महाराष्ट्र में अखबारों के फर्जीवाड़े पर सुप्रीम कोर्ट में केस करने की तैयारी

महाराष्ट्र का कामगार विभाग कामगारों के लिये नहीं बल्कि अखबार मालिकों के हित में काम कर रहा है। जस्टिस मजीठिया वेज बोर्ड मामले में महाराष्ट्र के कामगार आयुक्त कार्यालय ने हाल में ही एक सूची जारी की है जिसमें उन अखबारों के नाम है जिन्होंने मजीठिया वेज बोर्ड की सिफारिश पूरी तरह लागू कर दिया है।

अगर आप इनमें किसी भी अखबार में काम करते हैं और आपको जस्टिस मजीठिाय वेज बोर्ड के अनुसार वेतन नहीं मिल रहा है तो सामने आईये। मुझसे संपर्क करें। इस फर्जीवाड़े पर महाराष्ट्र के लेबर कमिश्नर के खिलाफ जल्द ही माननीय सुप्रीमकोर्ट में एक अवमानना का मामला चलाया जायेगा। लेकिन उसके लिये जरुरी है कि पहले ये साफ हो जाये कि ये लिस्ट पूरी तरह फर्जी ही है।

इसे फर्जी साबित करने के लिये इन अखबारों के कर्मचारियों को सामने आना होगा। तभी उन्हें जस्टिस मजीठिया वेज बोर्ड का लाभ मिल सकता है और इस फर्जीवाड़े का खुलासा हो सकता है। इन अखबारों में कई के बारे में तीन महीने पहले तक आर्थिक हालत खराब लिखकर लेबर कमिश्नर ने सुप्रीम कोर्ट को दिया था। अब ये अखबार पूरी तरह स्वस्थ हो गए हैं, ऐसा बता रहा है लेबर डिपार्टमेंट। आईये नजर डालते हैं ताजी लिस्ट पर। इन अखबारों में पूरी तरह लागू है जस्टिस मजीठिया वेज बोर्ड की सिफारिश..

१- द बांबे समाचार प्राईवेट लिमिटेड- मुंबई
२- राणे प्रकाशन प्राईवेट लिमिटेड- मुंबई
३- हिन्दुस्तान टाईम्स लिमिटेड
४- कोरियर पब्लीकेशन्स प्राईवेट लिमिटेड- मुंबई
५- द हिन्दू पब्लीकेशन्स – मुंबई
६ दैनिक प्रत्यक्ष, मेसर्स लोटस पब्लीकेशन्स मुंबई
७ प्रात: काल हिन्दी दैनिक – मुंबई
८ मुंबई मित्र – मुंबई
९ दिनकरन पब्लीकेशन्स
१० राष्ट्रीय सहारा – मुंबई
११ दैनिक धावते – नवनगर
१२- रत्नागिरी टाईम्स – रत्नागिरी
१३ दैनिक सागर – रत्नागिरी

पुणे डिविजन
१४ सकाल – पुणे
१५-डेली प्रभात- पुणे
१६- दैनिक पुढारी – कोल्हापुर
१७ – दैनिक जनप्रवास- सांगली
१८- दक्षिण केसरी – सांगली

नागपुर डिविजन
१९ – नवभारत – नागपुर
२०- तरुण भारत – नागपुर
२१- हितवैद – नागपुर
२२- आलइंडिया रिर्पोटर – नागपुर
२३- दैनिक भास्कर – नागपुर
२४- डेली हिन्दुस्तान- अमरावती
२५ – अमरावती मंडल – अमरावती
२६- जन्मध्याम – अमरावती
२७- प्रतिदिन – अमरावती
२८- दैनिक अमरावती दर्शन – अमरावती
२९ अपना महाविदर्भ(मराठी और हिन्दी) अमरावती
३०- दैनिक मातृभूमि- अकोला
३१- सांझ दैनिक राष्ट्रदूत- नागपुर

नासिक डिविजन
३२- दैनिक भमर- नासिक
३३- दैनिक नवमराठा- अहमदनगर
३४ दैनिक आपला महाराष्ट्र – धुले
३५- दैनिक वार्ता- धुले

औरंगाबाद डिविजन
३६ – लोकमत , लोकमत समाचार, लोकमत टाईम्स
३७ -दैनिक लोकपत्र -औरंगाबाद
३८- दैनिक सत्यप्रभा- नांदेड़
३९- लातूर समाचार- लातूर
४०- दैनिक लोकमान- लातूर
४१- दैनिक राजधर्म- लातूर
४१ दैनिक गांववाला – हिंगोली
४१ दैनिक पार्श्वभूमि- जालना

शशिकांत सिंह
पत्रकार और आरटीआई एक्सपर्ट
एनयूजे महाराष्ट्र के मजीठिया सेल समन्वयक
९३२२४११३३५

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Comments on “महाराष्ट्र में अखबारों के फर्जीवाड़े पर सुप्रीम कोर्ट में केस करने की तैयारी

  • Kashinath Matale says:

    Hitavada Shramik Sangh Nagpur (union of Hitavada employees) file a case before the ACL, Nagpur, Mah in 2014 for proper implementation of Recommendations of Majithia Wage Board. Union justified its demands, management also file its reply.
    Asstt. Labour Commissioner/ Conciliation Officer ( partial authority Nagpur and Yavatmal) Shri R D Gulhane colse the case as failure. (Earlier said case was before Asstt. Labour Commissioner/ Conciliation Officer Shri V R Panbude.) Shri ACL, Nagpur Shri A K Pendse Reffere the said case to the Industrial Tribunal for further Adjudication on 24th January, 2017.
    Ind. Court Nagpur put the case for first time for hearing on 10/03/2017.
    Now Union is preparing the matter for Ind. Court.
    Hope matter will be disposed as early as possible.
    SATYA MEV JAYATE !!!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *