दुर्गेश उपाध्याय ने अमर उजाला डॉट कॉम में नंबर दो की पोजीशन पर ज्वाइन किया

दुर्गेश उपाध्याय को अमर उजाला डाट काम में एक महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौपी गई है. उन्हें अलका सक्सेना के बाद नंबर दो की पोजिशन पर ज्वाइन कराया गया है. उनके पास सारे न्यूज ऑपरेशन का उत्तरदायित्व रहेगा. अमर उजाला जल्दी ही डीजिटल टीवी लांच करने की योजना बना रहा है. दुर्गेश के पास टीवी औऱ डिजिटल मीडिया में काम करने का एक लंबा अनुभव है.

दुर्गेश उपाध्याय तमाम राजनैतिक और सामाजिक विषयों पर लिखते भी रहे हैं. साथ ही टीवी चैनलों पर बतौर पैनलिस्ट हिस्सा लेते रहते हैं. इससे पहले वो बतौर डिजिटल हेड सहारा समय के साथ जुड़े हुए थे. वो बीबीसी औऱ सीएनबीसी आवाज जैसे प्रतिष्ठित चैनलों में भी काम कर चुके हैं. 



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate






भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “दुर्गेश उपाध्याय ने अमर उजाला डॉट कॉम में नंबर दो की पोजीशन पर ज्वाइन किया

  • RAVI SINGH says:

    दुर्गेश जी को अमर उजाला में कार्यभार संभालने हेतु हार्दिक बधाइयाँ।

    दुर्गेश जी बहुत ही प्रतिभावान पत्रकार है साथ ही साथ बहुत ही अच्छे इंसान भी है और पिछले डेढ़ दशक से सक्रिय पत्रकारिता कर रहे है। इनके पास न्यूज़ टीवी , रेडिओ , डिजिटल , पत्रकारिता के हर क्षेत्र का अनुभव है ।

    सहारा में इनपुट के पद पर कार्य करते हुए इन्होने मिडिया फेडरशन की तरफ से दिया जाने वाला बेस्ट इनपुट हेड का ख़िताब मात्र एक वर्ष में अपने नाम किया था ये इनकी कार्य छमता को दर्शाता है। और जब इन्होने सहारा में डिजिटल हेड का पद भार सम्भाला तो उससे पहले सहारा का डिजिटल बिजनेस काफी काम था , पर इन्होने अपने प्रयासों से सहारा के डिजिटल पेज ( समय लाइव.कॉम ) को और बेहतर किया और जितने समय दुर्गेश जी सहारा के डिजिटल पेज के एडिटर रहे उसका बिजनेस भी काफी अच्छा रहा।

    आगे मै यही कहना चाहूंगा की दुर्गेश जी एक स्वतंत्रता प्रिय पत्रकार है , जितना अच्छा कार्य वो स्वयं के निर्णयों के अनुरूप कर पाते है उतना वो दबाव में नहीं कर पाते, जहां तक मै उन्हें जानता हूँ तो मेरा यही मानना है, यहाँ मैं उनकी कार्य क्षमता पर सवाल नहीं उठा रहा हूँ यहाँ मै उनकी कार्य शैली को दर्शना चाहता हूँ।

    आगे मै यही कहना चाहूंगा की अगर अमर उजाला का ऊपरी नेतृत्व दुर्गेश जी की कार्य क्षमता का पूर्ण उपयोग करना चाहता है और बेहतर परिणाम भी चाहता है तो नेतृत्व को दुर्गेश जी को स्वतंत्र रूप से कार्य करने की स्वतंत्रता देनी चाहिए।

    अपनी बात को समाप्त करते हुए , मैं दुर्गेश जी को उनकी नई और आगामी पारी के लिए सहृदय शुभकामनाये देता हूँ , और आशा करता हूँ की यहाँ पर भी इन बेहतरीन परफार्मेंस देंगे।

    Reply
  • ravisingh says:

    दुर्गेश जी को अमर उजाला में कार्यभार संभालने हेतु हार्दिक बधाइयाँ।

    दुर्गेश जी बहुत ही प्रतिभावान पत्रकार है साथ ही साथ बहुत ही अच्छे इंसान भी है और पिछले डेढ़ दशक से सक्रिय पत्रकारिता कर रहे है। इनके पास न्यूज़ टीवी , रेडिओ , डिजिटल , पत्रकारिता के हर क्षेत्र का अनुभव है , सहारा में इनपुट के पद पर कार्य करते हुए इन्होने मिडिया फेडरशन की तरफ से दिया जाने वाला बेस्ट इनपुट हेड का ख़िताब मात्र एक वर्ष में अपने नाम किया था ये इनकी कार्य क्षमता को दर्शाता है।

    और जब इन्होने सहारा में डिजिटल हेड का पद भार सम्भाला तो उससे पहले सहारा का डिजिटल बिजनेस काफी काम था , पर इन्होने अपने प्रयासों से सहारा के डिजिटल पेज ( समय लाइव.कॉम ) को और बेहतर किया और जितने समय दुर्गेश जी सहारा के डिजिटल पेज के एडिटर रहे उसका बिजनेस भी काफी अच्छा रहा।

    आगे मै यही कहना चाहूंगा की दुर्गेश जी एक स्वतंत्रता प्रिय पत्रकार है , जितना अच्छा कार्य वो स्वयं के निर्णयों के अनुरूप कर पाते है उतना वो दबाव में नहीं कर पाते, जहां तक मै उन्हें जानता हूँ तो मेरा यही मानना है, यहाँ मैं उनकी कार्य क्षमता पर सवाल नहीं उठा रहा हूँ यहाँ मै उनकी कार्य शैली को दर्शना चाहता हूँ।

    आगे मै यही कहना चाहूंगा की अगर अमर उजाला का ऊपरी नेतृत्व दुर्गेश जी की कार्य क्षमता का पूर्ण उपयोग करना चाहता है और बेहतर परिणाम भी चाहता है तो नेतृत्व को दुर्गेश जी को स्वतंत्र रूप से कार्य करने की स्वतंत्रता देनी चाहिए।

    अपनी बात को समाप्त करते हुए , मैं दुर्गेश जी को उनकी नई और आगामी पारी के लिए सहृदय शुभकामनाये देता हूँ , और आशा करता हूँ की यहाँ पर भी इन बेहतरीन परफार्मेंस देंगे।

    Reply
  • ravi singh says:

    दुर्गेश जी को अमर उजाला में कार्यभार संभालने हेतु हार्दिक बधाइयाँ।
    दुर्गेश जी बहुत ही प्रतिभावान पत्रकार है साथ ही साथ बहुत ही अच्छे इंसान भी है और पिछले डेढ़ दशक से सक्रिय पत्रकारिता कर रहे है।

    इनके पास न्यूज़ टीवी , रेडिओ , डिजिटल , पत्रकारिता के हर क्षेत्र का अनुभव है , सहारा में इनपुट के पद पर कार्य करते हुए इन्होने मिडिया फेडरशन की तरफ से दिया जाने वाला बेस्ट इनपुट हेड का ख़िताब मात्र एक वर्ष में अपने नाम किया था ये इनकी कार्य क्षमता को दर्शाता है।

    और जब इन्होने सहारा में डिजिटल हेड का पद भार सम्भाला तो उससे पहले सहारा का डिजिटल बिजनेस काफी काम था , पर इन्होने अपने प्रयासों से सहारा के डिजिटल पेज ( समय लाइव.कॉम ) को और बेहतर किया और जितने समय दुर्गेश जी सहारा के डिजिटल पेज के एडिटर रहे उसका बिजनेस भी काफी अच्छा रहा।

    आगे मै यही कहना चाहूंगा की दुर्गेश जी एक स्वतंत्रता प्रिय पत्रकार है , जितना अच्छा कार्य वो स्वयं के निर्णयों के अनुरूप कर पाते है उतना वो दबाव में नहीं कर पाते, जहां तक मै उन्हें जानता हूँ तो मेरा यही मानना है, यहाँ मैं उनकी कार्य क्षमता पर सवाल नहीं उठा रहा हूँ यहाँ मै उनकी कार्य शैली को दर्शना चाहता हूँ।

    आगे मै यही कहना चाहूंगा की अगर अमर उजाला का ऊपरी नेतृत्व दुर्गेश जी की कार्य क्षमता का पूर्ण उपयोग करना चाहता है और बेहतर परिणाम भी चाहता है तो नेतृत्व को दुर्गेश जी को स्वतंत्र रूप से कार्य करने की स्वतंत्रता देनी चाहिए।

    अपनी बात को समाप्त करते हुए , मैं दुर्गेश जी को उनकी नई और आगामी पारी के लिए सहृदय शुभकामनाये देता हूँ , और आशा करता हूँ की यहाँ पर भी इन बेहतरीन परफार्मेंस देंगे।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code