सब कुछ तो एंकर है, रिपोर्टर अब है कहां!

मीडिया का जलवा क़ायम था, है, और रहेगा। पत्रकार भौकाली था, है, और रहेगा। मगर पत्रकारिता थी। है? रहेगी? इन सवालों का जवाब तलाशना बेहद ज़रूरी हो गया है। हालात अगर ऐसे ही रहे तो पत्रकारिता न्यूज़रूम के आईसीयू में जल्द ही दम तोड़ देगी। और हम और आप उस आईसीयू में उसे टीवी स्क्रीन …

‘इंडिया टीवी’ के रोके न रुकी ये एंकर, कोर्ट में रजत शर्मा को शिकस्त दे ‘रिपब्लिक टीवी’ ज्वाइन किया

अपनी महिला एंकर को दूसरे न्यूज चैनल में “ऑन एयर” होने से रोकने की खातिर हाईकोर्ट गया था ‘इ्ंडिया टीवी’… Share on:कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

चैनल पर डिबेट के दौरान पत्रकार ने गिलास फेंका, एंकर को लगे कांच के टुकड़े (देखें वीडियो)

राजनीतिक पार्टियों के प्रवक्ताओं को छोड़िए, अब तो पत्रकार भी तोड़फोड़ करने लगे हैं. News 1 India नामक न्यूज चैनल के लाइव debate के दौरान political expert के बतौर शामिल हुए पत्रकार सुनील कौशिक ने ऐसी हरकत कर दी कि सभी लोग हक्के-बक्के रह गए. Share on:कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

एंकर राधिका को एंकर राहुल ने मार डाला! हत्या की रिपोर्ट दर्ज

न्यूज एंकर राधिका कौशिक ने आत्महत्या नहीं की बल्कि उसका ठंढे दिमाग से मर्डर किया गया. नोएडा केक सेक्टर-77 स्थित अंतरिक्ष फॉरेस्ट सोसायटी की चौथी मंजिल की बालकनी से गिरकर हुई एंकर राधिका कौशिक की मौत के मामले में उसके पिता ने हत्या की रिपोर्ट दर्ज करा दी है. इसमें साफ साफ कहा गया है …

‘जी राजस्थान’ की एंकर राधिका कौशिक की बालकनी से गिरकर मौत, कमरे में पुरुष एंकर भी था!

बेहद दुखद खबर मिल रही है। जी समूह के राजस्थान के रीजनल चैनल में कार्यरत एंकर राधिका कौशिक का निधन हो गया है। बताया जाता है कि नोएडा के सेक्टर 77 स्थित अंतरिक्ष फारेस्ट सोसायटी की चौथी मंजिल से गिरकर एंकर राधिका की मौत हुई। जी न्यूज़ में ही कार्यरत एंकर राहुल देव अवस्थी को मौका-ए-वारदात …

एडिटर के खिलाफ महिला पत्रकार पहुंची थाने

7 अप्रैल को मैने लाइव खबर ज्वाइन किया था. यहां HOD थे राजीव लियाल. इन्होंने ही मेरा इंटरव्यू लिया था और मुझे एंकर प्रोड्यूसर के लिए अपाइंट किया.. 7 महीने तक वहां मेहनत से काम किया. सारा आउटपुट डिपार्टमेंट मैं देखती थी.. वहां के स्टाफ से मेरी बहुत अच्छी बनती थी.. सब मेरे दोस्त थे.. …

चीन में रोबोट एंकरों ने शुरू किया समाचार वाचन, देखें वीडियो

टीवी एंकरों की नौकरी की लगने वाली है वाट… चीन में रोबोट एंकरों ने शुरु कर दिया है समाचार वाचन… चीन ने टीवी पर खबरें पढ़ने वाले नकली आदमी को कर दिया लांच… वर्चुअल एंकर वाला दुनिया का पहला प्रयोग हो रहा है चीन में. इस वर्चुअल एंकर को चीनी सर्च इंजन ‘सोगो’ ने बनाया …

इस एंकर ने तो नशेबाजी में अपने ही दोस्त को पीट डाला… पढ़ें पूरी दास्तान

एंकर से दोस्ती का शिकार एक युवा पत्रकार मनीष दुबे Manish Dubey : एक एंकर साहब हैं “के न्यूज़ यूपी/यूके” के। नाम है- ओम आदित्य द्विवेदी। इन्हें करीब दस बारह साल से जान रहा हूँ। कभी ऐसा नहीं हुआ जैसा पिछले दिनों हो गया। साहब ने भयंकर शराब पी रखी थी। ब्रजेश शर्मा जी, जो …

इंडिया न्यूज के रीजनल चैनल में कार्यरत रही इस एंकर की दो माह की सेलरी प्रबंधन ने मार लिया!

