सहारा में हलचल, गौतम सरकार के इस्तीफे की अफवाह, कानपुर के मार्केटिंग हेड संतोष हटे, अश्विन ने भारत लाइव24 छोड़ा

सहारा मीडिया में इन दिनों हर रोज कोई न कोई नई अफवाह फैल रही है. ताजी चर्चा सीईओ गौतम सरकार के इस्तीफे की है. सुमित राय का कद पद बढ़ाए जाने के बाद से गौतम सरकार को लेकर कयास लगाए जाने लगे थे. बताया जाता है कि गौतम सरकार को साइडलाइन कर दिया गया था. अब कानाफूसी है कि गौतम सरकार ने इस्तीफा दे दिया है. इस्तीफा कुबूल हुआ है या नहीं, ये पता नहीं चल सका है. उधर इस अफवाह की पुष्टि के लिए कोई सामने नहीं आ रहा है.

उधर, राष्ट्रीय सहारा अखबार के कानपुर आफिस से सूचना मिल रही है कि मार्केटिंग हेड संतोष लखेरा कार्यमुक्त कर दिए गए हैं. बताया जाता है कि राष्ट्रीय सहारा कानपुर के मार्केटिंग हेड संतोष लखेरा पर कुछ आरोप लगे थी जिसकी जांच सहारा प्रबंधन ने कराई. कहा जा रहा है कि जिले में संवाददाता रखे जाने के के नाम पर खेल चल रहा था. उरई में जिला संवाददाता रखने के नाम पर कोच के अशफाक उल्ला खान से डील करके उनको उरई की जिम्मेदारी लखेरा ने यूनिट के द्वारा दिलवा दी थी. लेकिन 3 महीने बाद दूसरे व्यक्ति से डील करके नई नियुक्ति करवा दी. इसके बाद अशफाक ने मामला लिखित रूप से उच्च प्रबंधन के संज्ञान में ला दिया. वरिष्ठ अधिकारियों ने मामले की जांच की. लंबी जांच के बाद मार्केटिंग हेड संतोष लखेरा को टर्मिनेट कर दिया गया है. कहा जा रहा है कि संतोष लखेरा के खिलाफ जांच में कई लोगों ने ऑडियो क्लिप भी वरिष्ठ अधिकारियों को दी है. कानपुर में मार्केटिंग हेड की नई जिम्मेदारी अब अनिल निगम को दी गई है.

उधर, भारत लाइव24 को अलविदा कह नए सफर पर निकले एंकर अश्विन मिश्र. भारत लाइव24 के पहले अश्विन ‘रिपब्लिक टाइम्स’ डिजिटल में एक रिपोर्टर थे. ‘रिपब्लिक टाइम्स’ से पहले ‘स्वतंत्रता स्वरूप’ पत्रिका में कॉपी एडिटर के पद पर कार्यरत थे. अश्विन ने अपना करियर अमेठी के स्थानीय न्यूज़ पेपर से शुरू किया था. इसके बाद वह विभिन्‍न चैनल और अखबारों जैसे ज़ी न्यूज़, समाचार प्लस और दैनिक जागरण में भी काम किए.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

One comment on “सहारा में हलचल, गौतम सरकार के इस्तीफे की अफवाह, कानपुर के मार्केटिंग हेड संतोष हटे, अश्विन ने भारत लाइव24 छोड़ा”

  • Neeraj mishra says:

    Hamirpur me bhi yahi hua sri ram sagar mishra ji ke saath or pukhraya ke kisi aese vyakti ko bheja gaya jine 1 month tak office tak nahi khola, or kai dino tak hamirpur page me hamirpur ki koi news nahi thi…or pahle har roaj khabron ke liye baar baar phone ate the…To daam Karen sab kaam.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *