योगी आदित्यनाथ ने ठीक किया : विनय बिहारी सिंह

विनय बिहारी सिंह

पत्रकारिता का अर्थ यह नहीं कि आप अनाप- शनाप कुछ भी लिख दें। खासतौर से मुख्यमंत्री के बारे में। नाथ संप्रदाय के सन्यासियों के बारे में जाने बिना, एक पत्रकार ने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के बारे में अनाप- शनाप लिख दिया। उसे गिरफ्तार कर योगी सरकार ने ठीक किया है।

ऐसे पत्रकार, पत्रकारिता के नाम पर कलंक हैं। क्या पत्रकारिता के नाम पर इतनी घटिया बातें लिखी जानी चाहिए? आप पत्रकार हैं तो कुछ भी लिखने के पहले गहराई से छानबीन कीजिए। सतही और काल्पनिक बातें क्यों लिखेंगे?

पत्रकार माने क्या? हम लोगों ने भी लंबे समय से पत्रकारिता की है। कभी बिना छानबीन के कोई खबर नहीं लिखी। अब भुगतो महान पत्रकार। तुमने सबको शर्मिंदा किया है। यशवंत भाई, यदि मेरे इस पोस्ट से आप असहमत हैं, फिर भी आप इसे प्रकाशित करें। क्योंकि हम सब किसी भी पत्रकार की किसी भी हरकत का समर्थन नहीं कर सकते।

जनसत्ता, कोलकाता में लंबे समय तक काम कर चुके वरिष्ठ पत्रकार विनय बिहारी सिंह की टिप्पणी. संपर्क : vinaybiharisingh@gmail.com

इस प्रकरण से संबंधित अन्य सभी खबरें पढ़ने के लिए इस पर क्लिक करें- BabaRaj

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “योगी आदित्यनाथ ने ठीक किया : विनय बिहारी सिंह

  • विनय बिहारी सिंह says:

    मुझे उस खबर के चलाए जाने पर आश्चर्य और ऐतराज है जिसमें मुख्यमंत्री योगी की प्रेमिका की बात कही गई है और उसे अनावश्यक महत्व दिया गया है। यह निहायत घटिया और शर्मनाक हरकत है।
    – विनय बिहारी सिंह

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *