पीआईएल एक्टिविस्टों की जांच कराने के अरुण जेटली के बयान की निंदा

लखनऊ : एक्टिविस्ट डॉ. नूतन ठाकुर ने केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली द्वारा पीआईएल के विकास विरोधी होने और पीआईएल करने वालों के फंड की जांच होने सम्बन्धी बयानों की कठोर निंदा की है. 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 5 स्टार एक्टिविस्ट कथन के बाद यह कथन दर्शाता है कि सत्ता में कोई भी व्यक्ति एक्टिविस्टों को पसंद नहीं करता है क्योंकि वे उनके मनमानेपन के रास्ते में आते हैं, जबकि वही लोग इनकी तब तक तारीफ़ करते रहते हैं, जब तक वे विपक्ष में रहते हैं. 

समाचार अंग्रेजी में पढ़ें –

Activist Dr Nutan Thakur has strongly criticized the statement of Union Minister Arun Jaitley made about PILs that it is the best weapon to stop development and their funding needs to be enquired. 

She said that this statement, in continuation of Prime Minister Narendra Modi’s statement about 5-star activists, shows that no one in power likes activists because they come in the way of their way of favouritism and selective activities, while the same politicians love these activists as long as they are in opposition. 

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *