निखिल वागले ने प्राइम टाइम डिबेट के दौरान सनातन संस्था के अभय वर्तक को लाइव शो से निकाल बाहर किया

मुंबई : वरिष्ठ पत्रकार निखिल वागले महाराष्ट्र01 न्यूज़ चैनल पर प्राइम टाइम की एंकरिंग कर रहे थे. डिबेट का विषय विवादित और संवेदनशील था. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एक धार्मिक कार्यक्रम के दौरान विवादित बयान दिया था- “धर्मसत्ता राजसत्ता से बड़ी होती है।’ इस बयान से लोगों ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. मुख्यमंत्री के इस बयान को सीधा संघ नीति से जोड़ा गया. निखिल वागले ने प्राइम टाइम में इसी विषय पर डिबेट रखा.

डिबेट में कई गणमान्य वक्ताओं ने शिरकत की. कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत, सनातन संस्था के प्रवक्ता अभय वर्तक आदि. गरमा गरम बहस चल रही थी. लाइव शो के दरम्यान सनातन संस्था के प्रवक्ता अभय वर्तक ने एक विवादित स्टेटमेंट दिया. इस पर निखिल वागले आग बबूला हो गए. लाइव शो के दरम्यान सनातन संस्था के प्रवक्ता अभय वर्तक को वागले ने शो से तुरंत निकल जाने को कह दिया. वागले ने कहा कि आप नहीं गए शो से तो मेरे आदमी आकर आप को यहाँ से उठा कर लेकर जाएंगे.

निखिल वागले बार बार चिल्लाकर कह रहे थे अभय वर्तक आप दंगा करवाना चाहते हैं, जल्दी से निकल जाइये, नहीं तो मुझे गेट आउट कहना पड़ेगा. अभय वर्तक शो से निकल गए. निखिल वागले ने लाइव शो के दरम्यान घोषणा कर दी कि इसके बाद मेरे शो में कभी भी सनातन संस्था का कोई नुमाइंदा नहीं आएगा. मालूम हो कि अभय वर्तक एक विवादित शख्सियत हैं.

पुणे से सुजीत ठमके की रिपोर्ट. संपर्क : sthamke35@gmail.com

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “निखिल वागले ने प्राइम टाइम डिबेट के दौरान सनातन संस्था के अभय वर्तक को लाइव शो से निकाल बाहर किया

  • Truth is truth. Even if it’s bitter and Nikhil Waghle like it or not. So Kudos to Abhay Vartak for sticking to the truth.
    On 4 September 2016 Mother Teresa was granted Sainthood after recognizing two miracles 1. healing of a Brazilian man with multiple brain tumours and 2. The healing of a tumour in the abdomen of an Indian woman, Monica Besra. Have you heard any Indian social activists/rationalist or Mukta Dabhokar taking against Mother Teresa. If not What right they have to criticize CM Fadnavis for attended a function to celebrate Narendra Maharaj’s 50th birthday ?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *