मुकेश ने एफबी पर हुई कुछ चैट सार्वजनिक कर दोष ऋचा पर भी मढ़ा, बाद में ‘सॉरी’ बोल दिया

Mukesh Kumar Sinha : ऋचा से मेरी पहले कभी बात नहीं हुई. शुरुआत उसने की कविता शेयर करने से लेकर और फिर उसने बातों को मोड़ा. मैं कन्फर्म हो गया एक फेक प्रोफाइल है इसलिए अंत उसके अनुसार हुआ.

(चैट पढ़ने के लिए उपरोक्त पिक्चर पर क्लिक कर दें.)

उपरोक्त स्टेटस के बाद मुकेश कुमार सिन्हा का ताजा स्टेटस ये है, जिसमें उन्हें सॉरी लिखकर अपनी गलती के लिए माफी मांगी है…

उपरोक्त दोनों स्टेटस पर जनता की मिलीजुली प्रतिक्रिया कुछ यूं है…

Ila Varma Aisa kaam Kara hi kyu

सोनाली मिश्रा शोधार्थी-इग्नू वाकई ऐसा काम किया ही क्यों?

Anita Singh किस बात का sorry

Robin Singh sambhav hai ,tag ,kar ke kaho jiske tum apraadhi ho … ye to aap kee kavita ka ans jaisa lag rahaa hai …

Rajeev Bhutani गलती तो गम्भीर हो गई —

Kumar Gulshan Anant Sorry की जरूरत ही क्या है सर जब फेक प्रोफाईल था…

Anjana Dutta sry मैं आपको unfrnd कर रही हूँ

Saurabh Jha dost sharminda hone ki jarurat nhi hai.. Shudhar sakte hai to shudhar jaiye bus…frown emoticon

Shahnawaz Khan कोई गलतफहमी हुई है

Lakshmi Sharma फेक आई डी है तो सॉरी क्यों । पहले सच तो सामने आए

Saurabh Jha n galti akele inki nhi hai.. aap inka post pade,,, Agar bandi frank ho rhi hai to fir walmiki v fisle the ye to Mukesh g hai…grin emoticon

Aparna Anekvarna I appreciate this step.. take care.

Abha Khare Aap hamare mitra the aur rahenge hamesha ….

Veeru Sonker मुकेश भाई आपको शर्म आनी चाहिए ! बाकि और ज्यादा कुछ कहने का मन नहीं है id के असली नकली होने से आप का गुनाह कम नहीं होता !…See More

Lakshmi Sharma लेकिन इस प्रकरण में रश्मि की चेट भी ध्यान देने की बात है। उसके स्क्रीन शॉट भी देखे मैंने। मैं यह नहीं कहती कि उस से मुकेश जी सुर्खरू हो जाते हैं लेकिन उससे ये स्पष्ट हो रहा है कि चेट में हम लोगों को भी सामने वाले को किसी गलत या खुश फहमी का मौका नहीं देना चाहिए

आकाँक्षा सेठ आपको दादा कहती हूँ…बुरा लगा बहुत

Vani Geet क्या हुआ !!??

सुनीता शानू अरे क्या हुआ भाई किस बात की सॉरी बोल रहे हो?

सुभाष शर्मा कोई गल नहीं। पश्चाताप कर लिया बहुत है। मेरे मन में आपके लिए पहले जैसा ही सम्मान है।

Neeta Mehrotra आप मित्र और छोटे भाई हैं मेरे …… और सदा रहेंगें।

Priyanka Om sorry kyu keh rahe aap?

सुशीला शिवराण श्योराण अगर fake id है तो kiss की उम्मीद किससे थी मुकेश जी?

Nanda Pandey तुम हमारे अपने हो और रहोगे हमेशा

Anjani Kumar कोई बात नहीं…!

Samar Anarya एक स्त्री के बार बार मना करने पर भी ‘किस’ माँगने की बेशर्मी के बाद ‘सॉरी’ बोलते हुए घटना का जिक्र भी नहीं? झूठा सॉरी है फिर यह।

सुशीला शिवराण श्योराण Abha Khare कल कोई तुमसे जबरन kiss माँगेगा और हम उसे मित्र बनाए रखेंगे? तुम्हारे निर्णय से हैरान हूँ। flirting का साथ दे रही हैं आप?

Puneeta Chanana What happened? Don’t understand.

