इस वीडियो को देखने के बाद केशव मौर्य के प्रति मेरे मन में इज्जत बढ़ गई (देखें वीडियो)

Yashwant Singh : इस वीडियो को देखने के बाद केशव मौर्य के प्रति मेरे मन में इज्जत बढ़ गई. एक शख्स उनके मुंह पर सबके सामने माकानाका टाइप गंदी गाली दे रहा है, केशव मौर्य उसे देख-सुन भी रहे हैं, लेकिन वह न तो रिएक्ट करते हैं और न ही कोई जवाबी गाली देते-दिलवाते हैं. उनके साथ ढेर सारे सुरक्षाकर्मी भी हैं. चाहते तो तत्काल गालीबाज शख्स को उठवा सकते थे, अपने सुरक्षाकर्मियों के जरिए. पर बंदा चुपचाप चला जाता है.

वीडियो ये है :

Sunny : vote bank ka khel hoga ya phir Maurya shahab kuch promise kar k mukar rahe honge

Yashwant Singh जो भी बात हो भाई, लेकिन कोई इतने बड़े नेता को जो सुरक्षाकर्मियों से घिरा हो, मुंह पर माधड़xxx टाइप गाली देगा तो आमतौर पर बर्दाश्त नहीं किया जा सकता था.. लेकिन केशव न सिर्फ बर्दाश्त किया बल्कि धैर्य रखकर बड़प्पन दिखाया.

Mohammad Haider : Patience, composure even in difficult situation makes a successful politician, and Keshav Maurya did the right thing, being non reactive to the indolent behaviour.

Yashwant Singh : agreed

भड़ास4मीडिया डॉट कॉम के एडिटर यशवंत सिंह की एफबी वॉल से.

इस वीडियो को भी देख सकते हैं :

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “इस वीडियो को देखने के बाद केशव मौर्य के प्रति मेरे मन में इज्जत बढ़ गई (देखें वीडियो)

  • मप्र के एक बडे कांग्रेसी नेता हुआ करते थे एक बार एक सभा में एक शख्स ने उनके चेहरे पर कालिख मल दी थी । नेता जी के समर्थकों ने उसे पकड लिया पर नेता जी उसे छुडवा दिया और माफ करने की घोषणा की । कुछ महीनों बाद उस शख्स की लाश मिली थी । ईश्वर करे इस मामले में ऐसा न हो ।

    Reply
  • Sanjaya Kumar Singh says:

    मुझे लगता है कि मंत्री जी किसी विरोधी नेता के मोहल्ले में थे और समझ रहे थे कि खिसक लेने में ही भलाई है। आदर्श वाला कोई मामला नहीं है। लगातार बज रहा हॉर्न बता रहा है कि वहां मंत्री की कोई इज्जत नहीं थी – हॉर्न बजा कर यही कहा जा रहा था कि निकलो, भागो यहां से। वरना आमतौर पर कहां ऐसा हो सकता है। मंत्री तो छोड़िए हम-आप भी चार छह लोगों के साथ हों तो कोई ऐसे हॉर्न नहीं बजाएगा और बजाएगा तो पिटने का खतरा रहेगा ही। पर वह निर्विकार भाव से हॉर्न बजाए जा रहा है। मंत्री जी उसपर भी ध्यान नहीं दे रहे हैं जबकि हॉर्न से बहुत चिढ़ होती है। मुझे लगता है कि आप कभी-कभी बहुत उदार हो जाते हैं।

    Reply
  • Akhilesh Pratap Singh says:

    ज्यादा ही बढ़ गई इज्जत…आप तो ट्रैक करते रहते हैं…दो तीन महीने बाद उस आदमी का हालचाल ले लीजिएगा…

    Reply
  • Yashwant Singh says:

    ये मैंने भी सोचा कि समझदार नेता कूल तरीके से काम करते हैं और चीजों को प्लांड तरीके से हैंडल करते हैं.. मुझे नहीं पता, गालीबाज का क्या हश्र हुआ बाद में.. 🙂

    Reply
  • Santosh Singh says:

    केशव जी के ट्रैक रिकॉर्ड के हिसाब से अखिलेश जी की शंका दुरुस्त है 😀

    Reply
  • Syed Mazhar Husain says:

    लगता कूछ बड़ी रकम का मामला है बेचारा चक्कर लगाते लगाते थक गया होगा तो अब क्या करेगा गाली देकर ही मन को शांत कर रहा । वरना मौर्या जी जवाब ज़रूर देते

    Reply
  • Ghanshyam Dubey says:

    इतने जल्दी इज्जत बढ़ गयी! इज्जत तो तब बढ़ती जब वह उसे रोकने – टोकने मे दिलचस्पी दिखाते ! वाह रे भड़ासी !

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *