मुकेश अंबानी ने लूट लिया बिग बाजार /फ्यूचर ग्रुप को! नोट कर लें- मीडिया में कोई न्यूज़ न आएगी!

अश्विनी कुमार श्रीवास्तव-

अंबानी चट कर गए हजारों करोड़ की मलाई! मुकेश अंबानी ने बिग बाजार डील के नाम पर जिस तरह का खुला खेल खेला है , वह अगर अमेरिका, यूरोप, आस्ट्रेलिया आदि विकसित देशों में किसी भी बड़े से बड़े उद्योगपति ने खेला होता तो वहां उसका जेल जाना तय था।

कुल 24-25 हजार करोड़ की डील होते ही अंबानी ने बिना पूरा भुगतान किए महज कानूनी दांवपेंच खेल कर बिग बाजार स्टोर्स हथिया लिए। फिर फ्यूचर ग्रुप के शेयरधारकों और कर्जदाता बैंक आदि का हजारों करोड़ न देना पड़े, इसके लिए डील ही रद्द कर दी।

अब फ्यूचर ग्रुप के शेयरधारकों के पास कर्ज में डूबी, कंगाल और स्टोर विहीन कम्पनी के शेयर रूपी कागज के टुकड़े ही बचे हैं। जाहिर है, कारोबार विहीन, कर्जदार और दीवालिया कम्पनी को लेने के लिए अब न तो अमेज़न कोई रुचि दिखाएगी और न ही कम्पनी खुद अपने पांव पर खड़ी हो पाएगी।

ऐसे में फ्यूचर ग्रुप के शेयरधारक और कर्जदाता अपने हजारों करोड़ के डूबने का शिकवा लेकर कहां जाएंगे, यह भी बड़ा पेचीदा सवाल है। कानूनी दांव- पेंच लगाकर जिस शातिराना ढंग से ये हजारों करोड़ और फ्यूचर ग्रुप के स्टोर्स हथियाए गए हैं, उसे लूट साबित कर पाना तब ही संभव है, जब खुद सरकार या मीडिया, न्यायपालिका आदि दिन दहाड़े हुई इस लूट को देखने लायक अंतरात्मा अपने भीतर जगा सकें।

इसे भी पढ़ें-

दो धनपशुओं की लड़ाई में फ़्यूचर रिटेल के आम शेयरधारक पिस गए! https://www.bhadas4media.com/future-retail-share-latest-news/

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “मुकेश अंबानी ने लूट लिया बिग बाजार /फ्यूचर ग्रुप को! नोट कर लें- मीडिया में कोई न्यूज़ न आएगी!

  • लुटेरा says:

    बात तो सही है लेकिन यह मत भूलो की यहां सब लुटेरे ही हैं बस मौका मिलना चाहिए। और भारत में लुटेरों को डरने की जरूरत भी नहीं है क्योंकि जो उंगली उठाएगा वही चोर माना जाएगा।

    Reply
    • R. K. Gupta says:

      Amazon ko kuch Mt bolo… Gand fad dega tmhari… TM jaise dallo ki wajah se desh badn hota h… Amazon ne 18month se deal hone nhi diya… Major creditors ne loan defalter kr diya… To reliance ne back off karke galat kiya?

      Reply
  • Chandan Singh says:

    निहायत बकवास और बिना सिरपैर का दो कौड़ी का आर्टिकल है, गूगल पर बच्चा भी रिसर्च कर के जान सकता है कि रिलायंस और फ्यूचर डील रद्द होने के पीछे किशोर बियानी और एमेजोन जिम्मेदार है क्योंकि फ्यूचर के सिक्योर्ड लेंडर्स ने डील को मंजूरी नहीं दी थी और एमेजोन ने 2 साल से अदालत में फंसा रखा था।
    https://www.google.com/amp/s/www.ndtv.com/business/futures-creditors-voted-against-deal-so-it-cannot-be-implemented-reliance-2913245/amp/1

    Reply
  • Raghavendra Bajpai says:

    सर जी, मुझे तो लगता है इसमें बियानी जी की भी मिली भगत है।
    मेरा तो बहुत नुकसान हो गया।

    Reply
  • ऐसे बिना सिरपैर का आरोप लगाने को कम से कम पत्रकारिता मत कहो। जो मुहं में आया बक दिए। हजारों करोड़ कहाँ से कमाए, उसका कोई पता नही। जब डील रद्द हो गयी तो स्टोर भी वापस फ्यूचर के पास जाएगा। जैसे डील रद्द नही होता तो शेयरहोल्डर अरबपति बने बैठे थे। amazon क्या करेगा उसकी भी भविष्यवाणी ना करो। डील रद्द क्यों हुई? ये बताने में क्या समस्या थी?? कर्जदारों ने ही मना कर दिया था इस डील से तो रद्द हो गई।

    Reply
  • Shrivastav ji India 2 leaders (modi ji and amit ji)and 2 business man ki hi chalti h ( ambani ji and adani ji) bechara biryani ji ko kahi ka nahi chhora fir * make in India * ki bat karte h, jo company already chal rahi h unko support nahi kar pa rahe h new company to soch ke mar jayega ki kal ko ambani ji and adani ji daba n le sara kuch

    Reply
  • I am new enterant to trading market !
    I suprised when I try to sell out the future enterprise share that selling had been suspended which creates havoc to me as I feel have been looted for my hard earned money for all the shares which is approx of 3000 at no.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code