सुशीला शिवराण श्योराण Neeta Mehrotra जी छोटे भाई को kiss प्रकरण पर कुछ नहीं कहेंगी?
धन्य हैं आप दिदिया!
ऐसे ही छोटे भाई तैयार कीजिए ताकि कल बहुत सी दामिनी नंगी सड़क पर पड़ी मिलें हो सकता है उनमें से कोई आपकी बहन-बेटी भी निकल जाए!
कैसी फ़सल उगा रही हैं आप?
क्या काटेंगी?

Sandeep Sharma First identify truth …. meantime preference to sorry .

Samar Anarya और आपकी कमेंट से थोड़ा हतप्रभ हूँ Lakshmi.. स्त्री पुरुष संबंधों में चुहल कह लें, फ़्लर्टिंग कह लें, वह भी होता ही है। कितनी दोस्तों को जानेमन कहके पब्लिक पोस्ट लगाता रहता हूँ मैं, आपने तो देखें हैं सारे! लेख भी। पर बिना सहमति के नहीं। रश्मि ऋचा सिंह की बात में वह चुहल दिख रही है पर फिर ‘किस’ माँगने का सीधा नकार भी। और इन जनाब ने ठीक पहले का हिस्सा ग़ायब कर दिया है जहाँ वह पहले से ब्लाक की धमकी दे चुकी हैं। सो पहले कुछ रहा भी हो तो भी न का मतलब न ही होता है न? पर ये साहब तो अड़े हुए हैं।

सीमा संगसार अब तो मैं आपको सौरी बोल रही हूँ—-

Lakshmi Sharma तुम्हारा हतप्रभ होना स्वाभाविक है Samar लेकिन मेरी बात को तुम दूसरे नज़रिये से समझो जहां लोग लिफ्ट लेने को आकुल व्याकुल बैठे रहते हैं। मैं सिर्फ ये कह रही हूँ कि मर्दों के (इसे भी सामान्यीकृत कर के पढ़ा जाए) इस समाज में बिना ठीक से परिचित हुए बात करने का कुपरिणाम से ही सचेत करना चाहती हूँ मैं। तुम जब किस या जानेमन कहते हो तो सरे आम साफ मन से उस को कहते हो जिसका विश्वास तुम्हें मिल चुका है। बिना जाने तो तुम नहीं कहोगे इतना मैं तुम्हे जानती हूँ। और सबसे ऊपर मैंने लिखा न कि मेरे इस पक्ष से मुकेश सुर्खरू नहीं हो जाते। उनकी गलती अक्षम्य है

Samar Anarya बिलकुल ठीक बात है Lakshmi, पर आकुल बैठे लोगों को भी लड़की के न बोलने पर चला ही जाना चाहिये! ये तो मान ही नहीं रहे हैं।

Aanchal Singh Dono kasurvar hai …aur maafi khud se mangiye ki bhavisya mai dobara aisi galti na ho …….

Lakshmi Sharma हाँ यहाँ मैं तुमसे सहमत हूँ Samar । ये नहीं मान रहे तो ये एक्सपोज हों बहिस्कृत हों और ऋचा इनके विरुद्ध शिकायत दर्ज़ कराए। हम साथ हैं

सोनाली मिश्रा शोधार्थी-इग्नू अगर मैं कहूं तो थोड़ी बहुत चुहल तो चलती है पर ये? सार्वजनिक जीवन में सावधान होकर चलने की आवश्यकता होती है.

Neha Agarwal Soory mai bhi aapko unfriend kar rahi hu.

Samar Anarya थोड़ी बहुत नहीं, जितनी हो जाये कुछ बुरा नहीं सोनाली अगर सहमति से हो। पर इनके स्क्रीनशॉट्स से साफ है कि मना करने पर भी अड़े हुए हैं, मुझे वह सबसे ज़्यादा खटक रहा है।

Lakshmi Sharma जब तक ये प्रकरण चल रहा है अनफ्रेंड कर के किसका हित होगा ये सोच के अन फ्रेंड करें

सोनाली मिश्रा शोधार्थी-इग्नू जी, और फिर इस तरह से सार्वजनिक करना, अगर दो लोगों के बीच की बात थी, तो उसे आपस में सुलझा लेना चाहिए, ऐसे आरोपों के कीचड से खुद का दामन ही दागदार होगा

Ruchi Bhalla दोनों ही मेरी मित्र सूची में हैं …. रश्मि कुछ दिन हुए और मुकेश एक साल से भी ज्यादा । दो – एक बार हमिंग बर्ड के सिलसिले में उनसे फोन पर बात हुई है। जब आज ये पोस्ट देखी .. तो मैं खुद को रोक नहीं सकी फोन करने से … सिर्फ एक सवाल किया मैंने … ये क्या है मुकेश और
उनका जवाब था … मेरी गलती थी।
मैंने कहा …. आप जब दिल से मान रहे हैं और कह रहे हैं …
तो कह दीजिए वाल पर सारी ….
उन्होंने कहा है दोस्तों …. खुद से …
दिल से….

Samar Anarya @Ruchi Bhalla- पर माफी तो उससे माँगी जाती है जिसका दिल दुखाया हो, जिसे नुक़सान पहुँचाया हो।

Samar Anarya और ये जरा भी ईमानदार हैं तो उन्हें किस के ठीक पहले वाली चैट सार्वजनिक करनी चाहिये क्योंकि साफ है कि रश्मि ने उसी पर ब्लाक की धमकी दे दी थी Lakshmi, सोनाली। पर ये अड़े रहे। हाँ अमित्र करने का कोई फ़ायदा नहीं पर जो चाहे, ख़ासतौर पर स्त्रियाँ उन्हें पूरा हक है।

सुशीला शिवराण श्योराण सोनाली मिश्रा शोधार्थी-इग्नू जी पुरुष के अमर्यादित और कामुक व्यवहार से स्त्री का दामन दाग़दार कैसे हुआ भला? हैरान होती हूँ जब उच्च शिक्षितों को ऐसे अविवेकी, तर्कहीन विचार प्रकट करते हुए देखती हूँ ! गलती पुरुष करे शर्म स्त्री को आए ! शिक्षा और ज्ञान प्राप्त करके भी हम दोषी को नहीं भुक्तभोगी को दोष देते हैं !!!!! If education can’t teach us to think logically and to be righteous…..then what is the difference between the educated people and illiterates ?

सुशीला शिवराण श्योराण Ruchi Bhalla जी शुक्रिया आपने कुछ प्रकाश तो डाला । अपने मित्र से कहिए जिसके कसूरवार हैं उससे माफ़ी माँगें।

सोनाली मिश्रा शोधार्थी-इग्नू मैंने दोनों के बारे ये कहा था, मेरा अभिप्राय कतई भी एकतरफा नहीं था, हां हो सकता है बात sसही से नहीं कह सकी सुशीला जी

Anju Choudhary फेक id के लिए इतना बवाल….कोई ये क्यों नहीं समझ रहा कि ये मुकेश को बदनाम करने के लिए रची गई सोची समझी साजिश भी हो सकती है |कुछ दिन पहले मैंने भी एक पोस्ट डाली थी कि यहाँ फेसबुक पर बहुत से पुरुष औरतों के नाम रख कर घूम रहे हैं और अपने ही दोस्त (पुरुष ही) उनकी हर पोस्ट पर वाह..वाह करते नज़र आते हैं ……..इस बेकार के बवाल का कोई मतलब ही नहीं है और सॉरी कहना तो बनता ही नहीं है |

Mukesh Sharma मुकेश जी बहुत विस्फोटक स्वरूप हो चुका है यह प्रकरण । कुछ समझ नहीं आ रहा है ।

Niharika Neelkamal Arora gasp emoticon gasp emoticon gasp emoticon gasp emoticon gasp emoticon gasp emoticon

Archana Kumari चाहे कुछ भी हुआ हो सतर्क और सचेत आपको ही रहना था अपनी छवि,गरिमा और सम्मान के लिए। कहीं न कहीं चूक तो आपसे ही हुई। आग को हवा नहीं,पानी देते हैं कि घर जलने से बच जाए। अब इन सबका क्या फायदा,जो नुकसान होना था हो चुका। कोई बीमा पाॅलिसी नहीं है।

Nanda Pandey कैसे पड़ गए पचड़े में तुम ……

Alpika Jaiswal कुछ समझ ही नही आरहा हमे तो

डॉ. अपर्णा त्रिपाठी वो id fake नहीं है. जो भी है शर्मनाक है. दोनों ही तरफ़ से. कोई एक नहीं दोनों ही बराबर के अपराधी.

निर्गुण मनीषा हाँ दोनों की गलती है !

Bhuwan Gupta किस चक्कर में हो बाबूजी ???

Anjana Dutta नाम आपने ऋचा लिखा इनबॉक्स में रशिम कह रहे है चक्कर क्या है मुकेश बाबू

डॉ. अपर्णा त्रिपाठी रश्मि ऋचा की पोस्ट देखिये. क्या आप kiss मांगते हुए शोभा दे रहे हैं.

Parveen Salar Be careful

Shachii Kacker अगर पता चल गया था कि फेक है तो आगे बात नही करनी थी….

Nanda Pandey ओह्ह्ह्ह

Ranjana Srivastava उसने बात को मोड़ा तो आप मुड़ क्यूँ गए जनाब…गलती तो आपसे भी हुई है।

सुदेश आर्या Mukesh Kumar Sinha जी ! ये क्या है… महिलाओं को बदनाम करने से पहले मुझे इन बातों का जवाब चाहिए …

Mittal Shashi Mukesh Kumar Sinha ji acha nhi laga ye sab dekh pad kar chahe wo koi b ho pahle bat ki fir sareaam kar di

डॉ. अपर्णा त्रिपाठी मेरी छोटी बहन है ! इसका कमेन्ट शो हुआ तो तब रश्मि की वॉल देखी …..मैं तो मुकेश जी को बहुत अच्छा मित्र मानती हूं इनकी पुस्तक की समीक्षा भी लिख रही हूं ….लेकिन आज ये महान लेखक मुझे जवाब देंगे …वरना …

डॉ. अपर्णा त्रिपाठी सुदेश दी आज सचमुच बहुत आहत हुई. आज कहीं ना कहीं साहित्य भी शर्मसार हुआ है.

Shachii Kacker सुदेश आर्या जी ,लड़की कोई भी हो,गलत किसी के साथ हो आवाज तो सब को उठानी होगी

सुदेश आर्या बिल्कुल ! मैं पोस्ट डालूंगी ,,,,मगर चाहती हूं पहले ये जवाब दें कि आखिर ये है क्या ?? आज किसी और के साथ तो कल हमारे साथ होगा …औरत औरत की दुश्मन नहीं दोस्त होती है …यह मर्दों को बता देना है …

विष्णुप्रिया चौधरी शर्मनाक।

निधि जैन इतनी बात बढ़ी कैसे

सुदेश जी ताली दोनों हाथो से बजती है

सुदेश आर्या निधि जैन ! जो है सब सामने है !

डॉ. अपर्णा त्रिपाठी निधि जैन जी वही मैं कह रही. दोनो ही अपराधी हैं, दोनों ही सफ़ाई दे रहे.

Anjani Kumar ऐसे सरेआम / गलत बात / अब क्या अंतर आप में और रोड छाप फेसबुक हैंडलर में / या कहीं मार्केटिंग का कोई नया फंडा तो नहीं/”कोई आप पर ध्यान नहीं देता/ध्यान खीचना पड़ता है” शोभा डे

Archana Kumari सहमत हूँ मैं। गलती दोनों ने की है। देखिएगा कोई बस लड़की होने का फायदा न उठा ले। गलती दोनों ने की है तो सजा भी दोनों को मिलनी चाहिए

Rinku Chatterjee हैरान हूँ।

सोना श्री आखिर यह माजरा क्या हैं Mukesh Kumar Sinha सर जी ?

विजय कुमार सिंघल अगर अकाउंट फेक भी है तो भी ऐसी बातें नहीं करनी चाहिए.

Rajeev Bhutani फंसा—-

विजय कुमार सिंघल आप सार्वजनिक रूप से क्षमा मांग लीजिये.

Rajeev Bhutani समय रहते यदि आप सफाई पेश नही कर पाये तो अगला स्कीन शाट् के जरिये आपको ब्लैक मेल करेगा —बहुत सतर्क रहने की जरूरत है —फेक id की तुरंत complaint करे–

सुदेश आर्या फेक अकाउंट तो प्रोफाइल देखकर ही पता चल जाता है ! न भी पता चले तो ऐसी बात करने का कोई प्रश्न ही नहीं उठता ..इसका मतलब आप भी आनंद ले रहे हैं …

Rajeev Bhutani नही सुदेश जी ये बात नही मैने तो वजह बताई है –गलत तो 100 % वो है ही —

उद्दण्ड मार्तण्ड मणि बिक गयी “हमिंग बर्ड”… इसलिए “सर” कहलाना नहीं पसन्द करते हैं… देखा सुदेश दी…

Prashant Aryapriyam हे भगवान मौत दे दो। दोनों दोषी हैं।दोनों को सजा मिले।

रवि कुमार कुछ तो लोग कहेंगे लोगो का काम है कहना ।

Suresh Agarwal सावधानी बरते..ऐसी बाते सार्वजानिक करके क्या हासील

Rajeev Bhutani Mukesh Kumar Sinha माफी मांगो

सुदेश आर्या अगर आप बराबर के हकदार हैं और दोनों के मध्य कुछ था भी तो आपको पोस्ट डालनी ही नहीं चाहिए थी …..हमें उससे कोई लेना देना नहीं था….लेकिन ऐसा करके आपने बहुत ही गलत किया ….जानते नहीं थे कि यहां आपकी बहुत सारी अम्मा बैठी हैं ? क्यों अपनी व दूसरों की छिछालेदर करनी व करानी थी ? चलो इससे बहुत बहनों को सीख तो मिलेगी ….इसी कारण अन्य पुरूष मित्र भी शक के दायरे में आते हैं !!

सुभाष शर्मा विनम्रता से निवेदन है सुदेश जी कि महिलाओं की बकील न बनें क्यों कि मामला इनबॉक्स कन्वर्सेशन का है इसलिए पुरुष महिला के चश्मे से न देखकर उचित अनुचित आचरण तक ही रखें तो ज्यादा उचित होगा।

उद्दण्ड मार्तण्ड मणि “सिन्हा सर” ने सोचा था कि मित्र उनका साथ देंगें लेकिन अम्मियों ने उनकी ही क्लास लगा दी.

सुदेश आर्या मैं वकालत नहीं कर रही सुभाष शर्मा जी! एक बार मेरा कमेन्ट फिर से पढ़िये …मुझे ज्यादा दुख इस कारण हो रहा है कि मैं ऋचा को जानती भी नहीं और मुकेश जी मेरे अच्छे मित्र रहे हैं …शिकायत वहीं होती है जहां अपनापन होता है …औऱ मैं गलत लोगों की वकालत नहीं करती ….जो दिख रहा है क्या उसे आप नहीं देख पा रहे तो अफसोस है …frown emoticon

उद्दण्ड मार्तण्ड मणि अगर “सिन्हा सर” सफाई नहीं देगें तो उन्हें ब्लॉक कर दिया जाए। वरना सफाई दे…

सुदेश आर्या सफाई दें न दें मैं तो ब्लॉक कर ही रही हूं …साथ में उनके चाहने वालों को भी ..

उद्दण्ड मार्तण्ड मणि और सबसे अच्छी बात है शुरू से लेकर आखिर तक की पूरी चैट डाल दे। फैसला खुद ब खुद हो जायगा. पहले पूरा मामला तो देखा जाय मैं तब ब्लॉक करुँगी. दोनों ने जो स्क्रीन शॉट दिये वो अपनी अपनी गलती छुपाई और दुसरे की गलत बातो को सर्वजनिक किया.

Rajesh Shrivastava मित्रो एक तरफ़ा फैसला मत कीजिये मुकेश जी एक सुलझे हुए इंसान हैं पहले उनकी बात सुनिए फिर किसी के बारे में निर्धारण कीजिये

Samar Anarya स्त्री पुरुष संबंधों में चुहल कह लें, फ़्लर्टिंग कह लें, वह भी होता ही है। मैं खुद चैट क्या कितनी दोस्तों को जानेमन कहके पब्लिक पोस्ट लगाता रहता हूँ पर बिना सहमति के नहीं। रश्मि ऋचा सिंह की बात में वह चुहल दिख रही है पर फिर ‘किस’ माँगने का सीधा नकार भी। और इन जनाब ने ठीक पहले का हिस्सा ग़ायब कर दिया है जहाँ वह पहले से ब्लाक की धमकी दे चुकी हैं। सो पहले कुछ रहा भी हो तो भी न का मतलब न ही होता है न? पर ये साहब तो अड़े हुए हैं।

Robin Singh try kar rahe honge .. kabhi kabhi galti se galat number daayal ho jaata hai .. maanga hee to tha .. bchara uski stithi samjo mili bhee nahi aur badnaam ho gaye.


पूरे प्रकरण को जानने के लिए इसे पढ़ें:

‘हमिंग बर्ड’ वाले मुकेश कुमार सिन्हा की कविता क्या पसन्द कर ली, वह ‘किस’ मांगने लगा!

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *