एक किताब उनके लिए जिन्हें जबलपुर से प्यार है!

दिनेश चौधरी-

‘शहरनामा जबलपुर’ पर ज्ञानजी… ज्ञानजी से ‘शहरनामा जबलपुर’ की भूमिका लिखने का आग्रह करना मेरे लिए कठिन था। बोलने-बतियाने में अब भी संकोच होता है। वे हमेशा सहज रहे और अपन ही डरते रहे। पहले परिचय के साथ जब उनसे यह बात कही तो उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा, “यह तो मेरे लिए कॉम्पलीमेंट नहीं हुआ।” बहरहाल, किताब की भूमिका लिखने के आग्रह को उन्होंने उदारता के साथ स्वीकार किया। मेरे लिए यह भी हैरानी की बात थी कि किताब के कुछ हिस्सों को उन्होंने पहले ही पढ़ रखा था।

आवरण में किताब की भूमिका का एक अंश है :

“हर व्यक्ति जीवन में एक बार अपना शहर चुनता है। दिनेश चौधरी ने जबलपुर को चुना। छत्तीसगढ़ के शहरों का भी अपना वैभव है, पर उन्होंने जबलपुर को चुना। यहाँ बाहर से आने वाला गुम हो जाता है, समा जाता है। यहाँ लोग धंस के रहते हैं, शायद इसी से धांसू शब्द बना है। दिनेश जी जबलपुरिया मिज़ाज के प्रेमी हो गये। दिनेश चौधरी की किताब जबलपुर में उगने वाले यादगार लोगों से बनाया गया कोलाज़ है। ‘बना रहे बनारस’, ‘सुब्हे लखनऊ’, ‘सिटी ऑफ़ जाय’, ‘लास्ट बैंग्लो’ जैसी अनेक किताबें हैं, पर शहरनामा, जबलपुर पर पहली शानदार कोशिश है।”

यह किताब जबलपुरिया मिजाज, भेड़ाघाट के सौंदर्य, एम्पायर की धरोहर, गुरन्दी बाज़ार की चमक और मालवीय चौक की पटेबाजी की खबर लेती है। जबलपुर को उसकी अलग पहचान दिलाने वाली शख्सियतें भी हैं। सभी नहीं हैं। जो छूट गए हैं, उन पर आगे काम करने का नेक इरादा है।


संजय जोशी-

दिनेश चौधरी जी को बहुत बधाई। सभी पाठक बंधुओं से अनुरोध है कि इस किताब की पेपरबैक प्रतिके लिए 275 रूपये और साथ में डाक खर्च व पैकिंग के 40 रुपये यानी कुल 315 रुपये नवारुण के खाते पर जमा कर दें . यदि आप यह राशि 5 जनवरी या उससे पहले जमा कर रहे हैं तो एडवांस आर्डर पर 50 रुपये की आकर्षक छूट भी मिलेगी. इस तरह आपको कुल 225 रुपये ही जमा करने होंगे.

किताब 182 पृष्ठों की है जिसमें कुल 21 अध्याय हैं. हर अध्याय में युवा कलाकार गुल पहराज का रेखांकन भी है . किताब का आवरण चित्र जबलपुर के युवा छायाकार मेहुल यादव का है जबकि इसके आवरण का डिजाइन सियाही स्टूडियो ने तैयार किया है . किताब की भूमिका मशहूर कथाकार और पहल पत्रिका के सम्पादक ज्ञानरंजन जी ने लिखी है. खाते का विवरण इस तरह है :

Account name : Sanjay Joshi
Account number : 30008505658
Bank : SBI
IFSC : SBIN0004326
Branch : Sector 15, Vasundhara
Ghaziabad – 201012

Paytm and Google Pe No. 9811577426

अपनी प्रति बुक करके भुगतान का स्क्रीन शॉट और अपना नाम व पता 9811577426 या 9990234750 पर भेज दें . किताब जनवरी के दूसरे सप्ताह से भेजी जायेगी. –

संजय जोशी , नवारुण के लिए



भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Leave a Reply

Your email address will not be published.

*

code