जनसंपर्क अधिकारी आनंद जैन की मनमानी से पत्रकारों में आक्रोश

पत्रकारों ने अपर कलेक्टर संदीप को शिकायतों से अवगत कराया

ज़बलपुर : लगभग 25 वर्षों से भी ज्यादा समय से जनसंपर्क विभाग में आनंद जैन पदस्थ हैं। इन पर कुछ पत्रकार विशेष को सुविधाएं देने और उनके समर्थन में काम करने के आरोप लगते रहे हैं। प्रतिदिन की खबरें हो या विशेष परिस्थितियां आनंद जैन सिर्फ अपने चहेते चंद पत्रकारों को ही पहले खबरें पहुंचाते हैं।

इनके चहेते पत्रकार या तो अब किसी चैनल या अखबार में नहीं हैं या कुछ लोगों ने यह काम ही करना बंद कर दिया है। ऐसे लोगों को आनंद जैन जनसंपर्क विभाग से मिलने वाली सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए कुख्यात हैं। लॉक डाउन और कर्फ्यू की स्थिति में भी लोकल चैनल और छोटे अखबार के पत्रकारों को इनके द्वारा पास नहीं जारी किए जाते।

आवश्यक खबरें भी पहले अपने चहेते पत्रकारों तक पहुंचाते हैं, भले ही वह कहीं ना छापे या ना दिखाई दे। जो चैनल खबरें दिखा रहे हैं और जो अखबार खबर छाप रहे हैं, आनंद जैन उन सभी को सुबह की खबर दोपहर में और शाम की खबर रात में पहुंचा रहे हैं।

लॉक डाउन के दौरान इन्होंने कई लोकल चैनल, रीजनल चैनल और अखबार के पत्रकारों से बदतमीजी की है। उनसे यह भी कहा है, क्यों कवरेज कर रहे हो, क्यों खबर बना रहे हो, अपने घरों में क्यों नहीं रहते।

समाज के सजग प्रहरी पत्रकारों ने आनंद जैन की शिकायतों से अपर कलेक्टर संदीप जी आर को अवगत कराया है। उन्होंने आनंद जैन पर कार्यवाही करने का आश्वासन भी दिया है।

कोरोना वायरस संक्रमण के वक्त हर नागरिक सभी खबरों से रूबरू होना चाहता है लेकिन आनंद जैन की मनमानी की वजह से काम कर रहे अखबारों और न्यूज चैनलों को खबरें समय पर नहीं दी जा रही हैं। बार-बार इन विषम परिस्थितियों में काम करने वाले पत्रकारों का मनोबल तोड़ा जा रहा है।

आनंद जैन की इन हरकतों की शिकायत पत्रकारों के संगठन ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और जनसंपर्क आयुक्त से भी की है।



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code