अमिताभ ठाकुर ने राष्ट्रीय ध्वज खरीद में भारी अनियमितता की लिखित शिकायत लोकायुक्त से की

अमिताभ ठाकुर तथा डॉ नूतन ठाकुर ने अमृत महोत्सव हेतु राष्ट्रीय ध्वज के खरीद में भारी अनियमितता की शिकायत के संबंध में लोकायुक्त के समक्ष परिवाद प्रस्तुत किया है।

अपने परिवाद में उन्होंने कहा कि अमृत महोत्सव हेतु उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 2 करोड़ राष्ट्रीय ध्वज ख़रीदे जाने का कार्य उत्तर प्रदेश राज्य हथकरघा निगम लिमिटेड, कानपुर को दिया गया. इस हेतु जेम पर बिड प्रकाशित की गयी जिसमे न्यूनतम बिड रु० 17.51 प्रति झंडे का आया पर हथकरघा निगम के अफसरों ने इसे दरकिनार कर मैन्युअल टेंडर की प्रक्रिया अपनाते हुए रु० 20 प्रति झंडे के दर से कई फर्मों को टेंडर दिया.

अमिताभ और नूतन ने कहा है कि भारत सरकार एवं उत्तर प्रदेश सरकार का यह स्पष्ट निर्देश है कि 5 लाख रुपये से ऊपर का प्रत्येक टेंडर ऑनलाइन प्रणाली से जेम के माध्यम से ही दिया जायेगा. यहाँ तक कि जेम में नेगोशियेशन तक की पूरी व्यवस्था दी गयी है. राष्ट्रीय धवज खरीद मामले में पहले तो जेम पर प्रक्रिया प्रारंभ की गयी किन्तु इसके बाद करोड़ों के टेंडर की पूरी प्रक्रिया ऑफलाइन की गयी. इतना ही नहीं, इसमें कुछ ऐसे फर्म तक को टेंडर दिए गए जिन्होंने शुरु में टेंडर के लिए आवेदन तक नहीं दिया था.

अमिताभ और नूतन ने कहा कि ऑनलाइन टेंडर की प्रक्रिया किसी भी प्रकार के भ्रष्टाचार को रोकने के लिए ही शुरू की गयी, किन्तु प्रथमद्रष्टया इस मामले में उसका व्यापक उल्लंघन दिखता है. अतः उन्होंने मामले की जाँच कर कार्यवाही की मांग की है.



भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *