कंगाली के कगार पर नेटवर्क10, बकाए रुपयों के लिए एनएसटीपीएल ने भेजा नोटिस

उत्तराखंड से सूचना है कि देहरादून से संचालित चैनल, नेटवर्क 10 को एनएसटीपीएल ने करीब 25 लाख रुपये बकाये का नोटिस भेजा है। सूत्रों की माने तो चैनल के कर्मचारियों को पिछले 3-4 महीनों से सैलरी भी नहीं मिली है। सैलरी देने के मुद्दे पर चैनल मालिक राजीव गर्ग और चैनल की कमान सम्हाल रहे देवेन्द्र नेगी में रोजाना झगड़ा हो रहा है। चैनल पर कई जगह का लाखों रुपया बकाया है जिसे लेकर रोजाना चैनल को नोटिस आ रहे हैं।

network10

चैनल पर एनएसटीपीएल का 25 लाख रुपया बकाया था समय पर भुगतान न मिलने के कारण एनएसटीपीएल ने चैनल को नोटिस थमा दिया है। शुरुआत से ही इस चैनल की ग्रह दशा ठीक नहीं रही है। चैनल के मालिक उत्तराखण्ड के नामी ठेकेदार है इसके कारण सरकार में अपना रुतबा कायम करने के लिये इन मालिकों ने चैनल खोलने की सोंची और बड़े-बड़े सब्जबाग दिखाकर सैकड़ों पत्रकारों को काम करने के लिये बुलाया गया। सूत्रों की माने तो नेटवर्क10 चैनल जबसे खुला तब से इसके मालिकों ने इसे करीब 4 से 5 लोगों को बेचकर चैनल के नाम पर करोड़ो रुपये डकार लिये।
 
वहीं बीच में नेटवर्क10 चैनल को चलाने के लिये उत्तराखण्ड सरकार में खासी पैठ रखने वाले वरिष्ठ पत्रकार अशोक पाण्डे को भी इस चैनल से जोड़ा गया। अशोंक पाण्डे अपनी टीम के साथ चैनल में आये और चैनल के मालिकों द्वारा कर्मचारियों को 6-6 महीनों की सैलरी न दे पाने के कारण भी अपने अनुभव के दम पर चैनल को बुलंदियों पर ले गये। लेकिन विडम्बना ये रही कि वक्त के साथ-साथ चैनल के आर्थिक हालात इतने खराब हो गये कि अशोक पाण्डे भी अपनी टीम के साथ चैनल छोड़कर चले गये। इन मालिकों ने अशोक पाण्डे व उनके कर्मचारियों की भी लाखों रुपये की सैलरी डकार ली।

अब इस चैनल की कमान देवेन्द्र नेगी के हाथ में है जोकि दाम-दाम खाली है और रोजाना कर्मचारियों को सैलरी देने के लिये प्रबंधन से गुहार लगा रहे है वही राजीव गर्ग चैनल में कर्मचारियों को सैलरी न देकर चैनल बंद करने की बात कर रहे हैं। एनएसटीपीएल के नोटिस भेजे जाने के बाद सभी कर्मचारी डरे हुए है और यह भी चर्चा है कि कभी भी इस चैनल मे ताला पड़ सकता है।

 

भड़ास को भेजे गए पत्र पर आधारित।



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “कंगाली के कगार पर नेटवर्क10, बकाए रुपयों के लिए एनएसटीपीएल ने भेजा नोटिस

  • Divya Prakash says:

    नेटवर्क १० कभी भी बुलंदियों पर नहीं पहुंचा. शुरुआत में ही इसके साझीदारों में झगडे होते रहे. वसंत निगम और अशोक पांडे के मतभेत तो शुरुआती दिनों में स्क्रीन तक पर दिखाई देने लगे थे. हैरत होती है की जब गाँठ में दाम ही नहीं हों तो क्या सोचकर चैनल खोल दिया जाता है. ऐसे लोगों से पत्रकारों को भी सावधान रहना चाहिए. 8)

    Reply
  • Hahaha….wah kya jhoot likha h …or sabse funny line to ye h ki employee ki salary nhi mil rhi h … Jisne b ye post dala h to bhai saal 2013 chala gaya h or channel mai buri nazar rakhne wale b chale gaye h …ab aap b present mai aa jaiye kahan past mai Ji rahe h…

    Reply
  • Main Network10 ko roz dekhti hu or isme hone wale naye or acche badlao N10 ke viewer’s ko b saaf dikhayi de rahe h … Kya ho rha h kya nhi ye NEtwork 10 ka anduruni mamla h lekin ek viewer hone ke naatey mera network 10 ko ek hi sandesh h ki …kutto ke bhokne se haathi apna rasta nhi badalta…
    Or jinhone b network 10 ka bura chaha aaj unki kya haalat h Sara dehradun or media janta h

    Reply
  • जब से श्री देवेन्द्र नेगी जी नेटर्वक 10 के एमडी बने हैं। तब से इस चैनल के अच्छे दिन आना शुरू हुएं है। लेकिन इसका इस्तेमाल अपने निजी फायदे के लिए करने वाले कुछ लोग इसे पचा नही पा रहें हैं। उनकी आंखों को नेटर्वक 10 की लगातार होती तरक्की चुभ रही है। इसलिए वो अफवाहें फैलाने का काम कर रहें। नेटर्वक 10 के सभी कर्मचारियों को पहली बार समय से वेतन मिल रहा है। और चैनल को उत्तराखंड में अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। श्री देवेन्द्र नेगी जी के नेतृत्व में चैनल की पूरी टीम बेहत्तर काम कर रही है।

    Reply
  • नेटवर्क 10 मस्त चल रहा है…सब को टाइम से सेलरी मिल रही है..कुछ लोग जबरन इसे बदनाम करने पर तुले हैं..जब से श्री नेगी जी ने चेनल को टेकओवर किया है…तब से चैनल की आर्थिक रूप से भी मजबूत हुआ है…और अच्छा चल रहा है..

    Reply
  • अरे साहब कोई इस मजदूर पत्रकार से भी तो पूछ ले हालचाल। मैं पिछले तीन सालों से नेटवर्क 10 के साथ जुड़ा हूंं। तो यहां जो सच है पर वो बोलना तो पड़ेगा भाई। और सच यही है कि पिछले यानि की सितंबर 2013 से आज के सितंबर 2014 तक यानी की पूरे 12 महीने मेरे साथ पूरे स्टाफ की सेलरी तय समय पे और जरूरत के वक्त पूरी मदद श्री देवेंद्र सिंह नेगी जी जो हमारे सीएमडी हैं, ने की है। पिछले एक साल से यहां सब कुछ फर्स्ट क्लास है भाई हां अगर किसी को कहीं सेलरी न मिल रही हो और नौकरी की तलाश हो तो हमारा नेटवर्क भी बड़ा है और दिल भी उनका स्वागत पिछसे साल दिवाली में नेवटर्क 10 रोशनी से जगमगाया था और हर स्टाफ को एमडीजी की तरफ से बोनस दिया गया था। और इस बार डबल बोनस स्टाफ को दिया जा रहा है भाई। दीवाली में आयो आपका स्वागत है।

    Reply
  • सभी मित्रों को प्रणाम…
    लगभग 2 साल पहले N10 के साथ जुड़ना चाहता था…उस समय के वॉस के साथ सैलरी भी तय हो गया… लेकिन पत्रकार मित्रों के अनुभव N10 के साथ अच्छे नहीं थे…सभी लोगों ने मुझे कहा चैनल कब बंद हो जाए पता नहीं मत जाओ N10 ….
    मैनेजमेंट बदला तो एक बार फिर कोशिश की आज से छ महिने पहले…
    मुझे आज चैनल के साथ पूरे छ महिने हो गए…अब तक टाइम से सैलरी, जरूरत पड़ने पर छुट्टी मिली रही है…मैं नहीं जानता भड़ास पर किसने ये सब छपवाया…पूराने मैनजमेंट के बारे में सब जग जाहिर है…कुछ भी कहने या लिखने की जरूरत नहीं समझता…लेकिन ये 100 फीसदी सच है कि चैनल बिलकुल ठीक चल रहा है…फाइनेंस को लेकर कोई भी दिक्कत दूर-दूर तक नजर नहीं आती…
    अब बात करें भड़ास पर खबर छपने की तो यशवंत जी अप मीडिया के पूराने खिलाड़ी हैं…अप से अनुरोध है आप भड़ास पर खुब लोगों की टांग खीचें…लेकिन एक बार खबर को पुख्ता कर लें…मेरा दून में घर है कुछ भी काम कर सकता हूं थोड़ा-बहुत पढ़ा लिखा भी हूं…लेकिन बहुत से एसे लोग भी हैं जो चैनल से जुड़े हैं और जिनका घर इसी नौकरी से चलता है…इस तरह की खबर से कर्मचारियों में दहशत और कभी भी नौकरी जाने का खौफ बना रहता है….

    Reply
  • ueLdkj i¾dkj HkkbZ;ksa&&&eS bl pSuy ls ^kq:vkr ls gh tqM+h gwa &&&&izns*k esa ykbo pSuy esa dke djus dk ekSdk &&&eq>s usVodZ 10 esa gh feyk gS eS vius ikfjokfjd dkj-kksa ds dkj-k pSuy ls dk;ZeqDr gqbZ Fkh&&ysfdu flrEcj 2013 ls eS fQj laLFkku ds tqM+h D;ksa fd pSuy dh deku bl ckj pSuy ds ]eMh Jh nsosUnz flag usÛh th laHkkyhA vkSj cl irk gh ugh yÛk dSls ]d lky ;wa gh fudy Û;k&&&gLrs dke djrs vkSj ÛquÛqukrs ÛquÛqukrs &&&&ysfdu vc nq[k bl ckr dk gks jgk gS vkSj galh Hkh vk jgh gS tks yksÛ dy rd bl pSuy dk fgLlk Fks vkSj blh pSuy ds tfj;s vius ifjokj dks iky jgs Fks vkt ogh yksÛ pSuy dks csotg cnuke dj jgs gSA

    Reply
  • नमस्कार पत्रकार भाईयों…मै इस चैनल से षुरूआत से ही जुड़ी हूं ….प्रदेष में लाइव चैनल में काम करने का मौका …मुझे नेटवर्क 10 में ही मिला है मै अपने पारिवारिक कारणों के कारण चैनल से कार्यमुक्त हुई थी..लेकिन सितम्बर 2013 से मै फिर संस्थान के जुड़ी क्यों कि चैनल की कमान इस बार चैनल के एमडी श्री देवेन्द्र सिंह नेगी जी संभाली। और बस पता ही नही लगा कैसे एक साल यूं ही निकल गया…हस्ते काम करते और गुनगुनाते गुनगुनाते ….लेकिन अब दुख इस बात का हो रहा है और हंसी भी आ रही है जो लोग कल तक इस चैनल का हिस्सा थे और इसी चैनल के जरिये अपने परिवार को पाल रहे थे आज वही लोग चैनल को बेवजह बदनाम कर रहे है।

    Reply
  • MANISH DANGWAL says:

    मेरा सौभाग्य रहा कि मैने पत्रकारिता की शुरूआत ही सीएमडी नेटवर्क 10 श्री डीएस नेगी जी के साथ की और अब तक का जो अनुभव रहा है उसे देखते हुए लगाता है कि ये मेरा सौभाग्या रहा कि मेरी पत्रकारिता की शुरूवात ही उनके साथ हुई। पिछले 1 साल में जब से नेटवर्क 10 को इण्डिया टाईम्स ग्रुप ने ओरव टेक किया है तक से नेटवर्क 10 नए बुलंदियो को छू रहा है जो कुछ लोगों को पच नहीं पा रही है यही वजह है कि वह इसे बदनाम करने में तुले हुए है। नेटवर्क 10 जितनी बुलंदियों को छुएगा उसे बदनाम करने वालों के दिल में उतनी ज्यादा पीड़ा होगी।

    Reply
  • Aaj to bhadas ne jhoot ki hadd hi paar kr di …. Yashwant Ji kuch to sach post kiya hota Jo aam janta ko b pach jaye …..fake portal site …bekar ghatiya …Sab jhoot chapne wali is portal ko band ho Jana chahiye

    Reply
  • SONALI SHARMA says:

    किसी मशहूर व्यक्ति ने सच ही कहा है कि जब आपके आलोचक पैदा होने लगे, लोग आपसे जलन और ईष्र्या महसूस करने लगें तब आप समझ जाइएगा कि आप सही दिशा में जा रहें हैं। नेटवर्क 10 के साथ भी कुछ ऐसा ही है। बुलंदिया छू रहें नेटवर्क 10 को बदनाम करने की कोशिश करने वाले क्या जाने की ये चैनल और इसमे काम कर रहें तमाम कर्मचारी हर दिन तरक्की की नई इबारत लिख रहें हैं। इसलिए बेबुनियादी योजना बनाने वाले बधुओं, ख्याली पुलाव बनाने से समुन्द्र पार होने वाला नहीं है… निंदा करने से आपका उध्दार होने वाला नहीं है।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code