इंडिया न्यूज चैनल में कोई नियम कायदा नहीं चलता। जिसे मन करो रक्खो, जिसे मन करे निकालो। चाहें जिसकी जितनी सेलरी दबा लो। बिना किसी वजह के हर महीने 3-4 लोगों को निकाल दिया जाता है। बस एक कॉल आएगा, कल से मत आना। उसके बाद बोरिया बिस्तर बंध जाता है। इंडिया न्यूज के ही …

दिल्ली के हेडगेवार अस्पताल के डाक्टर ने न्यूज चैनल के इस एंकर की कर दी ‘हत्या’!

Mahendra Mishra : दीपांशु का जाना अंदर से खल गया। एक बेलौस, बेअंदाज और बिल्कुल हरफनमौल शख्स। जो कभी भी और किसी के लिए भी उपलब्ध रहता था। ऐसी शख्सियत जो बनी ही शायद दूसरों के लिए थी। ये भी कोई उम्र होती है जाने की दीपांशु। एकबारगी मन में ख्याल आया कि आखिर आए …

चीखने-चिल्लाने के मामले में एंकर अमीश देवगन का देसी वर्जन मिल गया… देखें वीडियो

सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब शेयर हो रहा है जिसमें एक पत्रकार कुछ ग्रामीणों से उनकी पीड़ा के बारे में बात कर रहा है. पहले तो शुरुआत में ही बिना जाने यह पत्रकार ऐलान कर देता है कि यह जो स्त्री खड़ी है, उसका पति मर गया है. तब गांव वाले करेक्ट करते हैं …

अमीश देवगन ने दोबारा गालियां सुनीं या कहिए जो पहले सुनी थीं, उन्हें कंफर्म करा लिया, देखें वीडियो

Sanjaya Kumar Singh : अमीश देवगन ने दोबारा गालियां सुनीं या कहिए जो पहले सुनी थीं उन्हें कंफर्म करा लिया। अब पत्रकार ऐसे ही गाली सुनेंगे, माफी मांगने का मौका देने के बाद भी कोई माफी नहीं मांगेगा और ये प्रसारित करने को मजबूर होंगे। हिन्दू-मुस्लिम पर चर्चा करेंगे और किन विषयों पर चर्चा नहीं …

अमीश देवगन जैसे स्टार एंकर से मज़बूत तो साप्ताहिक झपट्टा टाइम्स का पत्रकार है!

Naved Shikoh : छोटे अखबार के पत्रकार को ‘भड़वा’ तो दूर कोई ‘कड़वा’ बोल दे तो विरोध की आंधी आ जाये… चकाचौंध वाले देश के टॉप क्लास बड़े-बड़े न्यूज चैनल्स के नामी-गिरामी स्टार मीडिया कर्मियों से कहीं ज्यादा ताकतवर और एकजुट हैं हम। हमारे लखनऊ के छोटे से छोटे पत्रकार की फटफटिया के हैंडिल पर …

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी ने एंकर अमीश देवगन को ‘दलाल’ और ‘भड़वा’ कह दिया!

कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव त्यागी ने न्यूज18 चैनल पर डिबेट के दौरान लाइव शो में एंकर अमीश देवगन को भड़वा और दलाल कह दिया. एंकर के एक सवाल के जवाब में राजीव त्यागी ने कहा कि ”हमने पांच सौ चैनल खोल कर रख दिए और तुम जैसे लोग पत्रकार बन गए, इसलिए मुल्क भोग रहा …

‘मेरा दिमाग ही मेरा दुश्मन है’ लिख कर महिला एंकर ने किया सुसाइड

भारत में एक महिला एंकर यह लिखकर सुसाइड कर लेती है कि- ”मेरा दिमाग ही मेरा दुश्मन है”.  आत्महत्या करने वाली यह महिला एंकर अपने पति से तलाक के बाद डिप्रेशन में चल रही थी. मामला आंध्र प्रदेश का है.   Share on:कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

संबित पात्रा ‘आजतक’ न्यूज चैनल में एंकर बन गए… मुझे तो शर्म आई… आपको?

आजतक के मालिक साहब अरुण पुरी जी कहते हैं कि लोकतंत्र खतरे में हैं और मीडिया पर हमले हो रहे हैं… दूसरी तरफ वे अपने ही चैनल में एंकर की कुर्सी पर भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा को बिठा देते हैं. कैसा दौर आ गया है जब मीडिया वालों को टीआरपी के कारण सिर के बल चलना पड़ रहा है. टीवी वाले तो वैसे भी सत्ताधारियों और नेताओं के रहमोकरम पर जीते-खाते हैं लेकिन वे शर्म हया बेच कर नेताओं-प्रवक्ताओं को ही एंकर बनाने लगेंगे, भले ही गेस्ट एंकर के नाम पर तो, इनकी बची-खुची साख वैसे ही खत्म हो जाएगी.

रोहित सरदाना के समर्थन में उतरा बीईए, धमकी दिए जाने की निंदा की

ब्राडकास्ट एडिटर्स एसोसिएशन यानि बीईए यानि टीवी चैनल्स के संपादकों की संस्था ने आजतक चैनल के एंकर रोहित सरदाना के समर्थन में एक बयान जारी कर उन्हें धमकाए जाने की निंदा की. बीईए प्रेसीडेंट सुप्रिय प्रसाद ने इस बारे में जो बयान जारी किया है, वह इस प्रकार है-

महिला एंकर ने घूंघट ओढ़े डिबेट शो की शुरुआत कर हरियाणा सरकार की तुच्छ मानसिकता को मारा तमाचा (देखें तस्वीरें और वीडियो)

आपने तरह-तरह के लाईव शो, डिबेट, बुलेटिन देखा होगा. लेकिन यदि आप अपना टीवी सेट आन करते हैं और सामने टीवी की एंकर घूंघट कर लाईव डिबेट करती नजर आए तो आप जरुर चौंक जाएंगे. ऐसा ही कुछ हुआ STV HARYANA NEWS में. हरियाणा के इस रीजनल न्यूज चैनल की एग्जीक्यूटिव एडिटर और एंकर प्रतिमा दत्ता ने लाईव शो की शुरुआत घूंघट ओढ़कर की.

सईद अंसारी यानि एक अद्भुत एंकर, एक बेजोड़ इंसान

Vikas Mishra : सईद अंसारी…नाम तो सुना होगा..। जितने बढ़िया एंकर, उतने ही बेहतरीन इंसान भी। हमेशा हंसते हुए और गर्मजोशी के साथ मिलते हैं। हर किसी की मदद के लिए तैयार, पक्के यारबाज। मुझे नहीं लगता कि दुनिया में कोई ऐसा भी इंसान होगा, जिसने कभी ये शिकायत की हो कि सईद अंसारी ने मुझसे कोई गलत बात की, तल्ख आवाज में बात की। जमीन से बिल्कुल जुड़े हुए, बिल्कुल इगोलेस, कमाल के इंसान। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में अगर किसी एंकर का कोई स्लॉट तय है तो वो कभी भी बर्दाश्त नहीं कर सकता कि उस स्लॉट में कोई और एंकरिंग करे, लेकिन सईद भाई इस नियम से परे हैं।

यूपी के मुसलमान, आजतक चैनल और एंकर अंजना कश्यप

Arun Maheshwari : यूपी के मुसलमान और ‘आज तक’… ‘आजतक’ चैनल की एक एंकर है अंजना कश्यप। हमेशा वीर रस वाले भाव बोध में रहने वाली -‘दुर्गा वाहिनी’ वालों का तेवर लिये हुए। आज वे यूपी की राजनीति में मुसलमानों के बारे में एक रिपोर्ट पेश कर रही थी। मुसलमान देश के अन्य सभी तबक़ों से कितने पिछड़ गये हैं, इसके तमाम आँकड़े रख रही थी।

आजतक पर श्वेता की यह क्या खबू एंकरिंग है!

Jaishankar Gupta : क्या ऐंकरिंग है। खुद को नंबर एक कहने और सबसे आगे रहनेवाले टीवी चैनल पर यूपी में पहले चरण के मतदान पर चर्चा के दौरान 4.12 बजे ऐंकर द्वारा मथुरा में मौजूद रिपोर्टर संजय शर्मा से मतदाताओं की प्रतिक्रिया पूछने और रिपोर्टर द्वारा एक मतदाता के हवाले यह बताने पर कि युवा बड़े उत्साह के साथ भाजपा के पक्ष में मतदान कर रहे हैं, बड़े चाव के साथ दिखाया गया। संजय ने वरिष्ठ पत्रकार शशिशेखर के पूछने पर भी बताया कि गोलबंदी भाजपा के पक्ष में साफ दिख रही।

डेढ़ घंटे माथा फोड़ने के बाद एंकर अजय कुमार ने जाना- ये बाबा पागल है!

न्यूज नेशन के पराक्रमी एडिटर अजय कुमार को डेढ़ घंटे माथा फोड़ने के बाद पता चला कि उनके बाबा बवाली यानी ओम बाबा उर्फ स्वामी ओम का मानसिक संतुलन हिल गया है और उसे इलाज की जरूरत है. अजय कुमार को बहुत पहले जब ‘आजतक’ के साथ थे, देखा था और उन्हें बाकी पत्रकारों के मुकाबले थोड़ा संजीदा पत्रकार समझता था. लेकिन बीच के समय में कभी-कभार ही दर्शन मिले. कल उनका एक कार्यक्रम न्यूज नेशन पर देखा ‘बवाली बाबा’. देखकर लगा कि टीआरपी की हवस पत्रकार को क्या से क्या बना देती है.

लाइव शो के दौरान एंकर नरेश सोनी पर स्वामी ओम ने पानी फेंका, जान से मारने की धमकी दी (देखें वीडियो)

इन दिनों एक स्वयंभू बाबा मीडिया में खूब छाया हुआ है, नाम है विवेकानंद झा, जिसे बिगबॉस 10 के घर ने स्वामी ओम के नाम से हर घर में पहुंचा दिया है। अब क्योंकि चैनलों की मजबूरी है कि जो लोग देखना चाहते हैं वो हमें दिखाना भी पड़ता है। यही सोचकर बुधवार को हमने स्वामी ओम और प्रियंका जग्गा को एक डिबेट शो के लिए बुलाया। अब क्योंकि स्वामि ओम कई बार अनर्गल बकना शुरू करते हैं, तो एहतियातन हमने इस शो को लाइव नहीं करके, रिकॉर्ड किया, ताकि एडिट की गुंजाइश रहे। लेकिन शो के दौरान जो इसने किया वो अविश्वसनीय है।

दर्जन भर से ज्यादा छोटे बड़े एंकर्स को ग्रुप मेल भेजकर जस्टिस काटजू ने यह दी सलाह

अपनी बेबाक टिप्पणियों के लिए चर्चित जस्टिस मार्कंडेय काटजू ने दर्जन भर से ज्यादा छोटे बड़े न्यूज चैनल एंकर्स Ravish Kumar, Barkha, Arnab Goswami, Rahul Kanwal, Bhupendra Chaubey, Nidhi Razdan, Karan Thapar, Rajdeep Sardesai, Sagarika Ghose आदि को ग्रुप मेल भेज कर यह सलाह दी है-

आजतक वाली श्वेता सिंह की मूर्खता का वीडियो सोशल मीडिया पर हुआ वायरल, आप भी देखें

टीवी जर्नलिस्ट कई बार ऐसी मूर्खता कर जाते हैं कि उसे देख गुस्सा के साथ साथ जोरदार हंसी भी आती है. ताजा मामला श्वेता सिंह का है जो आजतक न्यूज चैनल की एंकर और रिपोर्टर हैं. खुद को बेहद काबिल मानने वाली इस महिला एंकर ने ऐसी मूर्खता की है कि लोग खूब मजे ले लेकर वीडियो देख रहे हैं और हंस रहे हैं. कायदे से आजतक प्रबंधन को इस गल्ती के लिए श्वेता सिंह को बर्खास्त कर देना चाहिए, साथ ही उस रिपोर्टर को भी जिसने ये फर्जी सूचनाएं श्वेता तक पहुंचाईं.

अतुल अग्रवाल फिर सुर्खियों में, अबकी उन्हीं के वेब चैनल के पत्रकार ने दी जमकर गालियां (सुनें टेप)

अतुल अग्रवाल अपने कर्मों से अक्सर सुर्खियों में रहते हैं. ताजा मामला ठगी और गाली खाने का है. अपने वेब न्यूज चैनल हिंदी खबर में अतुल अग्रवाल ने यूपी का स्थानीय संपादक अमितेश श्रीवास्तव को बनाया था. अमितेश ने अतुल के कहने पर पैसे भी चैनल में लगाए. अतुल अग्रवाल की फितरत है कि वह इस्तेमाल करने के बाद आदमी को किनारे कर देते हैं और दूसरे को पकड़ लेते हैं. इसी क्रम में उन्होंने आजतक चैनल से निकाले गए अनूप श्रीवास्तव को हिंदी खबर यूपी का स्थानीय संपादक बना दिया और अमितेश को साइ़डलाइन कर दिया.

कल के हॉकर ही आज के टीवी ऐंकर हैं!

खबरिया चैनलों के ऐंकरों को मामूली से मामूली खबर पर गला फाड़-फाड़ कर चिल्लाते देखता-सुनता हूँ, तो बरबस चालीस साल पहले के एक न्यूजपेपर हॉकर की याद ताजा हो जाती है। वह अखबार लेकर गोरखपुर शहर की गलियों-मुहल्लों में साइकिल पर सवार होकर घूमता रहता था। ठीक आजकल के टीवी ऐंकरों की तरह किसी खबर का ऐसे बेहूदे ढंग से हल्ला मचाता था कि सुनने वाले को लगता था कि जरूर कहीं कोई अनर्थकारी घटना हो गयी है। कौतूहल और उत्सुकता के मारे लोग उसे रोकने थे और न चाहते हुए भी अखबार की एक प्रति खरीद लेते थे।

निखिल वागले ने प्राइम टाइम डिबेट के दौरान सनातन संस्था के अभय वर्तक को लाइव शो से निकाल बाहर किया

मुंबई : वरिष्ठ पत्रकार निखिल वागले महाराष्ट्र01 न्यूज़ चैनल पर प्राइम टाइम की एंकरिंग कर रहे थे. डिबेट का विषय विवादित और संवेदनशील था. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एक धार्मिक कार्यक्रम के दौरान विवादित बयान दिया था- “धर्मसत्ता राजसत्ता से बड़ी होती है।’ इस बयान से लोगों ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. मुख्यमंत्री के इस बयान को सीधा संघ नीति से जोड़ा गया. निखिल वागले ने प्राइम टाइम में इसी विषय पर डिबेट रखा.

महिला एंकर को डिप्रेशन में जाने और इस्तीफा देने तक परेशान किया गया, पढ़िए चिट्ठी

सर

मैंने 5 अप्रैल 2016 को नेशनल वॉयस चैनल में बतौर एंकर / प्रोडयूसर ज्वाइन किया था. शुरुआत काफी अच्छी रही लेकिन पिछले दो महीने से लगातार मुझे आफिस में बेवजह कोई ना कोई मुददा बनाकर परेशान किया जा रहा है. मुझे इतना परेशान किया गया था कि मैं डिप्रेशन में आ गई थी. इसके बाद ऑफिस में ही मेरी तबियत खराब हो गई. मैं कई दिन तक अस्पताल में रही. ठीक होने के बाद जब मैंने ऑफिस ज्वाइन किया तो भी मेरे सीनियर का रवैया नहीं बदला. उसके बाद भी वो लगातार मुझे मानसिक रुप से प्रताड़ित करते रहे.

पाक कलाकारों के खिलाफ जहर उगलने वाला यह एंकर खुद पैसे देता है पाकिस्तानियों को!

Vinod Sharma : A formidable TV anchor is running a relentless campaign against Pakistani artistes who act and deliver dialogues written by their Indian script writers in settings decided by their directors in Bollywood films. But it just struck me that the same anchor is the provider of regular income (running into hundreds of USD) for Pakistani security experts and retired generals who are a regular fixture on his shows. And unlike Pakistani actors they don’t read out from written scripts They make arguments about which they aren’t surely informing the anchor in advance. For in the show they match derision for derision.