सूचना विभाग के उपनिदेशक और लेखक नलिन चौहान के बारे में अभी तक कोई खबर नहीं

10 दिसंबर से घर नहीं लौटे नलिन

नई दिल्ली । दिल्ली सरकार के सूचना विभाग के उप निदेशक और लेखक नलिन चौहान 10 दिसंबर से घर नहीं लौटे हैं। नलिन चौहान राजस्थान के पाली ज़िले के मूल निवासी हैं।

उनके परिवार ने दिल्ली के सिविल सिविल लाइन्स थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। एस आई किशन इस मामले की जाँच कर रहे हैं। सीसीटीवी फुटेज से यह पता चला है कि नलिन चौहान पुरानी दिल्ली में राजभवन के पास स्थित सिविल लाइन्स ट्रांजिट होस्टल से दिल्ली के आइएसबीटी यानी अंतरराज्यीय बस अड्डे की तरफ गए। पुलिस अब आइएसबीटी के सीसीटीवी फुटेज को खंगाल कर आगे की जाँच कर रही है।

बताया जाता है कि वह ट्रांजिट होस्टल के एक कमरे में अध्ययन और लेखन करते थे। चौहान सरकारी नौकरी के साथ-साथ दिल्ली के एक प्रमुख अखबार में ‘दिल्ली की देहरी’ के नाम से कालम भी लिखते थे। इसके अलावा कई समाचार पत्रों में उनके लेख-फीचर आदि प्रकाशित होते थे।

नलिन चौहान की पत्नी श्रीमती अल्पना ने नलिन चौहान के फेसबुक पेज पर पोस्ट में लिखा है कि मेरे पति नलिन चौहान 10 दिसंबर, 2020 की सुबह से अपने आवास के पास से गायब हैं। वह पिछले महीने कोविड-19 के कारण अस्वस्थ हो गए थे लेकिन 5 दिसंबर को अस्पताल से वापस आ गये थे।

उनकी पत्नी ने यह जानकारी भी दी है कि पोस्ट कोविड तनाव के कारण वह थोड़ा परेशान थे। उन्होंने लोगों से अपील की है कि नलिन चौहान के बारे में कोई जानकारी मिले तो 9999852401 और 9711002778 पर कॉल या टेक्स्ट करें।

नलिन चौहान के पिता डी एस चौहान और पोलैंण्ड में रहने वाले भाई भरत चौहान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केन्द्रीय गृह मन्त्री अमित शाह और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल से उन्हें ढूँढने में मदद की अपील की है। चौहान के मित्र और शुभ चिंतक भी उन्हें ढूँढने के अभियान में जुट गए हैं।

संबंधित खबरें-

वरिष्ठ पत्रकार नलिन चौहान लापता

ईश्वर करें नलिन जहाँ भी हो, सुरक्षित हो!

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *