दंगा भड़काने वाला वीडियो क्लिप फैलाने का काम तो जुबैर ने भी किया!

रंगनाथ सिंह-

ओम थानवी लिखते हैं- “….लेकिन एक नृशंस आतंकी हत्या और उसके बाद हत्यारों की कायराना धमकी के वीडियो क्लिप कुछ लोग सोशल मीडिया पर बढ़-चढ़ कर साझा क्यों कर रहे हैं? समुदायों में वैमनस्य इसी तरह बढ़ता है; दंगे ऐसे ही भड़कते हैं।”

इस मामले में मेरा साफ़ मत है कि वीडियो क्लिप बढ़ चढ़ कर साझा करने का काम तो जुबैर ने भी किया। उसने इंग्लिश न्यूज चैनल पर हुई बहस का एक टुकड़ा सोशलमीडिया पर यह कहकर शेयर किया कि इसमें इस्लाम के पैगम्बर मोहम्मद का अपमान किया गया है और इससे दंगा हो सकता है।

अन्य लोगों ने उसका ट्वीट आगे बढ़ाया और आँख मूँदकर कहा कि उस वीडियो में पैगम्बर मोहम्मद का अपमान हुआ है। वरना भारतीय टीवी पर क्या-क्या नहीं होता है। मसला यही है कि किस वीडियो क्लिप का कैसे इस्तेमाल किया जाता है।



 

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक करें- BWG-1

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code