कोर्ट में झुका भास्कर प्रबंधन, दिव्य भास्कर वालों को अगले माह से मजीठिया वेतनमान मिलने लगेगा

मजीठिया वेतन बोर्ड को लेकर गुजरात के पत्रकारों द्वारा लगाई गई याचिका का सार्थक परिणाम आया है। गौरतलब है कि गुजरात हाईकोर्ट में उक्त मामले की सोमवार 10 नवंबर को अंतिम सुनवाई थी लेकिन कोर्ट का फैसला आता कि उससे पहले ही डीबी कार्प के वकील ने अपनी गलती मानते हुए मजीठिया वेतन बोर्ड की अनुशंसाओं के अनुसार सभी भुगतान करने की बात मान ली और केस बंद करने का आग्रह किया।

अब यह बात समझ से परे है कि अभी तक पेपर के नाम पर दम भरने वाले मालिक को अचानक क्या हुआ कि कोर्ट के फैसले से पहले ही अपना फैसला सुना दिया। इतना ही नहीं, डीबी कार्प की पहल से यह लग रहा था कि वह याचिकाकर्ता 10 पत्रकारों से याचिका कर उनकी सभी शर्त मानने को तैयार है। खैर इस पहल से पत्रकारों के लिए खुशखबरी की बात यह है कि गुजरात में काम करने वाले दिव्य भास्कर के कर्मचारियों को अगले माह से मजीठिया वेतनमान मिलने लगेगा। अब देखना होगा कि मजीठिया वेतनमान को लेकर हताश पत्रकार इस फैसले के बाद कितने आक्रामक होते हैं।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “कोर्ट में झुका भास्कर प्रबंधन, दिव्य भास्कर वालों को अगले माह से मजीठिया वेतनमान मिलने लगेगा

  • purushottam asnora says:

    achchhi khabar hai, lekin amar ujala, jagran, hindustan wrashtriy sahara majethiya wageboard se kab tak luka chhupi karaige.

    Reply
  • Workers ki ye sabsey badi jeet hai, par isske ander Kutsit Mansikta wale Malikon ki kya “Mansaa” hai, ye to Aaney wala Waqt hi batayega…
    Pata nahin Indian Express Ltd. ke Malik ko Aisi “Subuddhi” kab Aayegi…!!
    Satya-mev-jayate….

    Reply
  • Kashinath Matale says:

    Der se hi sahi Majithia Wagae Board implement karnekeliye agree to huye hai.
    Lekin implementation proper dhang se hona chahiye.
    Salary Slip, Classification Bhadas4media.com par post lijiye, taki pata chale ki implementation kaisa ho raha hai.
    Thanks

    Reply
  • media reporter says:

    Sahara valo ko kab buddhi aayegee.mazeeteeyaa dene keep door ye hara am Ke pillye 2 saal se d.a.talk nahee rahe hain . jai ho subrato rai kee yaheee hai vishv ka sabse bada bhavnaatmak parivaar jiska ye dambh bharte hain.

    Reply
  • Dear all, yeh khusi sirf 10 yachikakarta patrkaro ke liye hi hai. Baki logo ko jyada khush hone ki bjae kuch karneki jyada zarurat hai.

    Reply
  • ye sab kehneki baat hai abhi bhi bhaskar mein kisiko majethia nahi diya gaya hai aur one by one sabko voucher pe kiya ja raha hai aiesa sunne mein aaya hai bhaskar mein kisi bhi employee ko majethia nahi mila hai sabko kisi na kisi bahane se rezine dena padh raha hai

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *