मजीठिया वेज बोर्ड की सुनवाई 23 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट में

देश भर के मीडियाकर्मियों के वेतन, प्रमोशन तथा एरियर से जुड़े मजीठिया वेज बोर्ड मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई 23 फरवरी को होगी। हाल ही में सुप्रीमकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के निर्देश पर तय किया गया था कि मंगलवार को नए मामले ही सुने जाएंगे और मंगलवार को जो पहले से चल रहे पुराने मामले हैं, उन्हें किसी भी कार्य दिवस में सुना जाएगा। इसके बाद 17 जनवरी को होने वाली जस्टिस मजीठिया वेज बोर्ड की सुनवाई की डेट भी प्रभावित हुई थी क्योकि इस मामले की सुनवाई भी मंगलवार को होती थी।

बताते हैं कि गत दिनों एक एडवोकेट माननीय सुप्रीमकोर्ट पहुंचे थे और मजीठिया वेजबोर्ड मामले की सुनवाई कर रहे विद्वान् न्यायाधीश रंजन गोगोई के सामने केस का मेंशन किया और उनसे गुहार लगाई कि इस मामले की डेट जल्द से जल्द लगायी जाए। इसके बाद श्री गोगोई ने स्पस्ट तौर पर कहा था  कि जितने भी केस प्रभावित हुए हैं सभी मामलों की सुनवाई 6 सप्ताह के अंदर शुरू हो जायेगी।

जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा था जस्टिस मजीठिया वेज बोर्ड मामले की सुनवाई के हम अंतिम मोड़ पर हैं और इस केस की एक एक बारीकियां मेरी नजर में है। आपको बता दें कि मजीठिया वेज बोर्ड मामले की 10 जनवरी को सुनवाई हुई थी जिसमे श्री गोगोई ने लंबी सुनवाई के बाद 17 जनवरी का डेट दिया था मगर इसी बीच माननीय मुख्य न्यायाधीश का आदेश आ गया कि मंगलवार को अब नए मामले की सुनवाई होगी और पुराने मामलों की सुनवाई सभी दिन होगी। 10 जनवरी को हुयी सुनवाई में पत्रकारों की तरफ से चर्चित एडवोकेट प्रशांत भूषण भी शामिल हुए थे और उन्होंने भी मीडियाकर्मियों का पक्ष रखा था। माना जारहा है कि 23 फरवरी को अखबार मालिकों के खिलाफ अवमानना और लीगल पक्ष पर भी सुनवाई होगी।

शशिकांत सिंह
पत्रकार और आर टी आई एक्सपर्ट

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Comments on “मजीठिया वेज बोर्ड की सुनवाई 23 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट में

  • Aiye jante hai aane wali agli 23 Feb ko Kya milega…,…….
    Jawab hai…..
    Sirf tareekh….
    Taiyar rahiye agli tareekh ko…
    Aur Jo bhi majithiya ki khabre post Karta hai jaise shashikant Ji and others wo bhi ye jante hai ki supreem court apne ki faisale per uljhan me hai kyon ki desh ki sarvocch nyayaley jisne apna faisala kareeb 2 saal pehle hi de Diya tha Abhi tak uski sunwayi me lagi hai na ki koi thosh kadam utha Kar hum karamchariyon ko thodi rahat pahuchaye…
    Har aadmi janta hai ab tak court ko awmanna ka notice dekar company ke MD aur CHAIRMAN ko court me talab karna cahiye tha per aisa ho nahi raha aur na hoga…
    Keep waiting it’s not a negative thought it’s a real fact which is not being accepted by the employees that the newspaper owner will not give majithiya and court will give date and date and date

    Reply
  • संजीव रत्न मिश्र says:

    तुम मुझको छु कर भागो मै तुमको छु कर भागु मजीठिया का कमाल रातों रात नौकरी बदल गयी पता भी नही चला काम अख़बार का लिखापढ़ी डिजिटल की?

    Reply
  • Shashikant ji, ye legal paksh ka workout kaun wakeel kar rahey hain…. Umesh ji, Prashant ji ya Colin Gonsalves ji? Aur inme kaun SC se Adhikrit hokar mamley par bolenge? Kripya batayen….?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *