नई दुनिया के मालिक रहे अभय छजलानी खेल संगठनों के नाम पर कमा रहे किराया

मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार ने अपने कार्यकाल में विभिन्न समाचार पत्रों को अनेक तरह से उपकृत किया था। इसी का एक उदाहरण है इंदौर के अपने समय के प्रतिष्ठित समाचार पत्र नईदुनिया के प्रधान संपादक रहे अभय छजलानी को बेशकीमती और पॉश इलाके रेसकोर्स रोड पर खेल संगठन बनाने के नाम पर उपकृत किया जाना। जानकारी के खेल गतिविधियों के नाम पर इंदौर के खेल संगठन सरकार से रियायती जमीनें लेकर उनका व्यावसायिक उपयोग करके अपनी जेब भर रहे हैं। 

इसका बड़ा उदाहरण अभय प्रशाल है जहां खेल गतिविधियां कम होती हैं, सामाजिक-सांस्कृतिक और व्यावसायिक कार्यक्रम ज्यादा होते हैं। एक दिन के आयोजन का किराया एक से सवा लाख रुपए तक वसूला जा रहा है।  इतना ही नहीं एअर इंडिया, यूनिवर्सल इन्फोर्मेटिक और अरिहंत अर्बन-को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड जैसे व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के दफ्तर भी यहां संचालित हैं, जिनसे मोटा किराया वसूला जा रहा है। 

कांग्रेस सरकार के रहनुमाओं से रियायती दरों पर प्राप्त 1.50 लाख वर्गफीट जमीन पर प्रदेश के सबसे पहले व्यवस्थित इनडोर स्टेडियम के रूप में खेल प्रशाल की नींव पूर्व केंद्रीय पेट्रोलियम एवं रसायन मंत्री प्रकाशचंद्र सेठी ने रखी थी। उद्घाटन किया था 1994 में अर्जुन सिंह ने। लीज शर्तों के हिसाब से यहां इनडोर गेम खेले जाना थे। जैसे टेबल टेनिस, बॉस्केटबॉल, लॉन टेनिस और बेडमिंटन। यहां खेल गतिविधियां होती है लेकिन कभी-कभार। ज्यादातर तो यहां म्यूजिकल कंसर्ट, कल्चरल प्रोग्राम, अकेडमिक प्रोग्राम, साइंटिफिक और मैनेजमेंट कॉन्फ्रेंस के साथ बिजनेस एक्जीबिशन होती है। बात यहीं खत्म नहीं होती अलग-अलग समाजों को परिचय सम्मेलन और सामुहिक विवाह तक के लिए भी खेल प्रशाल किराए पर दिया जाता है। नवरात्रि के दौरान यहां पूरे नौ दिन डांडिया होता है।

सूत्रों के अनुसार 45 हजार वर्गफीट जमीन पर खेल प्रशाल बना है। इसकी बैठक क्षमता 7 हजार है। एक दिन का सामान्य किराया 90 हजार से 1.25 लाख रुपए तक है। इसके अलावा बिजली और टैक्स का पैसा अलग। अभी चूंकि स्पोर्ट्स होस्टल ‘खेल प्रशाल परिसर में ही करीब 24 हजार वर्गफीट जमीन पर बना भवन’, को भव्य रूप दिया जा रहा है इसीलिए तीन महीने से बुकिंग बंद कर रखी है। जो आगे भी तीन महीने बंद रहेगी।

किराए पर हैं यह… स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का एटीएम, अरिहंत अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लि., एअर इंडिया बुकिंग आउटलेट, मित्तल कॉर्प लिमिटेड, यूनिवर्सल इन्फोर्मेटिव। क्लब में टेबल टेनिस, बेडमिंटन, स्क्वॉश, बिलियर्ड्स, केरम और चौस जैसी खेल सुविधाएं हैं जबकि यहां टेबल टेनिस और बेडमिंटन ही ज्यादा खेला जाता है। अन्य सुविधाओं में जिमनेश्यिम, योग केंद्र, लाइब्रेरी, सोना बाथ, स्टीम बाथ, जकोजी और फूड जोन के साथ भव्य स्वीमिंग पुल के फोटो के साथ स्वीमिंग जैसी फेसिलिटी का जिक्र भी है जो मौके पर कहीं नजर नहीं आती। न स्वीमिंग पुल है। न ही स्वीमिंग।

यह एक कम्प्यूटर कोचिंग संस्था है जिसके प्रमुख प्रणय परवाल हैं। बताया जाता है कि अभय छजलानी ने इन्हें उपकृत करने के लिए उन्हें यहां पर यह कोचिंग संस्था चलाने की सहमति दी है। प्रवेष के समय यहां पर छात्रों को कम्प्यूटर की विभिन्न विधाओं में जानकारी देने और उनके अभ्यास के लिए नोट्स तथा डम्प्स उपलब्ध कराए जाने का विश्वास दिलाया जाता है, लेकिन बाद में कहा जाता है कि हमने ऐसा कोई लिखित में नहीं दिया था कि आपको अभ्यास के लिए नोट्स तथा डम्प्स उपलब्ध कराए ही जाएंगे। अब चूंकि ये शासन-प्रशासन पर अपनी पकड़ रखते हैं इसलिए कोई इनके खिलाफ शिकायत नहीं कर पाता।

खेल गतिविधियां…

30 अक्टूबर से 4 नवंबर 2012 – 5वीं राष्ट्रीय रैंकिंग अखिल भारतीय सबजूनियर रैंकिंग बैडमिंटन स्पर्धा

नवंबर 2013-राज्य एवं अंतर जिला टेबिल-टेनिस प्रतियोगिता

अपै्रल 2014-टेबल टेनिस कार्निवाल

अपै्रल 2013- सुनीतासिंह मेमोरियल इंटरनेशनल फिडे रेटिंग चौस स्पर्धा

अन्य कार्यक्रम…

30 जनवरी 2011- इंदौर जिले के आरक्षक संवर्ग के अभ्यर्थियों की लिखित परीक्षा

4 मार्च 2013- सानंद का सलाम आशा भोसले कार्यक्रम

जनवरी 2014- २३वीं इंटरनेशनल मैनेजमेंट कॉन्क्लेव-2014

विवाह-परिचय सम्मेलन

25 दिसंबर 2011- जायसवाल कलाल, कलार, राय, चौकसे, शिवहरे, मालवीय समाज का निशुल्क अ.भा.युवक-युवती परिचय सम्मेलन

18 और 19 जनवरी 2013- जैन श्वेतांबर सोश्यल ग्रुप फेडरेशन का परिचय एवं सामूहिक विवाह सम्मेलन।

15 सितंबर 2013 – जायसवाल सोशल ग्रुप ट्रस्ट इंदौर एवं अखिल भारतीय जायसवाल महासभा का परिचय सम्मेलन।

लेखक प्रदीप मल्होत्रा से संपर्क : p.malhotra1221@gmail.com



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप ज्वाइन करें-  https://chat.whatsapp.com/JYYJjZdtLQbDSzhajsOCsG

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code