RSTV का वार्षिक बजट 62.50 करोड़ था, इसमें से 25 करोड़ रुपये एनडीएमसी को किराया जाता था

Gurdeep Singh Sappal : अब जब ये साफ़ कर दिया गया है कि RSTV का वार्षिक बजट केवल ₹62.50 करोड़ था और उसमें भी ₹25 करोड़ केवल NDMC को जाता था, मुझे उम्मीद है कि ₹1700 करोड़ -₹ 3000 करोड़ ख़र्च का झूठा प्रचार अब थम जाएगा। राज्य सभा टीवी ईमानदार नीयत और निष्ठा से एक असरकारक पब्लिक broadcaster के रूप में स्थापित किया गया था। मैं आशा करता हूँ कि इसकी दूसरी पारी भी शानदार रहेगी।

Now that it has been officially made clear that RSTV’s expenditure is just ₹62.5 crore a year, out of which ₹25 crore goes to NDMC, the fake news campaign of ₹1700 crore or ₹3000 crore spent stands exposed. RSTV was created as robust public broadcaster and with good intentions. I wish it great second innings now.

राज्यसभा टीवी के संस्थापक, सीईओ और एडिटर इन चीफ रहे गुरदीप सप्पल की एफबी वॉल से.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *