सुभाष चंद्रा (जी मीडिया ग्रुप) और नवीन जिंदल (जिंदल ग्रुप) में समझौता हुआ, सुधीर चौधरी मुस्काए

बड़े लोगों यानि व्यापारियों के बीच झगड़ा लंबा नहीं चलता. वे थोड़े समय तक लड़ने के बाद धंधे का नुकसान देख फिर से हाथ मिला लेते हैं. जिस प्रकरण में सुधीर चौधरी तिहाड़ गए, सुभाष चंद्रा जेल जाते जाते बड़ी मुश्किल से बचे, उस मामले में अब समझौता हो गया है.

नवीन जिंदल ने कोयला घोटाले की खबरें न दिखाने के लिए करोड़ों रुपये रिश्वत मांगने वाले जी ग्रुप के संपादकों का स्टिंग कर लिया था और दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच में एफआईआर करा दी थी. तब जी न्यूज के संपादक सुधीर चौधरी और जी बिजनेस के संपादक समीर अहलूवालिया जेल चले गए थे.

सुभाष चंद्रा भी आरोपी बनाए गए थे. उन्हें भी पसीने छूट गए थे. किसी तरह जेल जाने से बचे. दोनों समूहों यानि जिंदल ग्रुप और जी ग्रुप के बीच जमकर तलवारें चलीं. नवीन जिंदल ने सुभाष चंद्रा के मीडिया साम्राज्य को चुनौती देने के लिए न्यूज चैनल तक खोल दिया. अब ताजी सूचना है कि दोनों पक्षों ने हाथ मिला लिया है.

प्रेम समझौते पर दोनों बड़े आदमियों ने ट्वीटरबाजी भी कर ली है. एक ग्रुप फोटो भी जारी कर दिया गया है ताकि सनद रहे. इस तस्वीर में सुधीर चौधरी की मुस्कराहट देखने लायक है. जैसे कह रहे हों- जान बची तो लाखों पाए…

देखें तस्वीर और पढ़े बड़े लोगों के ट्वीट….

Subhash Chandra
@subhashchandra
I am happy that JSPL & Naveen Jindal have withdrawn FIR alleging extortion with Delhi Police against Zee & it’s editors, similarly Zee has agreed to withdraw all complaints & cases against JSPL & Naveen Jindal. I wish Naveen very best in his life.

Naveen Jindal
@MPNaveenJindal
We have resolved all differences. that took place because of miscommunication. Happy to leave all that behind. Thank you @subhashchandra ji for your good wishes. Let there be Peace.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *