यह संपादक महीने भर तक लड़कियों को यूज करता है और फिर निकाल देता है, केस दर्ज

पटना से एक लड़की ने भड़ास4मीडिया को अपनी दुख भरी कहानी लिख भेजा है. उसने बताया है कि पटना के एसके पुरी चेकपोस्ट के मोहनबाबू इनक्लेव में फर्स्ट फ्लोर पर ‘नूतन चर्चा’ नामक मैग्जीन का आफिस है. यह लड़की जब वहां काम करने गई तो उसके साथ रेप की कोशिश की गई. लड़की ने एसके पुरी थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी है.

लड़की ने पत्र में कहा है कि इस आफिस में संपादक अभिषेक कुमार है. यह पत्रिका के नाम पर लड़कियों को बुलाता है. यहां लड़कियों को मयंक लेकर आता है. लड़कियों को यहां यूज किया जाता है. फिर एक महीने बाद उन्हें निकाल दिया जाता है. हर महीने यहां यही होता है. मैं भी गई थी. मेरे साथ रेप की कोशिश की गई. मैंने थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी है. केस 20 मार्च 2016 को दर्ज कराया है. आईओ दमयंती कुमारी पांडेय हैं. लेकिन मुझे न्याय अब तक नहीं मिला. ये लोग मीडिया के नाम पर धोखा दे रहे हैं. मार्केट से बिना काम के ही सिर्फ मीडिया के नाम पर पैसे ले रहे हैं. ऐसे ही लोगों ने मीडिया को गंदा कर रखा है.

भड़ास के माध्यम से अपने मीडिया ब्रांड को प्रमोट करें. वेबसाइट / एप्प लिंक सहित आल पेज विज्ञापन अब मात्र दस हजार रुपये में, पूरे महीने भर के लिए. संपर्क करें- Whatsapp 7678515849 >>>जैसे ये विज्ञापन देखें, नए लांच हुए अंग्रेजी अखबार Sprouts का... (Ad Size 456x78)

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करें- Bhadas30 WhatsApp

Comments on “यह संपादक महीने भर तक लड़कियों को यूज करता है और फिर निकाल देता है, केस दर्ज

  • YE LADKI PAHLE ARYAN NEWS ME ANCHOR THI, NAUKRI KARTI HAI AUR RAPE ATTAMPT KA JHUTHA CASE BANAKAR PAISE AITHNE KA KAAM KARTI HAI.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *