का आरोप लगाया. पत्रकार धीरेंद्र कुमार शुक्ला ने भी बिना डरे इस नोटिस का जवाब मय प्रमाण भेज दिया.

आप भी देखें दोनों पक्षों की बातें, साथ में खनन की कुछ तस्वीरें-

इसी प्रकरण पर भड़ास एडिटर यशवंत की ये एफबी पोस्ट पढ़ें-

कुछ प्रतिक्रियाओं में से एक ये भी देखें-

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *