वरिष्ठ पत्रकार की मौत, महिला मित्र हिरासत में!

गोरखपुर के निवासी वरिष्ठ पत्रकार लक्ष्मीकांत दुबे की पत्नी बच्चे सब हैं. पर वे सिलिगुड़ी में एक महिला मित्र के साथ रहते थे और वहीं सिलिगुड़ी में ही उनकी रहस्यमय हालात में मौत हो गई. पुलिस अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है. इसके लिए पत्रकार के महिला मित्र को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.

पुलिस को सूचना मिलने के पहले ही पूरे शहर में यह बात आग की तरह फैली कि लक्ष्मी कांत दुबे की हत्या कर दी गयी है. ज्यादातर लोग जानते थे कि वह सिलिगुड़ी के माटीगाड़ा के यांकथुंग में मकान लेकर एक इंटरनेट न्यूज पोर्टल चलाते थे. माटीगाड़ा पुलिस वहां पहुंची और जांच में जुटी तो पता चला कि वह अब यहां नहीं बल्कि भक्ति नगर थाना क्षेत्र में रहते हैं. माटीगाड़ा थाना की पुलिस ने इसकी जानकारी वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को दी. भक्तिनगर थाने की पुलिस से पता चला कि एक महिला ने इस संबंध में सूचना दी थी.उसके बाद पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई. लेकिन अभी भी लोग इस पूरे प्रकरण को संदेह की नजर से देख रहे है. बीमार आदमी आखिर क्या कारण है कि परिवार को छोड़ अपनी महिला मित्र के साथ यहां रहता था. इसका खुलासा भी परिवार के लोग ही कर पाएंगे.

लक्ष्मीकांत दुबे के एफबी वॉल पर मरने से कुछ घंटे पहले एक पोस्ट पड़ी हुई है. ये पोस्ट उनके यूट्यूब चैनल पर अपलोड खबर से संबंधित है. लक्ष्मीकांत दुबे कई बड़े अखबारों में कार्यरत रहे. पर इन दिनों खुद की वेबसाइट और यूट्यूब चैनल चला रहे थे. उनके निधन पर तरह तरह की चर्चाएं हैं.

सिलीगुड़ी में रहने वाले पत्रकार लक्ष्मी कांत दुबे की रहस्यमय हालात में मौत हो गई. बुधवार को उनका शव सिलीगुड़ी के ज्योतिनगर बोतल कंपनी मोड़ स्थित उत्सव अपार्टमेंट में पाया गया. लक्ष्मी कांत दुबे मूल रुप से भागौर, थाना गोला जिला गोरखपुर के निवासी थे. सिलिगुड़ी में वह अपनी एक महिला मित्र के साथ रहते थे.

भक्ति नगर थाना की पुलिस के अनुसार पत्रकार लक्ष्मी कांत दुबे मंगलवार की रात करीब 11 बजे बाद अपने रुम में खाना खाने के कुछ ही देर बाद जोर जोर से चिल्लाने लगे. उन्हें सांस लेने में दिक्कत हो रही थी. शोर सुनकर आसपास के लोग वहां पहुंचे और पड़ोसी की गाड़ी से उन्हें सेवक रोड स्थित एक निजी नर्सिग होम में ले जाया गया. वहां इमरजेंसी में जब डाक्टरों ने देखा तो मृत घोषित कर दिया. उसके बाद शव को लेकर पड़ोस के लोग घर आ गये. शव को पूरी रात घर में रखने के बाद सुबह इसकी जानकारी पुलिस को दी गई.

पुलिस को उनके शरीर पर किसी प्रकार का कोई निशान नहीं मिला है. यह जानकारी मिली है कि वे हार्ट और ब्लड कैंसर की बीमारी से ग्रस्त थे. इसके साथ ही उन्हें अन्य कई प्रकार की बीमारी थी. इसका वे इलाज भी करा रहे थे. हो सकता है कि बीमारी की कारण ही उनकी मौत हुई हो.

दूसरी ओर पुलिस का कहना है कि भोजन के बाद उनकी तबीयत बिगड़ी है. इसलिए अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट महत्वपूर्ण हो जाता है. अगर भोजन में कुछ मिला हुआ मिला तो पुलिस अस्वाभाविक मौत को बदलकर हत्या का मामला दर्ज कर मामले की जांच करेगी. पुलिस ने उनके घर से सभी महत्वपूर्ण कागजातों की जांच के बाद उस घर को बंद कर दिया है. उनके साथ रहने वाली महिला मित्र से पूछताछ की जा रही है. पूछताछ के लिए लक्ष्मीकांत दुबे की महिला मित्र को थाने लाया गया है. पुलिस ने गोरखपुर में परिवार वालों को इसकी जानकारी दी है.

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करेंBhadasi Whatsapp Group

भड़ास के माध्यम से अपने मीडिया ब्रांड को प्रमोट करने के लिए संपर्क करें- Whatsapp 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *