मामला अगर सूचना और प्रसारण मंत्रालय का हो तो मोदी जी तुरंत कार्रवाई कर देते हैं…

Peri Maheshwer : प्राथमिकताएं स्पष्ट हैं… चार साल में पांचवें सूचना और प्रसारण मंत्री… अरुण जेटली रक्षा और वित्त मंत्रालय का कार्यभार एक साथ संभाल चुके हैं। यह वह समय था जब चीन के साथ मुश्किलों के साथ वित्तीय संकट शिखर पर था।

मनोहर परिकर अस्पताल में रहते हुए रक्षा मंत्री का कार्यभार संभाल चुके हैं। अरुण जेटली भी अस्पताल से वित्त मंत्रालय संभाल चुके हैं।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय को अर्धसाक्षर, अक्षम सुश्री ईरानी संभाल चुकी हैं।

पर जब सूचना और प्रसारण मंत्रालय का मामला हो तो समीक्षा और आकलन शीघ्र होता है तथा कार्रवाई तुरंत होती है। कर्नल राठौड़ आपका स्वागत है। आप चार साल में पांचवें सूचना और प्रसारण मंत्री हैं। प्रकाश जावेडकर, अरुण जेटली, वेंकैया नायडू और स्मृति ईरानी आपसे पहले इस पद पर रह चुकी हैं।

The priorities are clear:

– We had Jaitley handling Defense and Finance at the same time, at the height of Chinese turmoil and pressing financial turmoil.

– We had Manohar Parikkar handle Defense from a hospital.

– We had Jaitley handle Finance from a hospital.

– We had HRD handled by an illiterate, incompetent Ms.Irani.

– But when it comes to I&B, the review and assessment is quick leading to prompt action.
Welcome Col. Rathore. You are our fifth I&B minister in 4 years. Prakash Javadekar, Arun Jaitley, Venkaiah Naidu & Smriti Irani preceded you.

प्रकाशक और मीडियाकर्मी Peri Maheshwer की एफबी वॉल से. हिंदी अनुवाद वरिष्ठ पत्रकार संजय कुमार सिंह द्वारा.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *