IIM Lucknow में दाखिला लेकर IPS अफसर अमिताभ ठाकुर ने ‘पुलिसिंग और टेंशन’ पर शोध कार्य पूरा किया

आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर ने पुलिस में लीडरशिप स्टाइल, संगठनात्मक तनाव तथा मानव प्रबंधन नीति का कार्य परिणाम पर पड़ने वाले प्रभाव के सम्बन्ध में अपना शोधकार्य आज आईआईएम लखनऊ में प्रस्तुत कर दिया. अमिताभ ने उत्तर प्रदेश सरकार से अध्ययन अवकाश ले कर आईआईएम लखनऊ में दाखिला लिया था, जहाँ उन्होंने 02 वर्षों तक रेगुलर कोर्स किये. सेवा में आने के बाद भी वे लीडरशिप, तनाव और प्रबंधन का यूपी पुलिस के कार्य परिणाम, कार्य प्रदर्शन और कार्य संतोष पर पड़ने वाले प्रभाव के सम्बन्ध में प्रो० पंकज कुमार, प्रो० हिमांशु राय और प्रो० पुष्पेन्द्र प्रियदर्शी के अधीन अपना शोध कार्य जारी रखा था.

अमिताभ ने इस हेतु पूरे प्रदेश से 933 पुलिसकर्मियों का सर्वे कर वैज्ञानिक ढंग से यह निष्कर्ष निकाला है कि पुलिस के कार्य परिणाम पर लीडरशिप तथा मानव प्रबंधन का सकारात्मक प्रभाव पड़ता है जबकि संगठनात्मक तनाव का विपरीत प्रभाव पड़ता है. शोध से यह भी सामने आया कि भावनात्मक प्रज्ञा (इमोशनल इंटेलिजेंस) और वचनबद्धता (इंगेजमेंट) पर समुचित ध्यान दे कर कार्य परिणाम को बेहतर बनाया जा सकता है. यह भी पाया गया कि यूपी पुलिस में तनाव सामान्य से अधिक है, और बेहतर प्रदर्शन हेतु उसमें भारी कमी किये जाने की आवश्यकता है. इस शोध परिणाम का बेहतर पुलिसिंग हेतु पुलिस में उचित मानव प्रबंधन, संस्थागत तनाव नियंत्रण और उचित प्रकार का नेतृत्व विकसित करने पर ध्यान देने के कार्यों में व्यापक योगदान हो सकता है, साथ ही पुलिसकर्मियों के भावनात्मक प्रज्ञा पर अधिक ध्यान देने पर भी बल मिलेगा.

Thesis on Police leadership, Stress and Employees outcome

IPS officer Amitabh Thakur today submitted his thesis on impact of leadership styles, Organizational Stress and Human Resource Policies on Employee outcome before IIM Lucknow. Amitabh had taken study leave from the UP Government to get enrolled at IIM Lucknow for Fellow Program in Management where he stayed for 02 years for the regular courses. After coming back to service, he continued his thesis work on impact of leadership, stress and HR practices over various employees outcome like Job performance and job satisfaction, under guidance of Prof Pankaj Kumar, Prof Himanshu Rai and Prof Pushpendra Priyadarshi.

Amitabh undertook a survey of 933 policemen from various branches of police to scientifically conclude that leadership and HR practices have a positive impact and organizational stress has a definite negative impact on employees outcome. The research also concluded that Emotional Intelligence and work engagement are important factors that can be modulated to have a visible impact on employees outcome in Police. It also stated that the stress level in UP Police is much higher than average and it needs to be drastically reduced for better performance. This study can be used for giving higher emphasis on proper HR Practices, leadership development and reduction of stress in Police so as to get better policing results and also to introduce Emotional intelligence as an important factor for consideration of man management.



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code