हमने चलना सिखाया, रफ्तार आपको पकड़नी है : यशवंत सिंह

वर्कशाप आगाज है मंजिल तक पहुंचने का: अशोक : वेब मीडिया कंटेंट मानेटाइजेशन वर्कशाप के दूसरे दिन यूट्यूब चैनल, ब्लाग पर एकाउंट बनाने के तरीके बताए

 

गोरखपुर : हमने चलना सिखाया है, रफ्तार आपको पकड़नी है। वर्कशाप उन लोगों के लिए तरक्की का जरिया बन सकता है, जो सीखना चाहते हैं, मुस्तकबिल संवारना चाहते हैं। अपने ऑनलाइन कामकाज को मानेटाइज करना चाहते हैं। 

वर्कशॉप में शामिल पत्रकार

 

आभार प्रकट करते हुए गोरखपुर जर्नलिस्ट प्रेस क्लब अध्यक्ष अशोक चौधरी 

यह बातें गोरखपुर जर्नलिस्ट्स प्रेस क्लब व लेंस मैन के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार को प्रेस क्लब सभागार में भड़ास4मीडिया के संस्थापक संपादक यशवंत सिंह ने ’वेब मीडिया कंटेंट मानेटाइजेशन वर्कशाप’ के दूसरे दिन कहीं। उन्होंने विभिन्न फीचर्स की मदद से इंटरनेट मीडिया के बढ़ते प्रभाव से पत्रकारों को रूबरू कराया। 

उन्होंने बताया कि मीडिया तीन तरह का है। नाउ, न्यू, नेक्सट। इंटरनेट मीडिया 20 साल का है। भारत में 2 बिलियन इंटरनेट यूजर हैं। द रिपब्लिक ऑफ सोशल मीडिया नामक नया गणराज्य बनता जा रहा है। यह नेक्सट मीडिया की श्रेणी में आता है। इसका नारा है – ”बाई द नेटीजन्स, फॉर द नेटीजन्स, एंड टू द नेटीजन्स’’। इस सम्बन्ध में यशवंत ने मीडिया एनालिस्ट ए एस रघुनाथ के नए मीडिया सर्वे पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन को दिखाया और ढेर सारे आंकड़े पेश किए।  

उन्होंने बताया कि इंटरनेट को आप अपना माध्यम बनाते हैं तो दिन प्रतिदिन इसका लाभ बढ़ता जायेगा। 250 ऐसी चीजें हैं, जो आदमी के जन्म से लेकर मृत्यु तक जुड़ी रहती हैं, जिस पर पारम्परिक मीडिया ध्यान नहीं देता लेकिन इन श्रेणियों पर इंटरनेट मीडिया में काम करके नयी ऊंचाई हासिल की जा सकती है। नया बहुत सारा काम सोशल मीडिया इंटरनेट मीडिया पर किया जा सकता है, जिससे अच्छी आमदनी हो सकती है। आज इंटरनेट बिजनेस का सबसे तेजी से बढ़ता माध्यम है। तमाम कंपनियां ऑनलाइन हैं, जो ऐसे लोगों को तलाश करती हैं, जो घर बैठे ऑनलाइन रहकर काम कर सकते हैं। 

उन्होंने ब्लॉगिंग के फील्ड में सक्रिय कई ऐसे लोगों का नाम गिनाया, जो अब नौकरी छोड़ कर अच्छा ख़ासा पैसा वेब ब्लॉग पर गूगल का एडसेंस लगाकर कमा रहे हैं। भोपाल के रवि रतलामी समेत कई लोगों की सफलता का उन्होंने उदाहण दिया। उन्होंने प्रोजेक्टर के माध्यम से यूट्यूब व ब्लागर एकाउंट खोलने के तरीके बताए। साथ ही यह भी बताया कि किस तरह से हम वीडियों, कंटेंट, फोटो , लोगो वगैरह डाल सकते हैं। उन्होंने कई पत्रकारों के यूट्यूब व ब्लागस्पॉट पर एकाउंट खोले गए। पत्रकारों द्वारा किए गए सवालों के जवाब आसान तरीके से सोदाहरण दिए।  

प्रेस क्लब अध्यक्ष अशोक चौधरी ने कहा कि यह वर्कशॉप एक अच्छा आगाज है, जिसे मंजिल तक पहुंचाना है। पत्रकारों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए वर्कशॉप किसी वरदान से कम नहीं है। इस मौके पर प्रेस क्लब महामंत्री पंकज श्रीवास्वत, पुस्तकालय मंत्री विनय कुमार शर्मा, संयुक्त मंत्री चन्दन निषाद, उपाध्यक्ष कुंदन उपाध्याय, मनोज कुमार सिंह, अर्जुमंद बानो,, अब्दुल जदीद, मनोज यादव, सैयद फरहान अहमद, ओंकार धर द्विवेदी,, मारकण्डेय मणि त्रिपाठी, सुशील राय, सफी, सेराज, हरिकेश सिंह, फैयाज अहमद, अविनाश, महेश्वर मिश्र, महेश्वर मिश्र, इब्राहीम सिद्दीकी, महेश, सफी, शैलेन्द्र शुक्ला, दीपक पाण्डेय, अरूण सिन्हा, अरविन्द पाण्डेय, संजय त्रिपाठी, नसीम सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। 

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *