सैलरी न मिलने से दुखी एक इंप्लाई का पत्र नेशनल दुनिया के मालिक के नाम

अखबारों के मालिक किस तरह से अपने कर्मचारियों का शोषण कर रहे हैं, उनके स्वाभिमान को चोट पहुंचा रहे हैं, इसकी ताजा मिसाल है नेशनल दुनिया के पत्रकार अनिरुद्ध चौहान की आपबीती, जिसका उन्होंने भड़ास4मीडिया को प्रेषित एक पत्र में ब्योरेवार खुलासा किया है। सैलरी न देना, जब मन करे, जहां तबादला कर देना, ऐसा इन दिनो बड़े मीडिया हाउसों में धड़ल्ले से चल रहा है। खबर बेचने का तामझाम फैलाकर ‘चौथा खंभा’ के ये धंधेबाज कितने फितरती हो चले हैं, उस सच्चाई का भी भेद खोलता है ये पत्र –   

आदरणीय,

सादर प्रणाम

जैसा कि आपको ज्ञात है कि संस्थान हमारा वेतन समय पर नहीं दे रहा है। कई-कई महीने का वेतन अभी तक अटका हुआ है। ऐसे में सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है, कि हम लोगों का गुजर कैसे संभव है। मैं कानपुर का रहने वाला हूं और मेरे बच्चे आगरा में हैं। इसी अनियमित वेतन व्यवस्था के कारण ही मैं अपने परिवार को अपने साथ नहीं रख पाया। 2014 में मेरठ में भी सभी साथियों का 4 से 5 माह का वेतन आर्थिक तंगी का हवाला देकर रोक दिया गया गया था, लेकिन प्रबंधतंत्र के ठाठ में कोई कमी नहीं रही। ऐसे में उपश्रमायुक्त (मेरठ) के दखल के बाद सभी साथियों को उनका भुगतान मिल सका। इसके वावजूद मेरा फरवरी 2014 का वेतन आज भी रोक रखा गया है और उस दिन से मेरा लगातार मानसिक उत्पीड़न किया जा रहा है। मैं दैनिक जागरण जैसे बड़े बैनर को छोड़ कर आया था, लेकिन मेरे साथ नेशनल दुनिया में सिर्फ वेतन मांगने पर बद से बदतर व्यवहार किया जा रहा रहा है। अगस्त 2014 में मेरा तबादला नोएडा किया गया था। मजबूरन मुझे अपने परिवार का भरण पोषण करने के लिए नोएडा ज्वाइन करना पड़ा। करीब ढाई माह बाद नवंबर 2014 में ही नोएडा की एचआर हेड रुचिका जी ने मुझे जयपुर तबादले का पत्र पकड़ा दिया और मैं इस उम्मीद में आपके सान्निध्य में आ गया कि अब शायद यहां मुझे समय पर वेतन मिलने लगे, लेकिन यहां भी वहीं स्थाई समस्या बनी रही। 

25 मार्च को मेरी पत्नी की रात को अचानक तबीयत खराब हुई तो मुझे अचानक आगरा आना पड़ा, इसकी सूचना मैंने आपको और संपादकीय प्रभारी आदरणीय संदीप जी को सुबह 4 बजे का वक्त होने के कारण एसएमएस कर दी। मार्च का मेरा वेतन बकाया है। आगरा आकर मैंने एचआर की स्वाती और आपसे फोन पर बात की थी कि बिना वेतन प्राप्त किए मेरा जयपुर लौटना संभव नहीं है, क्यों कि आगरा का तो काम मैंने किसी तरह कर्ज लेकर चला लिया लेकिन जयपुर में टिफिन वाले का और मकान का किराया मुझे देना है। इसके अलावा शायद आपको मालूम होगा कि मेरी किडनी में कुछ समस्या है और उसका इलाज भी चल रहा है, आप चाहे तो सिटी इंचार्ज राजकुमार जी से दरियाफ्त कर सकते हैं… उन्होंने मेरी पूरी जांच कराई थी। आज मुझे पता चला है कि 1 जून को सभी साथियों को मार्च का वेतन दे दिया गया है, लेकिन मेरा वेतन रोक दिया गया। अब मेरी समझ में नहीं आ रहा है, जब मैं लगातार संपर्क में हूं और अपनी समस्या आपको और एचआर की स्वाती जी को बता रहा हूं तो क्या ये कृत्य उत्पीड़न के अलावा और कुछ हो सकता है..? मैंने साफ शब्दों में कहा था कि मैं तात्कालिक परिस्थितियों के कारण बिना वेतन के काम करने में असमर्थ हूं, इसके बावजूद मेरा वेतन शायद इसलिए रोका गया कि मैं परेशान होकर इस्तीफा दे दूं.. तो ठीक है ऐसा ही होगा।

आदरणीय एक और गंभीर बात आपके संज्ञान में डालना चाहता हूं, कि दो साल में मेरे भविष्यनिधि खाते में एक भी पैसा जमा नहीं किया गया जब कि नियोक्ता द्वारा जमा किया जाने वाला धन भी कर्मचारी के पक्ष से ही काटा गया, लेकिन हमारे भविष्यनिधि खाते में जमा नहीं किया गया। मेरठ में जब हम लोगों ने बात उठाई तो मेरठ के तत्कालीन समाचार संपादक श्री सुभाष सिंह ने हमें सीधे तौर पर धमकाया कि शैलेद्र भदौरिया जी के ससुर कानपुर से भाजपा के विधायक हैं और राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह उनके खास मित्र हैं। राजनाथ सिंह से उनके पारिवारिक संबंध हैं, पीएफ की वात दोबारा की तो जिंदगी जेल मे कटेगी। 

आदरणीय आप सोच रहे होंगे कि मेरठ की और कुछ बीती बातें मैं आपको क्यों बता रहा हूं… दरअसल, ऐसा इसलिए है कि शैलेंद्र जी किसी का फोन उठाते नहीं हैं और मनीष अवस्थी जी मेरा फोन नहीं उठा रहे शायद वो मुझसे बात नहीं करना चाह रहे। ऐसे में अब आप ही मुझे प्रकाश पुंज प्रतीत हो रहे हैं। नेशनल दुनिया जैसे सम्मानित समाचार पत्र में काम करने के दैरान जो मैंने कष्ट भोगा है, उसके चलते मैं फिलहाल महीने-दो महीने किसी भी अखबार में काम करने की स्थिति में नहीं हूं। मानसिक और शारीरिक उत्पीड़न की इस दशा से गुजरने के बाद मुझे सामान्य होने में थोड़ा वक्त लगेगा। लिहाजा, आपसे गुजारिश है कि मानवीय मूल्यों के आधार पर मुझे न्याय दिलवाने की कृपा करें और प्रबंधतंत्र को ये बताये कि कि कर्मचारी का पीएफ जमा न करना जघन्य अपराध की श्रेणी में आता है। फिलहाल मेरा करीब दो वर्ष के पीएफ के साथ ही फरवरी 2014 और मार्च 2015 का वेतन बकाया है। आपसे एक बार पुनः आग्रह है कि मेरे सभी देयों का भुगतान एक माह के भीतर करा दिया जाए। इसके अलावा मैं बिना वेतन के काम नहीं कर सकता, अगर आप वेज बोर्ड और सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बावजूद हर माह 7 तारीख तक वेतन नहीं दिला सकते तो इस पत्र को मेरा त्याग पत्र मान लिया जाए।

धन्यवाद सहित, अनिरुद्ध चौहान, नेशनल दुनिया, जयपुर 

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Comments on “सैलरी न मिलने से दुखी एक इंप्लाई का पत्र नेशनल दुनिया के मालिक के नाम

  • sharad tripathi says:

    This letter shows how corrupt have disregard for any law because of their political patronage. Time to get united and fight the corrupt system. All support to Anirudhji…

    Reply
  • मनीष मिश्र says:

    क्या आप मुझे शैलेन्द्र जी का मोबाइल न0 दे सकते हैं?

    Reply
  • Sir

    Meri company ke malik ne meri salary rok di hai may month ki.
    Maine job resign kiya tha or unhone accept v kiya tha fir v meri salary rok di.

    Plz suggest me
    Meri salary evam mera full & final kaise milega.

    Mera name somesh rawat
    Company_ sarvesh exports pvt ltd

    Reply
  • Samvidha Mai Mai guest faculty Hu… Or wese he humri salary na k Bara bar hai upr se state government humri payment na to badhte hai or nai tym per dete hai…kya yahi h ache din…. I m highly disappointed…

    Reply
  • Sir me jis campany me kam kar tha mene us campany ko chor diya hu aur mera selry campny nahi de rahi ha me kya karu plise

    Reply
  • सर मै जौनपुर से आया हू मुम्बई मे करने सर मै Actal foods India pvt Ltd company मे काम करता था मालिक काम कर ने के लिए चिल्लाता था और सैलरी देने के लिए आल ताल मरता था सर मेरा एक महिना 15 दिन का सैलरी नही दे रहे है और बोलता हू तो बोलते है कि मेरा घटा हुआ है और ऊलटा शब्द बोलते है और कहते है तूम क्या कर सकते हो जाओगे पुलिस के पास तो पुलिस क्या करेगी सर सेठ का नाम Nizamamudin Mo. +919892730548
    है सर मै दूसरे कम्पनी मे किया उस कम्पनी का नाम Datawave Business support services pvt Ltd
    सर कम्पनी address shop no. 202 Radha silk Compound parsi panchayat Road Andheri east Mumbai 400069
    Mobile. 7045593521 Email : hrd@dbss india. com
    CON.NO No. U7499MH2016PTC286814 सर कम्पनी जिस लडके या लड़की को इंग्लिश नही आती है उसको चूतिया बनाते है सर मै इस कम्पनी मे एक महिना 20 दिन काम किया और बोले की तूम काम किए ही नही हो सर ऐसे बोले सर आप से Request करता हू मेरी सैलरी देने को से नही मेरा विश्वास हट जायेगा सर
    मेरा नाम अभिमन्यु यादव है मै बहुत गरीब परिवार के हू सर क्या कहूंगा अपने माता-पिता को जो मेरे सहारे है सर

    Reply
  • sir mai ek privat school mai job karti bEd kari hui jun lakin salary 4298 hai bataiye ki ek aam mazdur ki din bher ki income meri ek din ki income sy ziyada hogi plzzz bataye ki mai kaha complaint karun

    Reply
  • mai b punjab kesari delhi edtion newspaper me work krti hu…mai news typist ka work krti hu… mai 14 mnths se karnal me kam kr rhi hu meri 9 months ki sakry ruki hui h..

    Reply
  • Sandeep Chauhan says:

    Sir Mai Mumbai me j.kumar infraprojects Ltd. company me kaam karta tha but Mai region dekar Ghar aaya hu mera region bhi accept huaa hua hai but meri sellery hold kar diya hai Mai kya Karu sir aap kuchh upay bataiye pls.

    Reply
  • कोई हेल्पलाइन नंबर है इस तरह की शिकायतों के लिए

    Reply
  • Sonam saini says:

    MERI salary rok li h guru mata manju Bhardwaj ne vo apna TV pr program chalati h astrology ka mujhe April se salary nai Di hai or ab Mana kar Rahi hai ki NAI dungi koi salary Mera pH bhi nai utha thi hai please me kya karo batao

    Reply
  • Sir meri company salary nhi de ri h mujhe 3 mhine ho gye wha job regine diye huve unhne bola tha next month mil jayegi mgr 3 mhine ho chuke h abhi tk nhi di h salary

    Reply
  • Vipin Kumar shukla says:

    Sir
    I’m employee at Prasad international school JAUNPUR
    Institution did not provide salary in time
    And also not give proper wage.
    Please suggest what I will do
    8858763320

    Reply
  • khilesh kumar banjare says:

    Sir
    Mera company mujhe 3 month 13 days ki salary nhi de rhi hai 5 month ho gya hai puchne se btate hai ki 10 , 20 ,30 tarik ko aa jayega krke bolte hai lekin aaj se. 5 month ho gya hai abhi taak ni aya hai ,
    Btao sir ab mai ky kru bahot paresan hu mere ghar wale bahot bolte hai kam kiye ho uska paisa ni laa skta krke .
    Please help me

    Reply
  • Maheep Tiwari says:

    Sir me Rajasthan ke antargat vocational education nsqf Yojana ke antrgat vocational trainer ke rip me 3year Kam kar Raha hu jaha school me class 9 to 12 th standard ke baccho Ko electrical and electronic ke subject padhata Raha hu aur smsa wale company to dwra tender ke taht mujhe vt ke pad par Rakha Gaya hu jaha me baccho Ko skills aur rojgar se smbadhit work kar Raha hu jaha 2018 me laurus edutech Pvt Ltd Chennai ke dwra me 2018 March to December 2018 tak ki salary aur January 2019 to February 2020 tak ki salary Amass skills venture Pvt Ltd ke dwara bhugtan nahi ki he sir koi upay bataye Shikha sankul Jaipur headcoter he Lekin waha humari koi nahi sunta wo saaf Maana karte he ki AAP hamre employees nahi ho AAP company ke employees ho jabki tender wo hi karwati he aur uska dwra company Ko bhugtan samay par nahi Kiya ja Raha he sir aab to ghar chalna bhi bahut muskil ho gaya he logo se paisa loan le Rakha he kaha se chukaunga sir is samaya ka jaad hi koi upaya bataye Rajasthan me 905 school me vevsayik Shiksha chalti ja Rahi he aur laurus edutech Pvt Ltd Chennai to apna tender chod ke Chali gai he to humara peisa kon dega kirpaya nayy dilate sir

    Reply
  • Vishal kumar sharma says:

    सर मे LG company मे काम करता हु और मे 10 दिन तक किसी कारण से company नही जा पाया था और इसकी सूचना मेने company वालो को दी थी लेकिन फिर भी company वालो ने मुझे reginesation दे दिया और मेरी sallery मुझे नही दी Sir अब मे क्या करू please जरूर बताए

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *