मप्र विधानसभा चुनाव- 2013 की सटीक जानकारी के लिए पढ़ें ‘चुनाव, राजनीति और रिपोर्टिंग’

chunav rajneeti

भोपाल। अगर कोई व्यक्ति विधानसभा चुनाव-2013 के समय मध्यप्रदेश से बाहर रहा हो और उसे चुनाव की पूरी सटीक जानकारी चाहिए तो वह ‘चुनाव, राजनीति और रिपोर्टिंग’ किताब को पढ़ ले। ऐसी ही अनेक बातें विद्वानों ने फ्रेंड्स ऑफ मीडिया के बैनर तले आयोजित Chunav, rajneeti aur reporting किताब पर चर्चा के दौरान साझा कीं। हाल ही में चर्चा में आयी यह बेहद पठनीय व हर वर्ग द्वारा सराहे जाने वाली पुस्तक बन गई है। एबीपी न्यूज चैनल के मध्यप्रदेश व छत्तीसगढ़ के ब्यूरो चीफ व लेखक ब्रजेश राजपूत द्वारा लिखित इस पुस्तक को हर वर्ग से सराहना मिली है।

राजधानी के स्वराज भवन में आयोजित इस पुस्तक चर्चा में ख्यातिलब्ध पत्रकारों, शिक्षाविदें व विद्यार्थीगणों ने किताब की भूरि-भूरि प्रशंसा की। देश ख्यात पत्रकार मदनमोहन जोशी ने कहा कि लेखन एक अद्भुत विद्या है, जिस व्यक्ति से यह सध जाती है उसे जीवन की पूर्णता मिल जाती है। उक्त बात ब्रजेश राजपूत पर सटीक बैठ रही है। उनके लेखन में जो चहलाकदमी है वह एहसास कराती है कि आंखों के सामने शायद कोई दृश्य चलायमान है।

chunav rajneeti 2

राष्ट्रीय हिन्दी मेल के प्रधान संपादक विजय दास ने चर्चा में अपने विचार रखते हुए कहा कि आजकल पुस्तकों की दुनिया सिमटती जा रही है। बहुत ही कम पत्रकार बचे हैं जो लेखन में रुचि रखते हैं। ब्रजेश राजपूत ने इलेक्ट्रोनिक मीडिया में रहते हुए लेखन शक्ति विस्तारित की है, वह काबिले तारीफ है।

चर्चा में पीपुल्स समाचार के संपादक रामेन्द्र सिन्हा ने कहा कि पुस्तक की शैली प्रिंट और इलेक्ट्रोनिक मीडिया के लेखन का अद्भुत समागम है। पुस्तक संवाद करती हुई सी प्रतीत होती है।

इस अवसर पर उपस्थित वरिष्ठ पत्रकार रशीद किदवई ने पुस्तक के लेखक ब्रजेश राजपूत को उनकी पॉपुलर हो चुकी प्रथम कृति के लिए बधाईयां देते हुए कहा कि यह सारगर्भित पुस्तक वाकई चुनाव, राजनीति और रिपोर्टिंग सिखाती है। पत्रकार ब्रजेश के लेखन में दृश्यात्मकता, विश्लेषणत्मकता, काव्यात्मकता व सकारात्मकता झलकती है।

वहीं, मप्र कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता जेपी धनोपिया ने चर्चा सत्र में पुस्तक को ईमानदारी के साथ सजीव चित्रण करती हुयी बताया। मप्र भाजपा प्रवक्ता हितेश वाजपेयी ने किताब को महत्वपूर्ण दस्तावेज की संज्ञा दी तथा आने वाली जनरेशन के रिफ्रेंस, प्रिफ्रेंस के तौर पर योग्य बताया। चर्चा में शामिल राजधानी के प्रसिद्ध बिजनेसमेन श्री सलूजा ने चुनाव, राजनीति और रिपोर्टिंग किताब को बेहद संग्रहणीय व सारगर्भित अंक बताया।

इनके अलावा पुस्तक चर्चा में लेखक ब्रजेश राजपूत, नईदुनिया के पूर्व संपादक गिरीश उपाध्याय, गिरिजाशंकर, जनसंपर्क अधिकारी द्वय प्रलय श्रीवास्तव व मनोज पाठक, माखनलाल पत्रकारिता विश्वविद्यालय के जनसंचार विभाग के विभागाध्यक्ष संजय द्विवेदी, ईटीवी के मप्र हेड अजय त्रिपाठी, समाजसेवी शिवशंकर पटेरिया, पत्रकारिता के विद्यार्थियों व प्रशिक्षार्थियों समेत तमाम गणमान्य नागरिकों ने विचार व्यक्त किए।

पुस्तक चर्चा का संचालन द वीक पत्रिका के विशेष संवाददाता वरिष्ठ पत्रकार दीपक तिवारी ने एवं आभार प्रदर्शन आईबीन-7 के मप्र ब्यूरो मनोज शर्मा ने किया।

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करें-

https://chat.whatsapp.com/Bo65FK29FH48mCiiVHbYWi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *