पुलिस का दावा- चंदौली के पत्रकार हेमंत यादव के हत्यारे उनके परिजन ही, चार गिरफ्तार

चंदौली में हुई टीवी-24 के पत्रकार हेमंत यादव की हत्या में चंदौली क्राइम ब्रांच ने दावा किया है कि उसने हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस का कहना है कि हेमंत की हत्या पारिवारिक कलह के चलते हुई. पुलिस के मुताबिक धीना थाना क्षेत्र में मुठभेड़ के बाद 4 लोग गिरफ्त में आये हैं जिनके पास से तीन असलहे, हत्या में प्रयुक्त बाइक, हेमंत का आईडी कार्ड बरामद हुआ है.

पुलिस के मुताबिक इस पूरी घटना में हेमंत की चचेरी बहन के पति भोला यादव और और भोला की नाजायज दूसरी पत्नी का पुत्र अंकित यादव मुख्य साजिशकर्ता थे. शूटर रूपेश राणा, सूर्यकांत पाण्डेय, अमन सिंह सहित अंकित भी पुलिस की गिरफ्त में आ चुके हैं. दरअसल, भोला को रिटायर होने के बाद 20 लाख रुपये मिले थे. भोला अपना पूरा पैसा अंकित को दे रहे थे और मृतक हेमंत अपनी चचेरी बहन जो भोला की पहली पत्नी है उसके पुत्र बबलू को पैसा देने की पैरवी कर रहे थे. अंकित को पैसा देने का विरोध करना हेमंत यादव को भारी पड़ गया. इस पूरी घटना की साजिश भोला और अंकित ने रची थी और हेमंत की हत्या कर दी. भोला यादव अब तक फरार है. घटना के खुलासे में अहम भूमिका में क्राइम ब्रांच प्रभारी पुनीत परिहार, धीना एसओ राजकुमार सिंह, क्राइम ब्रांच के गिरीश त्रिपाठी, अरुण यादव, विनय दुबे रहे.



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code