तिलहर, पत्रकार से मारपीट प्रकरणः मांगे पूरी न होने पर पत्रकारों ने दिया सांकेतिक धरना

tilhar gyapan

धरना स्थल पर ज्ञापन देते पत्रकार

तिलहर, शाहजहांपुर। जिला समाज कल्याण विभाग के उर्दू अनुवादक बाबू नवेद खां द्वारा पत्रकार अशफाक खां के साथ समाचारो को लेकर की गई मारपीट का मामला अब और गर्माने लगा है। 27 अगस्त को ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन द्वारा जिलाधिकारी को दिये गये ज्ञापन पर कोई कार्यवाही न हेते देख और समय सीमा के समाप्त होने पर ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन ने तहसील प्रांगण में सकेंतिक धरना दिया। जिलाधिकारी को अपनी मागों के समबन्ध में ज्ञापन देकर मुख्यमत्रीं से भी इस संबंध में कार्यवाही की मांग की है।

ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन ने मुख्यमंत्रीं को दिये अपने ज्ञापन में कहा है कि जिला समाज कल्याण विभाग के उर्दू अनुवादक बाबू नवेद खां ने पत्रकार अशफाक खां को जिला समाज कल्याण अधिकारी अर्चना ससोनकर के इशारे पर समाचारो को लकर मारपीट की। इसके सम्बन्ध में पत्रकार की ओर से थाना सदर बाजार में 22 अगस्त को एनसीआर दर्ज कर ली थी। परन्तु इसके तीन दिन बाद समाज कल्याण विभाग ने अपने बाबू का बचाव करते हुये थाना सदर बाजार पुलिस पर अपना दबाव बना कर पत्रकार पर झूठा व फर्जी मुकदमा दर्ज करा दिया।

जिलाधिकारी सहित सहायक सूचना निदेशक ने प्रकरण का निस्तारण करने के बजाय चुप्पी साध ली जबकि पत्रकार से सम्बन्धित प्रकरण को सहायक सूचना निदेशक द्वारा आसानी से निपटाया जा सकता था। लेकिन सहायक सूचना निदेशक उल्टा अपने ही पत्रकार को फर्जी साबित करने में अपना समय व्यतीत करने लग गये जिसके कारण मामला और भी गर्मा गया।
 
प्रेस क्लब आफॅ शाहजहांपुर लड़ेगा आर पार की लड़ाईः- ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन तिलहर इकाई के सांकेतिक धरने को समर्थन देने जनपद से पहुंचे प्रेस क्लब आफॅ शाहजहांपुर के अध्यक्ष राजी गुप्ता ने धरना स्थल पर पत्रकारो को संबोधित करते हुये कहा कि पत्रकारो के हित में प्रेस क्लब आफॅ शाहजहांपुर अब आर पार की लड़ाई लड़ेगा क्योंकि प्रशासनिक विभागो के कर्मचारियों द्वारा पत्रकारो के उत्पीड़न जैसी तमाम समस्याऐं सामने आ रही है परन्तु उसके बाद भी पत्रकारो की किसी भी मांग को प्रशासन गम्भीरता से नहीं ले रहा है।

लखनऊ पहुंच मुख्य सचिव से मुलाकत करेंगेः- ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष राजीब शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि पत्रकार अशफाक खां से सम्बन्धित प्रकरण का जिला प्रशासन द्वारा शीघ्र ही निस्तारण नहीं किया गया तो वे लखनउ जा कर प्रमुख सचिव, प्रमुख सचिव (सूचना), सूचना निदेशक तथा विषेश सचिव, समाज कल्याण विभाग से आमने सामने बात कर जिला समाज कल्याण में फर्जीकरण का खुलासा करेंगे।

पत्रकार व जिला समाज कल्याण के बाबू नवेद खां प्रकरण में ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि जिला समाज कल्याण के बाबू नवेद खां को तत्काल निलम्बित कर उसकी सम्पत्ति की जांच किसी अन्य विभाग के उच्चाधिकारी से कराई जाऐ। 2- अपने प्रभाव से पत्रकारों का उत्पीड़न करने वाले बाबू नवेद खां द्वारा अपने बचाव में अशफाक खां पर लिखाया गया झूठा मुकदमा तत्काल निरस्त कराया जाऐ। 3-जिला समाज कल्याण एंव उसके जैसे समस्त विभाग पत्रकारिता जगत को अपना प्रभाव दिखा कर एवं दबाव बना कर मनमर्जी से समाचार प्रकाशित कराते है जिसके कारण समस्त पत्रकारिता जगत की स्वतंत्रता पर आघात लगता है। ऐसे विभागो की जांच कराई जाये जिससे कि पत्रकार स्वातंत्र रूप से अपना कार्य कर सकें। 4- पत्रकारो की समस्याओं का निस्तारण करने के बजाय उल्टा पत्रकारो को ही फर्जी साबित करने की फिराक में रहने वाले सहायक सूचना निदेशक को तत्काल प्रभाव से हटाया जाऐ। 5- जिला समाज कल्याण अधिकरी अर्चना सोनकर की सम्पत्ति की जांच कराई जाऐ। 6- जिला समाज कल्याण द्वारा वृद्धा पेंशन व विधवा पेंशन एंव शादी अनुदान आदि योजनाओ द्वारा निकाला गए सरकारी धन का किसी अन्य विभाग के उच्चाधिकारी द्वारा जांच कराई जाए।

दो घन्टे तक चलने वाले सांकेतिक धरने पर मौजूद समस्त पत्रकारो में क्राईम लाईन के सम्पादक एंव ग्रा.पत्र.एसो के जिला अध्यक्ष राजीव शर्मा, बदांयू अमर प्रभात के सम्पादक मुनीश आर्या, प्रेस क्लब आफॅ शाहजहांपुर के अध्यक्ष राजीव गुप्ता, ग्रा.पत्र.एसो. के जिला महासचिव अभिनव गुप्ता, जेपी वर्मा, अभिनास सक्सेना, जितेन्द्र कुमार, अफरोज अली, शकील अहमद, अशोक कुमार, गोविन्द राम, सिद्दीक अहमद, सर्वेश कुमार, अजीज अहमद, अशफाक खां, इन्द्रभान सिंह बीनू, सुनील कुमार, एजाज अहमद, लोकेश आर्या, इमरान सागर सहित दर्जनो पत्रकार मौजूद रहे।

 

मूल ख़बरः

समाज कल्याण विभाग के बाबू ने पत्रकार से की मार-पीट, एसोसिएशन ने की बाबू को निलंबित करने की मांग

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *