इंडिया टीवी के कई वरिष्ठों पर गिरी गाज, हड़कंप

इंडिया टीवी में हड़कंप मचा हुआ है। कई वरिष्ठों से इस्तीफा लिया गया है। बताया जा रहा है कि प्रबन्धन ने आरिफ खान, सईद, प्रदीप रंजन, अरुण पांडेय समेत 5 सीनियर्स से रिजाइन लिया है।

इन वरिष्ठ पत्रकारों में ज्यादातर दस से पंद्रह वर्षों से संस्थान के साथ थे। प्रबन्धन ने इन्हें भी एक झटके में निकाल बाहर कर दिया। बताया जाता है कि कम्पनी ने इन्हें 2 महीने की सेलरी देने का वादा किया है। ये सभी इस्तीफे कल और आज लिए गए हैं। चर्चा है कि कुछ और लोग भी हटाए जा सकते हैं।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “इंडिया टीवी के कई वरिष्ठों पर गिरी गाज, हड़कंप

  • इंडिया टीवी अब नौकरी करने के लायक नहीं यहां पर लोगों की जिंदगी से खेला जाता है। अपनी सारी जवानी यहां लगाने के बाद लोगों के एक मिनट निकाल दिया जाता है। इस लिए इंडिया टीवी में अपनी जिंदगी बर्बाद करने से जादा अच्छा है कहीं और काम कर लिया जाय अब रजत शर्मा ये मानता है नौकर पैसे से और मिल जायेंगे ये लोग पुराने हो गये हैं जितना निचोड़कर निकालना था निकाल लिया। और जब इनको कहीं और नौकरी मिलती है तो जाने से रोकता है और कहता है तुम क्यों छोड़कर जा रहे हो और उनको इमोशनल ब्लैक मेल करके रोक लेता है और बाद में उनकी जिंदगी बर्बाद कर देता है। ये जितने लोग निकाले हैं ऐसा नहीं है कि इनको कहीं नौकरी नहीं मिली होगी मगर इनको रोका गया है। अब इनकी जिंदगी बर्बाद कर दी और अभी औरों की भी होगी क्योंकि रजत शर्मा शुरू से ही तानाशाह की तरह रहा है। और अब तो और हो गया है क्योंकि सरकार को जो कहता है मेरी मुट्ठी में है मै कुछ भी कर लूं मेरा कोई कुछ नहीं कर सकता।

    Reply
  • प्रकाश says:

    इंडिया टीवी मैं लोगों से जबरदस्ती इस्तीफा लिया जा रहा है वहाँ पर असाइनमेंट से लगभग सभी लोगों को निकाल दिया गया अब बस रजत शर्मा का खास खबरी दत्तक पुत्र ही बचा है। इंडिया टीवी में मैनेजमेंट कर्मचारियों को बुलाता है और उनके फोन बाहर रखवा देता है फिर अपने सिकोर्टी गार्डों को बुलवाकर कर्मचारियों से इस्तीफा लिखवाया जा रहा है और वहां पर उनकी लीगल महिला भी बैठा के रखा है। ये बात वहीं के एक कर्मचारी ने जिससे इस्तीफा लिया उसने बताया कि इंडिया टीवी इस तरह से व्यवहार कर रहा है। ये है रजत शर्मा का असली चेहरा।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *