व्यापमं घोटाला कवर करने गए आजतक के स्पेशल करेस्पांडेंट और एसआईटी हेड अक्षय सिंह की झाबुआ में लाश मिली

मध्य प्रदेश के कुख्यात व्यापमं घोटाले को कवर करने गए आजतक न्यूज चैनल के स्पेशल करेस्पांडेंट अक्षय सिंह की झाबुआ में मौत हो गई है. आशंका जताई जा रही है कि व्यापमं घोटाले के उन बड़े आरोपियों ने अक्षय को ठिकाने लगाया है जो इस घोटाले से जुड़े अब तक दर्जनों लोगों को निपटा चुके हैं. सूत्रों के मुताबिक अक्षय के हाथ व्यापमं घोटाले की ढेर सारी बातें हाथ लग गई थीं और वह पीड़ित परिवारों के इंटरव्यू कर रहे थे. कहा जा रहा है कि उन्हें खाने में जहर देकर मारा गया है. बेहद हट्टे कट्टे मजबूत कद काठी वाले अक्षय सिंह आजतक में करीब चार पांच वर्षों से कार्यरत थे.

दीपक शर्मा के आजतक से हटने के बाद स्पेशल इनवेस्टीगेशन टीम यानि एसआईटी की कमान अक्षय को सौंप दी गई. मध्य प्रदेश के व्यापमं घोटाले की पड़ताल का काम करने के लिए अक्षय भोपाल गए और वहां से कई जिलों की यात्रा करते झाबुआ पहुंचे थे. अक्षय की मौत की जांच चल रही है लेकिन सूत्रों का कहना है कि मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार पर कलंक की तरह चस्पा व्यापमं घोटाले में मारे गए दर्जनों लोगों में अब एक तेजतर्रार पत्रकार भी शुमार हो गया है जो इस घोटाले की सारी परतें खोलने पर आमादा था. अक्षय की मौत से टीवी टुडे ग्रुप में सारे मीडियाकर्मी स्तब्ध हैं.

जिसे भी व्यापामं घोटाले को कवर कर रहे आजतक के पत्रकार अक्षय के मारे जाने की खबर मिल रही है, वह ढेर सारे सवालों को लिए हुए स्तब्ध होकर भाजपा की केंद्र और राज्य सरकारों की तरफ उंगलियां उठा रहा है. लोग कहने लगे हैं कि इस घोटाले के असली चरित्रों का चेहरा सामने ना आने देने के लिए मौतों का जो बेहद सनसनीखेज सिलसिला चल रहा है, वह न जाने कितनी और जानों को लेकर बंद होगा. व्यापमं घोटाले को अपनी प्रकृति और हत्याओं को लेकर अब तक का सबसे दुर्दांत घोटाला माना जा रहा है. आजतक न्यूज चैनल अपनी स्क्रीन पर अपने पत्रकार की मौत की खबर को प्रमुखता से चला रहा है. पत्रकार के मारे जाने के बाद अब पूरा देश नरेंद्र मोदी और शिवराज सिंह चौहान से व्यापमं घोटाले में हो रही मौतों को लेकर साधी गई चुप्पी व इस घोटाले के असली ‘खलनायकों’ को बचाने की कवायद को लेकर सवालिया निशान में उंगली उठाने लगा है.

इसे पूरे प्रकरण पर भड़ास के संपादक यशवंत सिंह की त्वरित टिप्पणी पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें: http://goo.gl/JLqmQH

भड़ास के माध्यम से अपने मीडिया ब्रांड को प्रमोट करें. वेबसाइट / एप्प लिंक सहित आल पेज विज्ञापन अब मात्र दस हजार रुपये में, पूरे महीने भर के लिए. संपर्क करें- Whatsapp 7678515849 >>>जैसे ये विज्ञापन देखें, नए लांच हुए अंग्रेजी अखबार Sprouts का... (Ad Size 456x78)

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करें- Bhadas WhatsApp News Alert Service

 

Comments on “व्यापमं घोटाला कवर करने गए आजतक के स्पेशल करेस्पांडेंट और एसआईटी हेड अक्षय सिंह की झाबुआ में लाश मिली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *