योगीराज में पब्लिक ने दरोगा और सिपाही को हाईवे पर दौड़ा दौड़ाकर पीटा, देखें तस्वीरे-वीडियो

निर्मलकांत शुक्ला-

-ऑटो चालक से बदतमीजी करना पुलिस वालों को पड़ गया महंगा

-पिटने वाले दरोगा और सिपाही पुलिस लाइन में थे तैनात, ड्यूटी से गैर हाजिरी के दौरान हुई घटना

-एसपी दिनेश कुमार प्रभु ने सीओ सिटी को सौंपी जांच

-हंगामा करने वाले दरोगा और सिपाही हुए सस्पेंड

बदतमीजी करने वाले दरोगा का हाथ पकड़ कर उसकी पिटाई की गई।
सिपाही को धक्के देकर दौड़ाया।
पुलिस वालों को जमकर पिटाई।

उत्तर प्रदेश के जनपद पीलीभीत से बड़ी खबर है, जहां योगीराज में पूरनपुर हाईवे पर एक ऑटो चालक से बदतमीजी करना दरोगा और सिपाही को महंगा पड़ गया। भड़की पब्लिक ने पहले तो धक्के दे दे कर दरोगा और सिपाही को हाईवे पर दौड़ाया फिर उनकी पिटाई हुई। बाद में थाने ले जाकर पुलिस को सौंप दिया, घटना की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार प्रभु में तत्काल मौके पर सीओ सिटी सुनील दत्त को रवाना किया। ठुके-पिटे दरोगा और सिपाही का अस्पताल में मेडिकल परीक्षण कराया गया, जिसमें उनके शराब न पिये होने की बात डॉक्टर ने कही। हालांकि एसपी ने जांच बैठा दी है। दोनों को सस्पेंड कर दिया गया।

पुलिस लाइन में तैनात उप निरीक्षक सुभाष चौधरी और सिपाही मोहित उपाध्याय स्कॉर्पियो गाड़ी पर सवार होकर पूरनपुर में ड्यूटी से गैरहाजिर रहकर गजरौला थाना क्षेत्र में मुख्य चौराहे पर पहुंचे। उनके साथ गाड़ी में तीन लोग और सवार थे। इस बीच दरोगा और सिपाही मेन चौराहे पर खड़े ऑटो चालक से बदतमीजी करने लगे, यह सब नजारा दूर खड़ी पब्लिक देख रही थी।

पब्लिक को दरोगा और सिपाही गजरौला थाना क्षेत्र के नजर नहीं आए, तब उन्होंने नजदीक जाकर उनका नाम पूछा। नाम पूछते ही दरोगा और सिपाही पब्लिक पर भड़क गए और गालियां देने लगे। दरोगा और सिपाही को पब्लिक से बदतमीजी करना भारी पड़ गया। पब्लिक ने दरोगा और सिपाही को हाईवे पर धक्का देते हुए दौड़ाया और उनकी रुक रुक कर खासी पिटाई की।

पब्लिक को दरोगा और सिपाही को हाईवे पर कूटते देख कर इनके साथ आए तीनों साथी झटपट स्कॉर्पियो में बैठकर मौके पर से भाग गए। पब्लिक दरोगा और सिपाही को धक्का देते हुए थाने ले गई और कार्रवाई की मांग की। थाने में मौजूद स्टाफ में हड़कंप मच गया। किसी तरह पब्लिक का गुस्सा शांत किया।

ग्रामीणों का आरोप है कि सिपाही और दरोगा शराब के नशे में लड़खड़ा रहे थे। लेकिन जिला चिकित्सालय में मेडिकल परीक्षण में दरोगा व सिपाही का शराब न पिये होना पाया गया। जैसे ही पुलिस वालों की पिटाई होने की सूचना जिला मुख्यालय पर आई तो पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। पुलिस कप्तान ने तत्काल सीओ सिटी को मौके पर रवाना किया। आनन-फानन में सीओ सिटी गजरौला पहुंचे, उन्होंने जैसे तैसे स्थिति को संभाला।

दरोगा और सिपाही की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही पुलिस की पूरे जिले में जमकर फजीहत हुई।

कड़ी दंडात्मक कार्रवाई होगी : एएसपी

पीलीभीत । पूरनपुर हाईवे पर गजरौला में दरोगा व सिपाही के पब्लिक से बदतमीजी करने के प्रकरण में अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. पवित्र मोहन त्रिपाठी का कहना है कि मामले में सिपाही और दरोगा पर कड़ी दंडात्मक कार्रवाई होगी। दोनों पहले से लाइन हाजिर हैं और ड्यूटी से भी गैरहाजिर है। मामले की जांच सीओ सिटी कर रहे हैं। हरहाल में बड़ी और कड़ी कार्रवाई होगी।

संबंधित वीडियो देखने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें-

daroga sipahi ki pitai

https://www.facebook.com/bhadasmedia/videos/821951475185156/

https://www.facebook.com/bhadasmedia/videos/821951475185156/

विभाग द्वारा मेहरबानी किए जाने की चर्चा

चर्चा है कि पुलिस विभाग ने अपने दरोगा और सिपाही को बर्खास्त होने से बचा लिया है. मेडिकल रिपोर्ट ऐसी तैयार हुई है जिससे वर्दी वाले ज्यादा बड़ी कार्रवाई से बच जाएंगे. सिपाही ने जो शिकायती पत्र दिया है उससे ही शराब पिए होने की तरफ इशारा होता है. पत्र में कहा गया है कि जनता और मीडिया वाले उन पर शराब पिए होने का आरोप लगा रहे थे इसलिए उनका परीक्षण करा लिया जाए. तो, मौके पर जनता को अच्छे से पता होता है कि कौन पिए है और कौन नहीं पिए है. वीडियो देखकर भी समझ में आ रहा है कि दोनों वर्दी वाले पिए हुए हैं. इनकी चाल लड़खड़ा रही है. चेहरा मोहरा एक्सप्रेशन बता रहा है कि ये सामान्य अवस्था में नहीं हैं. लेकिन पुलिस विभाग अगर मेहरबान हो गया तो चोर भी इमानदार घोषित कर दिया जाता है.

पीलीभीत में पब्लिक के आक्रोश का शिकार बने दरोगा-सिपाही ने दी गजरौला थाने में तहरीर। कार्रवाई न होने पर दी आत्मदाह की धमकी। पब्लिक और मीडिया पर लगाया स्वयं को शराब के नशे में होने का झूठ प्रचारित करके घटना घटित करने का आरोप।

वरिष्ठ पत्रकार निर्मलकांत शुक्ला की रिपोर्ट.



भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code