भाजपा में मोदी के बाद सर्वाधिक भीड़ बटोरू और डिमांडिंग नेता बने सांसद व गायक मनोज तिवारी!

उत्तर पूर्वी दिल्ली के सांसद और भोजपुरी फिल्म, गीत-संगीत के सुपर स्टार मनोज तिवारी के बारे में एक नई जानकारी अपडेट कर लें. हरियाणा और महाराष्ट्र चुनावों में जिस कदर इनकी सभाओं में भीड़ उमड़ी है, उसका जब एनालिसिस किया गया तो पता चला कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद भाजपा में सबसे बड़े भीड़ बटोरू नेता बन गए हैं मनोज तिवारी. जी हां, यह सच है. इसी आधार पर भाजपा के अंदरखाने मनोज तिवारी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद भाजपा का सबसे बड़ा स्टार प्रचारक कहा-माने जाने लगा है. चुनावों के दौरान मनोज तिवारी की भाजपा के अंदर बढ़ती डिमांड से भी पता चलता है कि उनकी राजनीतिक हैसियत बीजेपी में काफी बड़ी हो गई है.

(हरियाणा और महाराष्ट्र के विधानसभा चुनावों के दौरान मनोज तिवारी के नाम पर जिस कदर जनता टूटकर सभाओं में पहुंची, उसने राजनीतिक पंडितों के साथ-साथ भाजपा के रणनीतिकारों को भी हैरत में डाल दिया. इन्हीं चुनावों के दौरान की कुछ तस्वीरें)


 

लोकसभा चुनाव हो या अभी हाल में हुए विधानसभा चुनाव, मनोज तिवारी की जन सभाओं में उम्मीद से ज्यादा भीड़ उमड़ी..देश के किसी भी हिस्से में इन्हें देखने सुनने के लिए जन सैलाब उमड़ता दिखा..सवाल ये है कि आखिर मनोज तिवारी में ऐसा क्या है जो जनता इनकी दीवानी है..इसके लिए हम आपको करीब बीस साल पीछे ले जाते हैं जब मनोज तिवारी काशी हिंदू विश्वविद्यालय में पढ़ाई के साथ क्रिकेट और गायकी में खुद को आजमा रहे थे..दोनों ही जगह मनोज जी ने अपनी मेहनत और लगन से अपना सिक्का जमाया..देश विदेश में क्रिकेट के साथ गायकी में भी खूब नाम कमाया और इन्हें देखने के लिए भी भीड़ उमड़ने लगी..

वैसे तो ये हर तरह के गीत गाते थे लेकिन भोजपुरी में इन्होंने जैसे क्रांति मचा कर रख दिया..गायक के साथ अभिनेता भी बने.. भोजपुरी फिल्मों के सबसे बड़े सुपर स्टार बनकर उभरे..अब तो इनकी एक झलक पाने के लिए और जबरदस्त भीड़ उमड़ने लगी..मुंबई का जुहू बीच हो या बनारस का गंगा किनारा तिल रखने की जगह नहीं होती..मुंबई में रहने वाले उत्तर भारतीय तो इनके इस कद्र दीवाने हो गए कि नफरत और भाषा की राजनीति करने वाले नेताओं ने इन पर हमले तक करवाए लेकिन मनोज जी का हौसला कम नहीं कर सके..ये अपनी मधुर आवाज से नफरत की राजनीति करने वालों को भी प्रेम का पैगाम देते रहे..आखिर में वो सब भी इनके मुरीद हो गए..

कुछ महीने पहले हुए लोकसभा चुनाव में इनकी प्रतिभा को देखकर नॉर्थ ईस्ट दिल्ली से भाजपा ने चुनाव मैदान में उतारा और इन्होंने पार्टी को निराश ना करते हुए कांग्रेसी नेता जय प्रकाश अग्रवाल को हरा दिया..खुद के लिए इन्होंने जितनी मेहनत की और प्रचार किया उससे ज्यादा जनसभाएं इन्होंने पार्टी के दूसरे उम्मीदवारों के लिए किया..देशभर में सौ से ज्यादा जनसभाएं करते हुए करोड़ों लोगों का दिल जीता..हरियाणा का फरीदाबाद, रोहतक, भिवानी हो या महाराष्ट्र का नागपुर, मुंबई, ठाणे और देश का कोई भी हिस्सा हो जहां ये गए अपने करिश्माई व्यक्तित्व से जनता का दिल जीतते रहे..एक खिलाड़ी होने की वजह से ये बिना थके बिना रुके देश भ्रमण करते रहे और जहां गए ऐतिहासिक भीड़ इनका स्वागत करती रही..इस मामले में पूछे जाने पर मनोज जी कहते हैं जब हमारे प्रधानमंत्री देश को शिखर पर पहुंचाने के लिए दिन रात मेहनत कर रहे हैं तो मैं तो सिर्फ उनका एक सिपाही मात्र हूं..मनोज जी के इस सफर का गवाह मैं ही नहीं इनके समकक्ष पढ़े और भी लोग रहे हैं..जो इनकी इस प्रसिद्धि को सलाम करते हैं और उपर वाले से दुआ करते हैं कि ये सत्ता के शिखर पर पहुंचे..

लेखक अश्विनी शर्मा पत्रकार और विश्लेषक हैं. अश्विनी मुंबई और दिल्ली में कई मीडिया हाउसों में कार्य कर चुके हैं. इन दिनों भास्कर न्यूज में वरिष्ठ पद पर कार्यरत हैं.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “भाजपा में मोदी के बाद सर्वाधिक भीड़ बटोरू और डिमांडिंग नेता बने सांसद व गायक मनोज तिवारी!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *