भारत पत्रकार हत्या के लिए पांचवां सबसे बुरा देश साबित हुआ है

पत्रकार साथियों,

देश भर में पत्रकार हितों के नाम पर सैंकड़ों छोटे-बड़े पत्रकार संगठन हैं। सभी पत्रकार संगठन यही दावा करते आये हैं कि उनका उद्देश्य एंव लक्ष्य पत्रकार हितों की रक्षा है। वर्ष 2018 में विश्वभर भर में 80 पत्रकारों की हत्या हुई है। विश्व भर में पत्रकारों की हत्या के आंकड़ों में भारत पत्रकार हत्या के लिए पांचवां सबसे बुरा देश साबित हुआ है। पहले स्थान पर अफगानिस्तान को रखा गया है।

रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स की नई रिपोर्ट से ये आंकड़े सामने आए हैं. इस रिपोर्ट से साफ हुआ है कि इस वर्ष विश्व भर में पत्रकारों की हत्या में बढ़ोतरी हुयी है।

मित्रों पिछले कुछ वर्षों में हमने बिहार,झारखण्ड, छतीसगढ़, उत्तरप्रदेश एंव राजस्थान में पत्रकारों की हत्या,जानलेवा हमले एंव झूठे मुकदमों को करीब से देखा है।इन हत्याओं एंव हमलों के बाद कुछ पत्रकार संगठन निंदा प्रस्ताव एंव ज्ञापन देकर ख़ामोश बैठ जाते हैं तो कुछ ऐसे भी हैं जो केवल सोशल मीडिया के माध्यम से अपने गुस्से का इज़हार करते हैं।

हम भारत सरकार से मान्यता प्राप्त पत्रकार संघों की बात करें तो आजतक किसी भी पत्रकार की हत्या के बाद पत्रकार के परिजनों को किसी तरह की कोई आर्थिक मदद नहीं की गयी है जबकी उन सभी मान्यता प्राप्त संगठनों के पास लाखों नहीं करोड़ों रुपये बैंक खाते में हैं।उन सभी पत्रकार संगठनों के अगुवा के पास कभी इतना समय नहीं मिला कि वे पत्रकार हत्या के बाद उनके परिजनों से मिलने उनके पैतृक आवास तक पहुंच पायें।

पत्रकार साथियों की हत्या के बाद उनके परिजन कैसे जीवन व्यापन करेंगे इसकी सुध लेने वाला कोई नहीं होता। मित्रों पिछले एक वर्ष से मैं देश भर के सभी मान्यता प्राप्त पत्रकार संगठनों से एक मंच पर आने का आह्वान कर रहा हूँ।एक मंच पर आने का अर्थ वे हरगिज़ यह नहीं लें कि ऐसा करने से उनका सतीत्व समाप्त हो जायेगा बल्कि वे अपने संघ में रहते हुये एक ऐसे मंच पर साथ आयें जहाँ केवल पत्रकार हितों को लेकर हम केंद्र एंव राज्य सरकार के ऊपर दबाव बना सकें।

यह मंच कोई नया संगठन नहीं बनायेगा बल्कि सभी मान्यता प्राप्त संगठन के सदस्य एंव पदाधिकारी एक मंच पर एक साथ पत्रकार हितों की रक्षा के लिये खड़े हो पायेंगे। Journalist For Unity एक ऐसा ही प्लेटफॉर्म है जहाँ IFWJ, NUJ, IUJ, Press Association & Cameraman Association से जुड़े पत्रकार साथी मंच को साझा कर पायेंगे।

पत्रकार मित्रों आप अपने अपने संगठनों में रहते हुये इस प्लेटफॉर्म को इसी तरह एक साझा प्लेटफॉर्म बनायेंगे जिस प्रकार विभिन्न राजनीतिक दलों का गठबंधन सरकार बनाने के लिये होता है, अलग अलग विचारधारा रखने के बावजूद NDA एंव UPA का गठन कर वे एक मंच को साझा करते हैं,ऐसा कर वे अपने अपने राजनीतिक दलों से जुड़े रहते हुये भी एक मंच पर आते हैं।

इसी प्रकार मान्यता प्राप्त पत्रकार संगठनों के पदाधिकारी एंव सदस्य इस मंच को साझा कर पायेंगे, इस मंच का उद्देश्य पत्रकार हितों के लिये संघर्ष एंव आंदोलन से सभी अलग अलग संगठनों से जुड़े साथियों को एक मंच पर लाना है। मंच की ओर से Common Minimum Program बनाया जारहा है,आप सभी पत्रकार साथी इसके लिये अपना सुझाव व्हाट्सएप्प अथवा ईमेल के माध्यम से भेज सकते हैं।

1) देश भर में पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करना।

2) देश भर के पत्रकारों को PIB के तर्ज पर सुविधा मोहैया करवाना।

3) आंचलिक पत्रकारों को सरकार की योजनाओं में शामिल करवाना।

4) जिन राज्यों में पत्रकारों के लिये स्वास्थ्य बीमा योजना लागू नहीं है उसे लागू करवाना।

5) समाचार पत्रों से GST से मुक्त करवाना।

शाहनवाज़ हसन

Journalist for Unity

email: ifwj.nuj.iuj@gmail.com

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *